ब्रेकिंग न्यूज़
बिहार
आत्मनिर्भर भारत के लिए सामाजिक समावेश, उपलब्धियां और संभावनाएं पर आयोजित होने वाले सेमिनार जुटेंगे नेता, नौकरशाह और शिक्षाविद
By Deshwani | Publish Date: 26/8/2021 9:26:59 PM
आत्मनिर्भर भारत के लिए सामाजिक समावेश, उपलब्धियां और संभावनाएं पर आयोजित होने वाले सेमिनार जुटेंगे नेता, नौकरशाह और शिक्षाविद

पटना हमारे भविष्य के विकास के सामाजिक पहलुओं को प्रभावित करने वाले प्रमुख मुद्दों को सामने लाने व आत्मनिर्भर भारत के लिए ‘सामाजिक समावेश, उपलब्धियां और संभावनाएं’ विषय पर एक अंतरराष्ट्रीय समूह अम्बेडकर ग्लोबल डॉट कॉम द्वारा 28 अगस्‍त को ए एन सिन्हा इंस्टीट्यूट ऑफ सोशल साइंसेज, गांधी मैदान, पटना में एक सेमिनार सह पैनल डिस्‍कशन का आयो‍जन किया जा रहा है, जिसमें राज्य के प्रतिष्ठित शिक्षाविद, सामाजिक कार्यकर्ता, बुद्धिजीवी, नौकरशाह और मीडिया की हस्तियां शामिल होंगे।

 
 
 
 
 
इस कार्यक्रम में मुख्‍य अतिथि श्री तारकिशारे प्रसाद, उप मुख्‍यमंत्री, बिहार सरकार और श्रीमती रेणु देवी उप मुख्‍यमंत्री, बिहार सरकार होंगी। स्‍पेशल गेस्‍ट शाहनवाज हुसैन, उद्योग मंत्री, बिहार सरकार और जीवेश मिश्रा, श्रम संसाधन मंत्री, बिहार सरकार होंगे, वहीं गेस्‍ट ऑफ ऑनर भारतीय जनता पार्टी के नेशनल स्‍पोकस्‍पर्सन डॉ गुरू प्रकाश पासवान होंगे। इस कार्यक्रम के की पैनल में श्रीमती रेणु देवी उप मुख्‍यमंत्री, बिहार सरकार, जीवेश मिश्रा, श्रम संसाधन मंत्री, बिहार सरकार, भारतीय जनता पार्टी के नेशनल स्‍पोकस्‍पर्सन डॉ गुरू प्रकाश पासवान, विधान पार्षद दिवेश कुमार, बिहार भाजपा के सचिव सुशील कुमार चौधरी, बिहार सरकार के स्‍पेशल सेक्रेटरी आईपीएस विकास वैभव, पटना विवि के एसोसिएट प्रोफेसर दीप्ति कुमारी, इंटरनेशनल स्‍पोर्ट्स वुमन बबिता वत्‍सर्गी और बिहार पब्लिक सर्विसे कमीशन के एक्‍स मेंबर्स शक्ति सामांत हैं।    
 
 
 
 
वहीं, कार्यक्रम को लेकर अम्बेडकर ग्लोबल डॉट कॉम के निदेशक रवि एस चंद ने कहा कि, "अधिकांश सामाजिक और राजनीतिक आंदोलन बिहार की भूमि से शुरू हुए - चाहे चंपारण से गांधी का आंदोलन हो या जेपी आंदोलन या भगवान बुद्ध और भगवान महावीर द्वारा सुधार। हमने महसूस किया कि विविधता और समावेश के मामले में एक बड़ा अंतर जब बिहार के लोगों के साथ-साथ विदेशों में रहने और काम करने की बात आती है। जीवन के सभी क्षेत्रों में कमजोर वर्गों और महिलाओं के अधिक प्रतिनिधित्व की आवश्यकता है - चाहे वह मीडिया हो, मनोरंजन हो, खेल हो, निजी हो नौकरी और व्यवसाय"। रवि ने कहा कि यह विभिन्न हितधारकों को एक मंच पर एक साथ लाने के उद्देश्य से एक पहल है।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS