बिहार
ट्रेड यूनियनों के बंद के समर्थन में उतरा विपक्ष, कई जगह सड़क जाम
By Deshwani | Publish Date: 9/1/2019 4:56:39 PM
ट्रेड यूनियनों के बंद के समर्थन में उतरा विपक्ष, कई जगह सड़क जाम

पटना। ट्रेड यूनियनों के भारत बंद के दूसरे दिन पूरा विपक्ष समर्थन में सड़क पर उतर आया है। बिहार के कई जिलों में चौक-चौराहों पर विपक्ष ने केंद्र सरकार का पुतला दहन किया। विपक्ष का कहा है कि सरकार मजदूर संगठनों का हाथ बांधना चाहती है। उनका हक दिलाने के लिए हम सड़क से सदन तक मार्च करेंगे। कैमूर, बक्सर, गया, नवादा, फतुहा, आरा और मुजफ्फरपुर जिले में बंद का काफी असर देखा जा रहा है।

 
हड़ताल कर रहे कर्मचारियों का कहना है कि केंद्र सरकार मजदूर संगठनों के साथ गलत नीति अपना रही है। सारे सार्वजनिक क्षेत्रों के बैंकों के विलय के कारण रोजगार पर संकट आ जाएगा। बैंकों के लॉस का खामियाजा कर्मचारी क्यों भुगते? मजदूर संगठनों का आरोप है कि सरकार लेबर लॉ को तोड़कर उसमें बदलाव करना चाहती है। इससे हमें काफी नुकसान होगा।
 
ट्रेड यूनियनों के बंद की वजह से कई जगहों पर सड़क जाम की स्थिति बन गई। राजधानी पटना के डाकबंगला चौराहे पर चारों तरफ से गाड़ियों की लंबी कतार लगी है। स्थिति संभालने के लिए सैकड़ों पुलिसकर्मियों को मौके पर तैनात किया गया है। बक्सर के नावानगर में भी भाकपा माले कार्यकर्ताओं ने नेशनल हाइवे पर चक्काजाम कर दिया। गया में बेलागंज मुख्य मार्ग पर एनएच 83 पर भी वामपंथी कार्यकर्ताओं ने सड़क जाम किया है।
 
आंगनबाड़ी कार्यकर्ताएं भी यूनियन संघ के भारत बंद को सफल बनाने के लिए सड़क पर उतर आईं। आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं की मांग है कि सरकार हमारी नौकरी को स्थायी करे। 3 हजार रुपए में घर चलाना काफी मुश्किल होता है। आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं ने केंद्र और राज्य सरकार को चेतावनी देते हुए कहा कि अगर हमारी मांगें पूरी नहीं की गई तो आने वाले चुनाव में सरकार के खिलाफ वोट करेंगे।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS