ब्रेकिंग न्यूज़
नेपाल से वतन लौट रहे करीब 400 भारतीय को बीरगंज प्रशासन ने रोका, डिटेंशन सेन्टर में खाने-पीने की व्यवस्था नहीं, कर रहे भारत बुलाने की अपीलउत्तर बिहार के ख्यातिप्राप्त सर्जन डॉ. आशुतोष शरण ने PM Cares Fund व CM Releaf Fund को दी कुल 2 लाख 50 हजार की आर्थिक सहायता, पूरी की दिली ख्वाहिशपूर्व केन्द्रीय कृषिमंत्री मोतिहारी सांसद लॉकडाउन में देशभर में फंसे सैकड़ो चंपारणवासियों को भोजन मुहैया करा रहे हैंलोगों के अनुरोध पर आपातकाल में प्रधानमंत्री नागरिक सहायता और राहत कोष - PM CARES की घोषणा, नोट करें खाता नम्बरहाइड्रो-ऑक्‍सी-क्‍लोरोक्विन कोविड- 19 में कारगर, आवश्‍यक दवा घोषित, बिक्री और वितरण नियंत्रित करने संबंधी स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय की अधिसूचना जारीपूरे देश में 562 संक्रमित मामलों की पुष्टि स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय ने की, 41 संक्रमित मरीज हुए स्वस्थईरान से एयरइंडिया के विशेष विमान से लाये गये 277 लोग आज सुबह पहुंचे जोधपुर हवाई अड्डाआज शाम प्रधानमंत्री अपने निर्वाचन क्षेत्र वाराणसी के लोगों से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए करेंगे बातचीत
बिहार
शौचालय में सफर कर रहे हैं यात्री, स्लीपर व एसी में नो रूम
By Deshwani | Publish Date: 12/6/2017 4:54:15 PM
शौचालय में सफर कर रहे हैं यात्री, स्लीपर व एसी में नो रूम

छपरा। पूर्वोत्तर रेलवे के छपरा जंक्शन से होकर गुजरने वाली लंबी दूरी की महत्वपूर्ण ट्रेनों में यात्रियों को जगह नहीं मिल रही है, जिससे विवश होकर यात्री शौचालय में सफर कर रहे हैं। अगले 25 से 35 दिनों तक लगभग सभी ट्रेनों में बर्थ खाली नहीं है। वर्तमान समय में अधिकांश ट्रेनों में नो रूम है। जेनरल कोच में भी यात्रियों को जगह नहीं मिलने के कारण शौचालय में बैठकर सफर करने को विवश होना पड़ रहा है। सबसे खराब हालत नयी दिल्ली, मुम्बई, चेन्नई, अहमदाबाद, सूरत, दुर्ग, भोपाल, अमृतसर, लुधियाना, जयपुर, कोटा, मथुरा, कोलकता, हावड़ा, सिलीगुड़ी, डिब्रूगढ़, गुवाहाटी, कटिहार, आसनसोल, रांची, टाटा नगर समेत अन्य स्थानों पर जाने वाली ट्रेनों में काफी भीड़ की स्थिति बनी हुई है। 
शादी विवाह का मौसम खत्म होने के बाद परदेशी वापस लौटने लगे हैं। साथ ही खेतों में गेहूँ की कटनी दौनी समाप्त हो चुका है जिससे खेतिहर मजदूर भी रोजी रोटी की तलाश में दूसरे राज्यों में पलायन कर रहे हैं। इस वजह से ट्रेनों में काफी भीड़ बढ़ गयी है और रमजान का महीना होने के कारण मुस्लिम समुदाय के लोग भी ईद का त्योहार मनाने के लिए घर लौट रहे हैं जिससे भीड़ काफी बढी है। गर्मी की छुट्टी के कारण भी ट्रेनों में भीड़ बढ़ी है। 
विशेष ट्रेनों में भी नहीं मिल रहा है बर्थ 
गर्मी की छुट्टी तथा रमजान माह के मद्देनजर रेलवे प्रशासन ने विशेष ट्रेनों का भी परिचालन शुरू किया है लेकिन उसमें भी जगह नहीं मिल रहा है। विशेष ट्रेनों से भी यात्रियों को राहत नहीं मिल रही है। छपरा जंक्शन से होकर देश के सभी बड़े शहरों के लिए रेलवे प्रशासन ने विशेष ट्रेनों का परिचालन शुरू किया है और सुविधा एक्सप्रेस तथा प्रीमियम एक्सप्रेस के नाम से चल रही ट्रेनों के बर्थ व कोच भी अपर्याप्त साबित हो रहा है। 
क्या कहते हैं अधिकारी 
पूर्वोत्तर रेलवे वाराणसी मंडल के जनसंपर्क अधिकारी अशोक कुमार ने कहा कि यात्रियों की भीड़ के मद्देनजर विशेष ट्रेनों का परिचालन शुरू किया गया है और कई ट्रेनों में अतिरिक्त कोच भी लगाये गये हैं। 
 
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS