ब्रेकिंग न्यूज़
मोतिहारी के लिए निजी कोचिंग के जनक माने जाने वाले राजकिशोर सर का असमय जाना, सबको दुखदायी लगामेहसी के 150 हेक्टेयर लीची बगान में स्टिंगबग के नियंत्रण के लिए डीएम ने 17 लाख रुपए राशि की मांग कृषि विभाग पटना से मांग कीबेतिया- संतघाट स्थित राधिका ज्योति गैस एजेंसी में भीषण अगलगी, 14 डिलीवरी वाहन व 400 गैस सिलेंडर जले, कोई हताहत नहींमोतिहारी के तुरकौलिया में भूमि विवाद में युवक की हत्यामोतिहारी के ढाका थाने के दारोगा की तस्वीर वायरल, युवती को अपनी सर्विस पिस्टल देकर खिंचवाई फोटो, हुए निलंबितथानाध्यक्ष की हत्या के पूर्व मौके से फरार सर्किल इंस्पेक्टर मनीष कुमार सहित सात पुलिसकर्मियों को पूर्णिया प्रक्षेत्र के महानिरीक्षक ने किया निलंबितरक्सौल में अग्निशामक विभाग के कर्मियों को आग बुझाने का दिया गया प्रशिक्षणमधुबनी नरसंहार से आक्रोशित श्री राजपूत करणी सेना ने निकाला आक्रोश यात्रा
बिहार
मोतिहारी के चीनी मिल क्वार्टर में नवविवाहिता ने की आत्महत्या, कमरे में मिला शव
By Deshwani | Publish Date: 23/2/2021 11:00:00 PM
मोतिहारी के चीनी मिल क्वार्टर में नवविवाहिता ने की आत्महत्या, कमरे में मिला शव

मोतिहारी। छतौनी थानाक्षेत्र के चीनी मिल क्वार्टर मेंं सोमवार की शाम 19 वर्षीय नवविवाहिता राधा देवी की लाश उसके कमरे की छत से लटकी मिली है। मृतक राधा देवी विक्की श्रीवास्तव की पत्नी थी। विक्की श्रीवास्तव का मकान बलुआ पुल की नीचे स्थित है। फिलहाल वे चीनी मिल क्वार्टर में रहते हैं। 


मृतक राधा देवी की सास विभा देवी ने छतौनी पुलिस को दिए लिखित आवेदन में बताया है कि वे राधा देवी उनकी सौतेली बेटी थीं। लिखा है- मैं राधा देवी पति ददन महतो बंजरिया अंबिका नगर की निवासी हूं। आज शाम करीब 4 पांच बजे उनके दामाद विक्की श्रीवास्तव ने अंबिकानगर आकर बताया कि उनकी पत्नी राधा देवी ने फांसी लगा आत्महत्या कर ली।
 
 
बताया है कि जब वह चीनी मिल क्वार्टर गई। तो देखा की उनकी सतौली बेटी का कमरा अंदर से बंद था। स्थानीय लोगों के सहयोग से दरवाज तोड़ा गया। तो देखा कि उनकी बेटी लाल दुपट्टा से फंदालगाकर छत से लटकी हुईं हैं। यह भी लिखा है कि उनकी अांखे खुली हुई है। जीभ भी बाहर निकली हुई है। बॉडी जमीन से दो फीट ‍ऊपर लटक रही है। तबतक किसी महिला ने फोन कर पुलिस को भी खबर कर दी थी। सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया। अंत में उन्होंने लिखा है कि उन्हे पक्का विश्वास हो गया है कि उनकी सौतेली बेटी ने आत्महत्या ही की है। जिससे उसकी मौत हुई है। उन्हें आत्महत्या के कारणों का पता नहीं है। आवेदन में अंगूठे का निशान दिया गया है।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS