ब्रेकिंग न्यूज़
मोतिहारी के केसरिया से दो गिरफ्तार, लोकलमेड कट्टा व कारतूस जब्तभारतीय तट रक्षक जहाज समुद्र पहरेदार ब्रुनेई के मुआरा बंदरगाह पर पहुंचामोतिहारी निवासी तीन लाख के इनामी राहुल को दिल्ली स्पेशल ब्रांच की पुलिस ने मुठभेड़ करके दबोचापूर्व केन्द्रीय कृषि कल्याणमंत्री राधामोहन सिंह का बीजेपी से पूर्वी चम्पारण से टिकट कंफर्मपूर्व केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री सांसद राधामोहन सिंह विभिन्न योजनाओं का उद्घाटन व शिलान्यास करेंगेभारत की राष्ट्रपति, मॉरीशस में; राष्ट्रपति रूपुन और प्रधानमंत्री जुगनाथ से मुलाकात कीकोयला सेक्टर में 2030 तक नवीकरणीय ऊर्जा क्षमता को 9 गीगावॉट से अधिक तक बढ़ाने का लक्ष्य तय कियाझारखंड को आज तीसरी वंदे भारत ट्रेन की मिली सौगात
बिहार
रक्सौल: रेड में तीन नाबालिग लड़कियों को किया रेस्क्यू
By Deshwani | Publish Date: 14/12/2023 10:17:42 PM
रक्सौल: रेड में तीन नाबालिग लड़कियों को किया रेस्क्यू

रक्सौल अनिल कुमार। आर्केस्ट्रा पर मानव तस्करी रोधी इकाई क्षेत्रक मुख्यालय एसएसबी बेतिया कार्यालय 47वीं वाहिनी सशस्त्र सीमा बल रक्सौल, मिशन मुक्ति फाउंडेशन, रेस्क्यू फाउंडेशन (दिल्ली), प्रयास जुबेनाइल एड सेंटर, चाइल्ड हेल्प लाइन रेस्क्यू एंड रिलीफ फाउंडेशन(प. बंगाल) जगदीशपुर पुलिस थाना, महिला पुलिस थाना बेतिया के द्वारा छापा मारा गया।

 
जिसमे जगदीशपुर थाना क्षेत्र के पैठिया गांव में संचालित  आर्केस्ट्रा से तीन नाबालिग लड़कियों को आर्केस्ट्रा से मुक्त कराया गया। 
 
 
 
 
 
एसएसबी एएचटीयू क्षेत्रक मुख्यालय बेतिया कार्यालय 47 वीं वाहिनी रक्सौल के मनोज कुमार शर्मा ने बताया कि मानव तस्करी रोकथाम और आर्केस्ट्रा में नाबालिग लड़कियों के शोषण की रोकथाम के लिए एनसीपीसीआर नई दिल्ली के सहयोग से "निर्भया सुरक्षित" के नाम से एक अभियान चलाया जा रहा है। 
डाइरेक्टर वीरेंद्र कुमार सिंह ने कहा कि बच्चों के विरुद्ध जो कार्य करेंगे टीम उनके विरुद्ध कार्य करेगी। 
 
 
 
 
 
 
काउंसिलिंग में पीड़िताओं ने बताया कि  वो बंगाल की रहने वाली हैं। जब आर्केस्ट्रा पर छापा मारा गया तब ये तीनो लड़कियों को किसी ने कहा कि भाग जाओ तो लड़कियों ने खेतो में भागना शुरू कर दिया फिर 47वीं वाहिनी एसएसबी रक्सौल और पुलिस की महिला कांस्टेबलों ने दौड़ के पकड़ा। 
 
 
 
 
 
 
फिर लड़कियों की काउंसिलिंग के लिए थाना लाया गया। जिससे समझा जा सके कि वो मानव तस्करी का शिकार हो कर बंगाल से बिहार कैसे आ गई। 
तीनों पीड़ित लड़िकयों का मेडिकल करा कर  पीडिता लड़कियों को आश्रय गृह भेजा गया।
 
इस रेस्क्यू टीम में इंस्पेक्टर मनोज कुमार शर्मा, सहायक एसआई अनिल शर्मा, कांस्टेबल ड्रावर बिजेंद्र लाल, कांस्टेबल अरुण कुमार के कांस्टेबल रेशमा, कांस्टेबल टिनू कुमार।
 
 
 
 
 
बेतिया पुलिस थाना इंस्पेक्टर अंजेश कुमार व  महिला थाना बेतिया से सब इंस्पेक्टर सुधा कुमारी व अन्य पुलिस बल
मिशन मुक्ति फॉउंडेशन से डाइरेक्टर वीरेंद्र कुमार, 
रेस्क्यू  फॉउंडेशन अक्षय पांडे , अक्षय पांडे जाँच पदाधिकारी 
प्रयास जुवेनाइल से पवन कुमार अमित कुमार, अनुप्रिया विलियम,
चाइल्ड लाइन बेतिया से आलोक कुमार, हेमंत यादव
थाना जगदीशपुर से इंस्पेक्टर राजू कुमार मिश्रा व पुलिस बल आदि थे।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS