ब्रेकिंग न्यूज़
आईएसआईएस के इशारे पर सात महीनों से कश्‍मीर में आतंकी हमले करा रहा था 'दाऊद'मुशर्रफ ने एपीएमएल प्रमुख पद से दिया इस्तीफासामने आई युवकों को गले लगकर ईद की बधाई देने वाली युवती, बोली-'पब्लिसिटी के लिए नहीं किया'यूपी में महागठबंधन पर फंसा पेंच, कांग्रेस ने सभी 80 लोकसभा सीटों पर लड‍़ने को कसी कमरपाकिस्तान से आए 90 हिंदुओं को मिली भारतीय नागरिकता, बताई आपबीतीगुजरात में नौवीं कक्षा के छात्र का शव बाथरूम से बरामद, जांच में जुटी पुलिसतेंडुलकर ने कहा, वनडे में दो गेंदों का उपयोग नाकामी को न्योता देना जैसाकांग्रेस ने पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव का फूंका बिगुल, गठित की स्क्रीनिंग कमेटी
बिहार
नैतिकता के खिलाफ है नीतीश का निर्णय : अनवर
By Deshwani | Publish Date: 29/7/2017 5:25:09 PM
नैतिकता के खिलाफ है नीतीश का निर्णय : अनवर

कटिहार, (हि.स.)।राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव सह कटिहार सांसद तारिक अनवर ने शनिवार को कहा कि बिहार में धर्मनिर्पेक्ष ताकतों को मजबूत करने और साम्प्रदायिक शक्तियों को रोकने के लिए नीतीश कुमार ने महागठबंधन के साथ 2015 में बिहार विधानसभा का चुनाव लड़ा था और लोगों ने उन्हें अपना समर्थन भी इसलिए दिया था, लेकिन 20 महीने में जिस प्रकार से नीतीश कुमार ने यू टर्न लेकर राजनीतिक फैसला लिया है, उससे बिहार में लोगों को बहुत आक्रोश है। 

तारिक अनवर ने संवाददाताओं से बातचीत करते कटिहार में कहा कि पूरे घटनाक्रम के बाद बिहार के मतदाता इस बात को महसूस कर रहे हैं कि उनके साथ छल और धोखा हुआ है। उन्होंने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर भड़ास निकलते हुए कहा कि उनके अंदर थोड़ी सी भी राजनैतिक नैतिकता होती तो इस्तीफा देकर जनता के बीच जाते और दुबारा जनादेश यह कह कर लेते कि वे भाजपा के साथ मिलकर सरकार चलाना चाहते हैं। नीतीश कुमार कहा करते थे कि वे संघ मुक्त भारत बनाना चाहते हैं और आज उसी संघ परिवार की गोद में जाकर बैठ गए।
तारिक अनवर ने कहा कि एनसीपी नीतीश कुमार के इस फैसले की घोर निंदा करता है और 5 अगस्त को सभी धर्मनिरपेक्ष दलों के साथ राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी कटिहार में जनाक्रोश रैली निकालकर समाहरणालय के समक्ष धरना-प्रदर्शन करेगी। 
इसके बाद सिलसिलेवार प्रखण्ड व पंचायत के साथ टोला स्तर पर नीतीश कुमार द्वारा किए गए विश्वासघात को लेकर जनता की जागरूक करेगी। 
सांसद तारिक अनवर ने पत्रकारों द्वारा पूछे गए सवालों का जवाब देते हुए कहा कि ये अफसोस की बात है कि नीतीश कुमार हमेशा सिद्धान्त की बात करते हैं लेकिन अब यह साबित हो गया है कि उन्होंने जो भी किया वह व्यक्तिगत लाभ और सत्ता में बने रहने के लिए किया। उनके सामने कोई सिद्धान्त व विचारधारा कोई अहमियत नहीं रखती है। 
तारिक अनवर ने बताया कि 2019 का लोकसभा चुनाव सभी 17 विपक्षी दलों के साथ मिलकर लड़ा जाएगा। इस सिलसिले में जल्द ही लालू प्रसाद यादव, सोनिया गांधी व अन्य विपक्षी दलों से बात करेंगे। 
उन्होंने कहा कि जबसे केंद्र में एनडीए की सरकार आई है संविधान की धज्जियां उड़ाई जा रही हैं । इसका दृष्टांत गोवा, मणिपुर, अरुणाचल, उत्तराखंड, बिहार और अभी गुजरात में देखने को मिल रहा है। भाजपा बहुमत में नहीं होने के बाबजूद सत्ता पर काबिज होती जा रही है।
उन्होंने बीजेपी पर हमलावर होते कहा कि उसका कांग्रेस मुक्त सपना कभी पूरा नहीं होगा। कांग्रेस में जाने के सवाल पर तारिक अनवर ने नो कॉमेंट कहकर अपनी बात समाप्त कर दी।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS