ब्रेकिंग न्यूज़
भारत सरकार की ओर से हर घर तिरंगा कार्यक्रम का आयोजनप्रधानमंत्री ने पारसी नव वर्ष पर लोगों को बधाई दीडाकघरों के माध्यम से दस दिन की अवधि में एक करोड़ से अधिक राष्ट्रीय ध्वज खरीदे गयेमोतिहारी कस्टम के दो हवलदारों को केन्द्रीय जांच ब्यूरो ने पकड़ा, 20 हजार रुपये घूस लेने का आरोपप्रधानमंत्री ने राष्ट्रमंडल खेल 2022 के भारतीय दल का अभिवादन कियाएनएमडीसी और फिक्की भारतीय खनिज एवं धातु उद्योग पर सम्मेलन का आयोजन करेंगेबिहार: आज बादल गरजने के साथ ठनका गिरने की आशंका, तीन जिलों में भारी बारिश का अलर्टमोतिहारी, हरसिद्धि के जागापाकड़ में महावीरी झंडा के दौरान आर्केस्ट्रा में फायरिंग, दो घायल, प्राथमिकी दर्ज
बिहार
बिना राशन कार्डधारी 30 लाख परिवारों को राशन मुहैया कराने को बिहार सरकार ने केन्द्र से मांगा पचहत्तर हजार मीट्रिक टन खाद्यान्न
By Deshwani | Publish Date: 30/4/2020 5:34:45 PM
बिना राशन कार्डधारी 30 लाख परिवारों को राशन मुहैया कराने को बिहार सरकार ने केन्द्र से मांगा पचहत्तर हजार मीट्रिक टन खाद्यान्न

पटना। बिहार के बिना राशन कार्डधारी 30 लाख परिवारों को राशन मुहैया कराने को बिहार सरकार ने केन्द्र से मांग की है। बिहार सरकार ने राज्य में उन 30 लाख परिवारों को चिन्हित किया है। जिनके पास राशन कार्ड नहीं हैं। लिहाजा वे जरूरतमंद हैं और उन्हें राशन उपलब्ध कराना जरूरी है।

इसीलिए बिहार सरकार के खाद्य और उपभोक्ता विभाग के मंत्री मदन सहनी ने केन्द्र सरकार को इस संबंध में एक पत्र लिखा है। राज्य सरकार के मंत्री ने केन्द्र सरकार को बताया है कि उन्होंने 30 लाख वैसे परिवारों को चिन्हित किया है। जिन्हें राशन की आवश्यकता है। इसके लिए उन्होंने पचहत्तर हजार मीट्रिक टन खाद्यान्न की मांग की है।उन्होने कहा कि खाद्यान्न उपलब्ध होने के तत्काल बाद एसे परिवारों के बीच अनाज का वितरण शुरू कर दिया जायेगा। 

 खाद्य और उपभोक्ता विभाग के मंत्री मदन सहनी ने कहा कि बिना राशन कार्ड वाले लगभग तीस लाख परिवारों की पहचान की गई है। जिन्हें अनाज उपलब्ध कराने के लिये केन्द्र को पत्र लिखा गया है। 
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS