बिहार
पर्यटन स्थल के रूप में विकसित होगा वेणुगढ़ टीला
By Deshwani | Publish Date: 9/4/2017 1:22:11 PM
पर्यटन स्थल के रूप में विकसित होगा वेणुगढ़ टीला

किशनगंज, (हि.स ) । महाभारत कालीन इतिहास को अपने अंदर समेटे बिहार में किशनगंज जिले के वेणुगढ़ टीला को पर्यटन स्थल के रूप में विकसित किया जाएगा। इसके लिए पूर्व में पर्यटन विभाग को जिला प्रशासन द्वारा प्रस्ताव भी भेजा चुका है। जब तक राज्य सरकार की ओर प्रस्ताव की स्वीकृति नहीं दी जाती है तब तक स्थानीय स्तर पर यानी मनरेगा योजना के तहत टीला के सौंदर्यीकरण व विकास के कार्य कराए जाएंगे। 

टीले के जमीन का सीमांकन कराने के साथ-साथ तालाब व मंदिर को विकसित कराया जाएगा । वेणुगढ़ टीला का जायजा लेने के बाद जिलाधिकारी ने उक्त बातें कही। जिलाधिकारी पंकज दीक्षित व पुलिस अधीक्षक राजीव मिश्र डाकपोखर पंचायत अंतर्गत ऐतिहासिक वेणुगढ़ टीला पहुंचे। इस दौरान अधिकारी द्वय वेणुगढ़ टीला का जायजा लेते हुए पौराणिक महत्वों के बारे में स्थानीय लोगों से जानाकरी ली। टीले पर अवस्थित विशाल वृक्ष,लाहुरि ईंट से बने अवशेष, वेणुगढ़ मंदिर,दोनों बड़े-बड़े तालाबों व टीले के आसपास डीएम व एसपी ने निरीक्षण किया । मौके पर मौजूद ग्रामीणों व जनप्रतिनिधियों से टीले की विस्तृत जानकारी ली। 
जिलाधिकारी ने बताया कि वेणुगढ़ टीला को पर्यटन स्थल घोषित करने का प्रस्ताव राज्य सरकार को भेजा गया है । वेणुगढ़ टीले की सरकारी भूमि का सर्वे कराया जाएगा। मौके पर ही जिलाधिकारी ने मनरेगा योजना के तहत तालाबों का सौंदर्यीकरण व वृक्षारोपण का निर्देश संबंधित पदाधिकारियों को दिया । टेढ़ागाछ प्रखंड के ऐतिहासिक वेणुगढ़ टीला 49.8 एकड़ में फैला हुआ है। इस ऐतिहासिक टीला पर हर वर्ष 15 अप्रैल को वैशाखी के दिन मेला लगता है । यहां की विशेषता है कि हिन्दू-मुस्लिम दोनों समुदाय के लोग हर वर्ष मन्नत मांगने यहां आते हैं । जिलाधिकारी व पुलिस अधीक्षक के आगमन पर इलाके के लोगों को उम्मीद जगी है।स्थानीय लोगों का कहना है कि यह क्षेत्र पर्यटन स्थल में विकसित होने से टेढ़ागाछ को राज्य स्तर पर प्रसिद्धि मिलेगी तथा खोया हुआ अस्तित्व फिर लौट जाएगा।इसके साथ ही टेढ़ागाछ प्रखंड के लाखों लोगों का सपना भी पूरा होगा।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS