ब्रेकिंग न्यूज़
अत्याधुनिक हथियार बरामदगी मामले में कोटवा निवासी कुख्यात कुणाल को आजीवन कारावास, 42 हजार रुपये का अर्थदंड भी मिलाइस बार का चुनाव मेरे लिए चुनाव है चुनौती नहीं: राधा मोहन सिंहMotihati: सांसद राधामोहन सिंह ने नामांकन दाखिल किया, कहा-मैं तो मोदी के मंदिर का पुजारीमोतिहारी के केसरिया से दो गिरफ्तार, लोकलमेड कट्टा व कारतूस जब्तभारतीय तट रक्षक जहाज समुद्र पहरेदार ब्रुनेई के मुआरा बंदरगाह पर पहुंचामोतिहारी निवासी तीन लाख के इनामी राहुल को दिल्ली स्पेशल ब्रांच की पुलिस ने मुठभेड़ करके दबोचापूर्व केन्द्रीय कृषि कल्याणमंत्री राधामोहन सिंह का बीजेपी से पूर्वी चम्पारण से टिकट कंफर्मपूर्व केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री सांसद राधामोहन सिंह विभिन्न योजनाओं का उद्घाटन व शिलान्यास करेंगे
बिहार
एके 47 मामले में मोतिहारी के कुड़िया निवासी कुख्यात कुणाल को आजीवन कारावास, 42 हजार रुपये का अर्थदंड भी मिला
By Deshwani | Publish Date: 8/5/2024 11:01:15 PM
एके 47  मामले में मोतिहारी के कुड़िया निवासी कुख्यात कुणाल को आजीवन कारावास, 42 हजार रुपये का अर्थदंड भी मिला

मोतिहारी : जिला एवम सत्र न्यायाधीश देवराज त्रिपाठी ने अत्याधुनिक हथियार बरामदगी मामले में दोषी पाते हुए जिला के कुख्यात कुणाल कुमार सिंह को आजीवन कारावास की सजा सुनायी हैं। 

वहीं विभिन्न धाराओं में 42 हजार रुपए अर्थ दंड भी दिया गया है। अर्थ दंड नहीं देने पर अतिरिक्त सजा काटनी होगी। 

पूर्वी चम्पारण में पिपराकोठी थाना के कुड़िया बंगरी निवासी अशर्फी सिंह के पुत्र कुणाल कुमार सिंह को उपरोक्त सदा हुई है। 

मामले में पिपराकोठी के तत्कालीन एसआई मनोज कुमार सिंह ने पिपराकोठी थाना कांड संख्या 63/2023 दर्ज कराते हुए कहा था कि 15 मार्च 2023 की संध्या पुलिस अधीक्षक को सूचना मिली कि कुख्यात कुणाल कुमार सिंह बड़ी अपराधिक घटनाओं को अंजाम देने के लिए अत्याधुनिक हथियारों के साथ अपने साथियों सहित अपने घर पर एकत्रित हुआ है। 

पुलिस अधीक्षक के निर्देशानुसार एएसपी शरदचंद के नेतृत्व में पुलिस टीम का गठन कर कुणाल सिंह के घर पर छापेमारी की गई। जहां कुणाल कुमार सिंह पकड़ा गया तथा उसके अन्य साथी पुलिस की भनक लगते ही फरार हो गए। 

कुणाल कुमार सिंह के पास से पुलिस ने नाइन एमएम की लोडेड पिस्टल, मैगजीन, मोबाइल, वाकी टॉकी बरामद किया। 
वहीं घर में रखा एक बैग जो कंबल से ढाका हुआ था, उसमें से पुलिस ने एक एके 47 जिसमें 25 गोली भरा मैगजीन भी था।
गोली भरे मैगजिन सहित एके 47 बरामद की तथा दरवाजे पर खड़ी उसकी बुलेट मोटरसाइकिल भी पुलिस ने जब्त की। सत्रवाद संख्या 1028/2023 विचारण के दौरान अपर लोक अभियोजक सुभाष चंद्र यादव ने 11 गवाहों को न्यायालय में प्रस्तुत कर अभियोजन पक्ष रखा। 

वहीं बचाव पक्ष की ओर से वरीय अधिवक्ता कन्हैया प्रसाद सिंह ने जोरदार दलीलें पेश की थी। न्यायाधीश ने अपने निर्णय में अभियुक्त कुणाल कुमार सिंह के विरुद्ध 21 अपराधिक मामले होने की चर्चा की है। 

7 मई को कुणाल कुमार सिंह को न्यायालय ने दोषी करार दिया था। आज सजा के विंदु पर सुनवाई करते हुए आधा दर्जन आपराधिक व आर्म्स एक्ट मामले में दोषी पाते हुए उक्त सजा सुनायी।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS