ब्रेकिंग न्यूज़
हाजीपुर में पुलिस ने एक शराब माफिया को एनकाउंटर में मार गिराया, हथियार के साथ एक गिरफ्तारबिहार के औरंगाबाद में झंडातोलन करने जा रहे मुखिया पुत्र पर अपराधियों ने किया सरेआम फायरिंगपटना के मगध महिला कॉलेज में एक लफंगे ने राजनीति शास्त्र की छात्रा से सरेआम की छेड़खानीहाजीपुर में बदमाशों और पुलिस के बीच मुठभेड़, एक की मौत, बाल-बाल बचे डीएसपीसिवान के मैरवा में प्रसिद्ध होम्योपैथिक डॉक्टर की बाइक सवार अपराधियों ने हत्या कर दीजम्मू-कश्मीर के निलंबित पुलिस उपाधीक्षक दविंदर सिंह और चार अन्य अभियुक्तों को 15 दिन की हिरासत में भेजा गयामोतिहारी के बंजरिया में दवा दुकानदार की हत्या के मामले में पुत्रवधू सहित 4 गिरफ्तार, एक कृष्णनगर निवासी, कारतूस व आर्म्स जब्तबेतिया में अज्ञात महिला की ट्रेन की चपेट में आने से मौत, शिनाख्त में जुटी पुलिस
बिहार
लोकआस्था के महापर्व छठ का तीसरा दिन, आज अस्ताचलगामी सूर्य को दिया जाएगा अर्घ्य
By Deshwani | Publish Date: 2/11/2019 11:52:15 AM
लोकआस्था के महापर्व छठ का तीसरा दिन, आज अस्ताचलगामी सूर्य को दिया जाएगा अर्घ्य

पटना। लोक आस्था के महापर्व छठ का आज तीसरा दिन है। आज शाम छठ व्रती अस्ताचलगामी सूर्य को अर्घ्य देंगे वहीं कल यानी रविवार की सुबह उदयीमान सूर्य को अर्घ्य देने के साथ ही छठ संपन्न हो जाएगा। इसके बाद व्रती अन्न-जल ग्रहण यानी 'पारण' करेंगे। महापर्व छठ नहाय-खाय के साथ गुरुवार को शुरू हुआ था।

 
शुक्रवार शाम को छठ व्रतियों द्वारा गुड़ और चावल से बने खीर का भोग एवं प्रसाद ग्रहण कर खरना किया गया। खरना के साथ ही छठ व्रतियों का 36 घंटे का निर्जला व्रत शुरू हुआ। आज छठ व्रती डूबते सूर्य को गेहूं के आटे और गुड़ व शक्कर से निर्मित मुख्य प्रसाद 'ठेकुआ' के अलावा चावल से बने भुसबा, गन्ना, नारियल, केला, हल्दी सेव, संतरा, फल-फूल हाथों में लेकर जलाशयों में खड़े होकर सूर्य देव को अर्घ्य देंगे।
 
अर्घ्य का समय
शनिवार सायंकालीन अर्घ्य का समय: शाम 5.10 से 5.32 बजे
रविवार प्रात:कालीन अर्घ्य का समय: सुबह 6.29 से 7.15 
 
छठ महापर्व को लेकर घाटों पर खास प्रबंध किए गए हैं ताकि लोगों को किसी प्रकार की परेशानी का सामना न करना पड़। घाटों पर साफ-सफाई का विशेष ध्यान रखा जा रहा है। छठ पर होने वाली भीड़ को लेकर पूरे राज्य के घाटों में सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैँ। प्रत्येक जिलों में वहां के प्रशासन द्वारा भारी संख्या में पुलिस जवानों की तैनाती की गई है। असुरक्षित और खतरनाक घाटों पर बैरिकेटिंग लगाई गई है। इसके साथ ही गोताखोरों को भी तैनात किया गया है।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS