बिहार
जेपी सेतु पर टेम्पो दुर्घटना में फल व्यवसायी नदी में गिरा, खोजने में लगी एसडीआरएफ टीम
By Deshwani | Publish Date: 6/8/2018 7:55:32 PM
जेपी सेतु पर टेम्पो दुर्घटना में फल व्यवसायी नदी में गिरा, खोजने में लगी एसडीआरएफ टीम

दुर्घटना के बाद जेपी पुल पर लगी लोगों की भीड़। फोटो-देशवाणी।

छपरा। गणपत आर्यन। देशवाणी न्यूज नेटवर्क।

सोनपुर(सारण)। थाना क्षेत्र के पहलेजा-दीघा के बीच स्थित जेपी सेतु पर सोमवार को फिर एक टेम्पो दुर्घटना में फल व्यवसायी नदी में गिर गया। जिसे ढूंढने में एसडीआरएफ की टीम जुटी हुई है। फल व्यवसायी पटना के शाहपुर निवासी रमेश चौधरी बताया गया है। रविवार को भी एक युवक ने जेपी सेतु ने गंगा नदी में छलांग लगा दी थी। जिसे अब तक नहीं खोजा जा सका है।
बताया जाता है कि हाजीपुर से फल व्यवसायी माल वाहक टेम्पो से अमरूद लेकर पटना जा रहा था। इसी दौरान तेज रफ्तार टेम्पो चालक दूसरे वाहन को ओवरटेक कर रहा था। इसी दौरान टेम्पो के चालक ने अपना संतुलन खो दिया जिससे टेम्पो दुर्घटनाग्रस्त हो गयी। फल व्यवसायी टेम्पो के ऊपर सवार था। टेम्पो दुर्घटनाग्रस्त होने से फल व्यवसायी उछलकर नदी में जा गिरा। टेम्पो के केबिन में चालक समेत तीन लोग सवार थे। दुर्घटना 22 नंबर पाया के पास की है।

घटना स्थल पर पहुंचे पुलिस पदाधिकारी, एसडीआरएफ टीम को बुलाया-

घटना की सूचना पाकर मौके पर सोनपुर थानाध्यक्ष राम सिध्देश्वर आजाद और एसडीपीओ पंकज कुमार शर्मा पहुंचे। आनन फानन में एसडीआरएफ की टीम को बुलाया गया। एसडीआरएफ की टीम ने गंगा नदी में गिरे फल व्यवसायी की तलाश शुरू कर दी है। इस घटना के बाद जेपी सेतु पर काफी देर तक जाम लग गया। दुर्घटनाग्रस्त टेम्पो को हटाने के बाद आवागमन बहाल हो सका। नदी में गिरा फल व्यवसायी पटना जिले के शाहपुर थाना क्षेत्र के दाउदपुर गांव निवासी रमेश चौधरी के पुत्र राजेश चौधरी बताया जाता है। पुलिस ने दुर्घटनाग्रस्त टेम्पो को जब्त कर लिया है। थानाधयक्ष राम सिद्धेश्वर आजाद ने बताया कि टेम्पो के केबिन में ड्राईवर सहित तीन लोग सवार थे। जबकि एक व्यक्ति टेम्पो की छत पर बैठा हुआ था। टेम्पो के दुर्घटना ग्रस्त होते ही वह नदी मे जा गिरा। नदी में गिरे अमरूद व्यवसायी के खोज बीन के लिए एस.डी.आर.एफ. की टीम लगातार प्रयास कर रही है। खबर लिखे जाने तक शव बरामद नहीं हो सका है।
  
बताते चलें कि रविवार को भी एक युवक ने गंगा नदी में छलांग लगा दी थी जिसका शव आज तक बरामद नहीं हो सका है। गंगा नदी में आयी उफान के कारण शव बह जाने की आशंका है।

 

image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS