ब्रेकिंग न्यूज़
अत्याधुनिक हथियार बरामदगी मामले में कोटवा निवासी कुख्यात कुणाल को आजीवन कारावास, 42 हजार रुपये का अर्थदंड भी मिलाइस बार का चुनाव मेरे लिए चुनाव है चुनौती नहीं: राधा मोहन सिंहMotihati: सांसद राधामोहन सिंह ने नामांकन दाखिल किया, कहा-मैं तो मोदी के मंदिर का पुजारीमोतिहारी के केसरिया से दो गिरफ्तार, लोकलमेड कट्टा व कारतूस जब्तभारतीय तट रक्षक जहाज समुद्र पहरेदार ब्रुनेई के मुआरा बंदरगाह पर पहुंचामोतिहारी निवासी तीन लाख के इनामी राहुल को दिल्ली स्पेशल ब्रांच की पुलिस ने मुठभेड़ करके दबोचापूर्व केन्द्रीय कृषि कल्याणमंत्री राधामोहन सिंह का बीजेपी से पूर्वी चम्पारण से टिकट कंफर्मपूर्व केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री सांसद राधामोहन सिंह विभिन्न योजनाओं का उद्घाटन व शिलान्यास करेंगे
बिहार
मुजफ्फरपुर में जहरीली चाय पीने से एक ही परिवार के चार लाेगों की मौत, मरने वालोें में दो बच्चे व एक महिला
By Deshwani | Publish Date: 13/1/2018 9:16:10 PM
मुजफ्फरपुर में जहरीली चाय पीने से एक ही परिवार के चार लाेगों की मौत, मरने वालोें में दो बच्चे व एक महिला

प्रतीकात्मक तस्वीर।

मुजफ्फरपुर। बिहार में मुजफ्फरपुर के पारु थाना क्षेत्र में जहरीली चाय पीने से एक ही परिवार के चार लोगों की मौत हो गयी। घटना पारु के वहदीनपुर की है। इस गांव के चंदन भगत के यहां शनिवार की सुबह चाय बनी थी जिसमें चाय पत्ती की जगह अनजाने में कीटनाशक डाल दी गयी। पारु थाना प्रभारी के अनुसार परिवार का मुखिया चंदन भगत 27 वर्ष उनकी पत्नी रेखा देवी 24 वर्ष, पुत्र संजीत कुमार 7 वर्ष व उनकी पुत्री चांदनी कुमारी की मौत हो गयी है। उनके अनुसार जब जहरीली चाय पीने के बाद चारों की तबीयत खराब होने लगी तब पीड़ितों को स्थानीय अस्पताल में ग्रामीणों द्वारा पहुंचाया गया। इलाज के दौरान एक-एक कर परिवार के चारों लाेगों की मौत हो गयी।  

पारू थाना क्षेत्र में जहरीली चाय पीने से एक ही परिवार के चार लोगों की मौत हो गई। मृतकों में माता-पिता और उनके पुत्र-पुत्री शामिल हैं। थाना प्रभारी दीपक कुमार ने बताया कि वहदीनपुर गांव के निवासी चंदन भगत के घर में सुबह चाय बनी थी। इसी दौरान चाय बनाने वाले ने चायपत्ती की जगह खेत में डाले जाने वाला कीटनाशक पदार्थ डाल दिया, जिससे चाय जहरीली हो गई।
उन्होंने बताया कि ग्रामीणों के मुताबिक, चाय पीने के बाद परिवार के सभी सदस्यों की तबीयत बिगड़ने लगी। आनन-फानन में ग्रामीणों ने सभी पीड़ितों को स्थानीय अस्पताल पहुंचाया, लेकिन इलाज के दौरान एक-एक कर चारों ने दम तोड़ दिया।
 
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS