ब्रेकिंग न्यूज़
शीला दीक्षित के निधन पर राष्ट्रपति, उप राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री सहित अन्य नेताओं ने जताया शोकदिल्ली की पूर्व सीएम शीला दीक्षित का निधन, कई दिनों से थीं बीमारराष्ट्रपति ने उत्तर प्रदेश-बिहार सहित छह राज्यों के राज्यपाल किए नियुक्त, बिहार के राज्यपाल बने फागु चौहानचोटिल मुर्तजा श्रीलंका के खिलाफ एकदिनी श्रृंखला से बाहर, तमीम इकबाल टीम का संभालेंगे कमानअल्जीरिया ने जीता अफ्रीका कप ऑफ नेशंस का खिताब, फाइनल में सेनेगल को दी मातब्रिटिश ऑयल टैंकर पर ईरान ने किया कब्जा, 23 क्रू मेंबर में 18 भारतीय भी शामिलरक्षा मंत्री राजनाथ सिंह पहुंचे द्रास, करगिल युद्ध स्मारक में शहीद जवानों को दी श्रद्धाजंलिसोनभद्र हत्याकांड: पीड़ितों से मिलीं प्रियंका गांधी, गले लगकर रो पड़ीं महिलाएं
बिहार
गोलियों की तड़तड़ाहट से थर्राया दरियापुर बालू घाट
By Deshwani | Publish Date: 23/3/2017 5:51:50 PM
गोलियों की तड़तड़ाहट से थर्राया दरियापुर बालू घाट

नवादा । बिहार में नवादा जिले के वारिसलीगंज थाना क्षेत्र अन्तर्गत दरियापुर बालू घाट एक बार पुनः गोलियों की तड़तड़ाहट से थर्रा गया । अपराधियों ने बालू घाट पर बालू उत्खनन कर रहे पोपलेन मशीन को आग के हवाले कर दिया । मशीन जलकर राख हो गया । इसके बाद अपराधियोंियों का बौछार करते हुए वहां से मुंशी को पिटायी करते हुए दरियापुर गांव के समीप रहे बालू कार्यालय पर कई राउड गोली दागते हुए चलते बने। पुलिस सूत्रों ने यहां बताया कि बुधवार की देर रात्रि 20-25 की संख्या में हथियार से लैस रहे अपराधियों ने बालू घाट पर फायरिंग करना शुरू कर दिया । गोली चलते देख वहां रहे चालक भाग खड़ा हुआ।
 अपराधियों ने बालू घाट पर रहे पोपलेन मशीन में आग लगा दी। जिससे मशीन जलकर राख हो गया। घटना की सूचना मिलते ही वारिसलीगंज थानाध्यक्ष इंसपेक्टर मृत्युजंय प्रसाद सिंह, पुअनि राजेश कुमार, सपुअनि शैलेन्द्र कुमार सिंह सैप जवान के साथ बालू घाट पहुंच घटना की जानकारी प्राप्त किया। तत्पश्ष्चात अपराधियों को गिरफ्तारी के लिए विभिन्न स्थानों पर छापामारी की लेकिन पुलिस का हाथ खाली रहा। संवाद प्रेषण तक प्राथमिकी दर्ज नहीं हो सकी हैं। दरियापुर बालू घाट पर रंगदारी को लेकर बुधवार की रात हुयी गोलीबारी कोई पहली घटना नहीं है । इस घटना के पहले भी दो वार घाट पर गोलीवारी की घटना घट चुकी है । इसी कड़ी में वारिसलीगंज रेक प्वाइन्ट पर वर्चस्व को लेकर बमबाजी तथा गोलीवारी की घटना दो माह पूर्व घट चुकी हैं । 
लगातार हो रही गोलीवारी को लेकर थाना क्षेत्र के लोगों में दहशत व्याप्त हो गया है । किसी अनहोनी घटना घटने की संभावना लोग व्यक्त कर रहे हैं। दो माह पूर्व दरियापुर बालू घाट पर घटी गोलीवारी की घटना के बाद आरक्षी अधीक्षक (एसपी) विकास वर्मन के निर्देश पर वारिसलीगंज थानाध्यक्ष ने एक पुलिस पदाधिकारी के साथ पुलिस की तैनाती की है। लेकिन सुरक्षा की दृष्टि से रात्रि में पुलिस बालू घाट पर नहीं रहकर लगभग 3 किलोमीटर की दूरी पर दरियापुर वेसिक स्कूल चले जाते है तथा वही से बालू घाट की निगरानी करती है ।
 सूत्रो की माने तो पुलिस को बालू घाट पर रहने के लिए कोई मुकम्मल व्यवस्था पुलिस प्रशासन की ओर से नहीं की गयी है। वहीँ बालू घाट की सुरक्षा के लिए उपर्युक्त पुलिस बल की भी तैनाती नहीं की गयी हैं। मात्र 3 जवान और एक एएसआई ही बालू घाट की सुरक्षा में लगाया गया है। जहां 25-30 की संख्या में अत्याधुनिक हथियार से लैस अपराधियों के सामने पुलिस बौना साबित हो रही है।
 एसडीपीओ रामपुकार सिंह ने इस बावत बताया कि बालू घाट पर अपराधियों ने फायरिंग करते हुए पोपलेन मशीन में आग लगा दी है। पुलिस मामले की छानबीन में जुट गयी है। अपराधियों को गिरफ्तार करने के लिए सघन छापामारी जारी है । अपराधी बख्से नहीं जाएंगे। इसके पहले वाली घटना में शामिल अपराधियों को गिरफ्तार कर जेल भेजा जा चुका हैं । 
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS