ब्रेकिंग न्यूज़
मोतिहारी के केसरिया से दो गिरफ्तार, लोकलमेड कट्टा व कारतूस जब्तभारतीय तट रक्षक जहाज समुद्र पहरेदार ब्रुनेई के मुआरा बंदरगाह पर पहुंचामोतिहारी निवासी तीन लाख के इनामी राहुल को दिल्ली स्पेशल ब्रांच की पुलिस ने मुठभेड़ करके दबोचापूर्व केन्द्रीय कृषि कल्याणमंत्री राधामोहन सिंह का बीजेपी से पूर्वी चम्पारण से टिकट कंफर्मपूर्व केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री सांसद राधामोहन सिंह विभिन्न योजनाओं का उद्घाटन व शिलान्यास करेंगेभारत की राष्ट्रपति, मॉरीशस में; राष्ट्रपति रूपुन और प्रधानमंत्री जुगनाथ से मुलाकात कीकोयला सेक्टर में 2030 तक नवीकरणीय ऊर्जा क्षमता को 9 गीगावॉट से अधिक तक बढ़ाने का लक्ष्य तय कियाझारखंड को आज तीसरी वंदे भारत ट्रेन की मिली सौगात
बिहार
रक्सौल अनुमंडल प्रशासन द्वारा जातीय गणना के दूसरे चरण का किया गया आगाज
By Deshwani | Publish Date: 11/4/2023 10:01:22 PM
रक्सौल अनुमंडल प्रशासन द्वारा जातीय गणना के दूसरे चरण का किया गया आगाज

● रक्सौल अनुमंडल प्रशासन द्वारा जातीय गणना के दूसरे चरण का किया गया आगाज : मुख्य पथ पर हुआ कार्यक्रम का आयोजन

 
● छात्रों ने नुक्कड़ नाटक के माध्यम से लोगों को किया जागरूक
 
● जातीय गणना जागरूकता में उत्कृष्ट योगदान देने वाले व्यक्तियों को किया गया सम्मानित 
 
रक्सौल अनिल कुमार। जातीय गणना में देकर अपना योगदान, मिलकर करें नए बिहार का निर्माण' इस नारे के साथ रक्सौल अनुमंडल प्रशासन ने आगामी 15 अप्रैल से आरंभ होने वाली जातीय गणना के दूसरे चरण का आगाज किया। इस अवसर पर छात्रों द्वारा दूरसंचार कार्यालय के समीप एक नुक्कड़ नाटक का आयोजन किया गया। नाटक के माध्यम से छात्र कलाकारों ने जातीय गणना से लोगों को होने वाले फायदों के बारे में बताया और गणना में लोगों से बढ़चढ़ कर भाग लेने की अपील की।
 
 
 
 
इस मौके पर रक्सौल एसडीएम सुश्री आरती ने कहा कि बिहार में जातीय गणना के पहले चरण में घरों की गिनती का काम पूरा कर लिया गया है। दूसरे चरण में जातीय गणना का काम 15 अप्रैल से शुरू होने जा रहा है। उन्होंने सभी लोगों से इस गणना कार्य में सहयोग करने की अपील की।
 
 
 
 
 
इस मौके पर बीडीओ संदीप सौरभ ने कहा कि हम सब मिलकर इस जातीय गणना के लाभ को समझें और अपने आसपास के लोगों को भी समझाने का प्रयत्न करें।
नगर परिषद ब्रांड एम्बेसडर डॉ. स्वयंभू शलभ ने कहा कि इस गणना से सामाजिक, आर्थिक, सांस्कृतिक व जनसंख्या आदि से संबंधित आँकड़ों के जरिये बिहार की विविधता और इससे जुड़े अन्य पहलुओं का अध्ययन करने का अवसर मिलेगा। 
नगर परिषद कार्यपालक पदाधिकारी डॉ. मनीष कुमार ने कहा इस अध्ययन से लोगों की सामाजिक, आर्थिक और शैक्षिक स्थिति का आकलन होगा, उनके उत्थान के अवसर बढ़ेंगे।
 
 
 
 
 
अंचलाधिकारी विजय कुमार ने कहा कि इस गणना में व्यक्ति की आयु, लिंग, जाति, धर्म, शिक्षा, कार्य, आवास, भूमि, आय आदि का विवरण उपलब्ध होगा। यह गणना जनहित में जरूरी है। 
सीडीपीओ रीमा कुमारी व प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी रंजना कुमारी ने लोगों से गणना कार्य में लगे कर्मियों को सही जानकारी देकर उनका सहयोग करने की अपील की।  
 
 
 
 
 
नीतीश प्रियदर्शी व डॉ. बीरेंद्र कुमार के निर्देशन में तैयार इस नुक्कड़ नाटक में शामिल छात्र कलाकार समेत जातीय गणना जागरूकता में उत्कृष्ट योगदान देने वाले व्यक्तियों को एसडीएम ने प्रशस्ति पत्र एवं मेमेंटो देकर सम्मानित किया। कार्यक्रम का संचालन डॉ. स्वयंभू शलभ ने किया। कार्यक्रम में बड़ी संख्या में नगरवासी उपस्थित थे।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS