ब्रेकिंग न्यूज़
बिहार कैबिनेट का फैसला : लड़कियों को जन्म से लेकर स्नातक तक मिलेगा समुचित लाभ व सुरक्षाशत्रुघ्‍न सिन्‍हा का सवाल, 'सर, नोटबंदी के 18 माह बाद भी एटीएम में पैसा नहीं है, यह क्‍या हो रहा है'पंजाब ने हैदराबाद के खिलाफ टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला लियासुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद कांग्रेस ने बुलाई विपक्ष की बैठकराज्यों के नाम मेनका का खत, रेप जैसी घटनाओं को रोकने के लिए दिए सुझावसीतामढ़ी रीगा चीनी मिल के मालिकों के खिलाफ गिरफ्तारी वारंटप्रिंटिंग प्रेस में 24 घंटे चल रही नोटों की छपाई, कैश की समस्या होगी खत्मयूएस पहुंची कठुआ-उन्नाव रेप कांड मामला: भारतीय-अमरीकियों ने किया प्रदर्शन
बिहार
सड़क निर्माण कंपनी से नक्सलियों ने मांगी 16 करोड़ लेवी, हरकत में आई पुलिस
By Deshwani | Publish Date: 7/12/2017 7:29:33 PM
सड़क निर्माण कंपनी से नक्सलियों ने मांगी 16 करोड़ लेवी, हरकत में आई पुलिस

अरवल। देशवाणी न्यूज नेटवर्क


खगौल से बलिदाद तक टू लेन बनाने में जुटी सड़क निर्माण कंपनी से नक्सलियों ने 16 करोड़ रुपए की लेवी मांगी है। मामला प्रकाश में आते ही पुलिस हरकत में आ गई। एसपी दिलीप मिश्रा ने मामले की जांच और लेवी मांगने वाले को दबोचने के लिए एसआईटी गठित कर दी है। एसआईटी का नेतृत्व एएसपी अभियान अनिल कुमार सिंह को सौंपा गया है। इस मामले में कंपनी के सुपरवाइजर मनीष कुमार के बयान पर महेंदिया थाने में गणेश कुमार के विरुद्ध नामजद एफआईआर दर्ज की गई है। गणेश प्रतिबंधित संगठन भाकपा माओवादी का नेता बताया जाता है।

जानकारी के अनुसार, सिंचाई विभाग द्वारा 165 करोड़ की लागत से खगौल से बारुण तक दो चरणों में नहर पर टू लेन सड़क का निर्माण कराया जा रहा है। प्रथम चरण में खगौल से बलिदाद तक सड़क बनाई जा रही है। सड़क निर्माण का जिम्मा रामकृपाली कंस्ट्रक्शन को मिला है। कंपनी का बलिदाद में बेस कैंप है। कंपनी के सुपरवाइजर मनीष ने थाने में दिए आवेदन में लिखा है कि 29 अक्टूबर को पहली बार गणेश द्वारा उनके मोबाइल पर फोन कर दस प्रतिशत लेवी की मांग की गई थी। वह अपने आप को भाकपा माओवादी का नेता बताता है। इसके बाद लगातार फोन कर लेवी नहीं देने पर धमकी दी जा रही है। इधर, इस धमकी के बाद निर्माण में जुटी कंपनी के कर्मी काफी भयभीत हैं। उन्हें अपनी सुरक्षा का भय सताने लगा है।

इधर एसपी ने कहा कि पुलिस घटना की तफ्तीश में जुटी है। जिस मोबाइल नंबर से लेवी मांगने की शिकायत की गई है, उसका सीडीआर निकाला गया है। पूरे मामले की गहराई से जांच की जा रही है। लेवी मांगनेवाले को गिरफ्तार करने के लिए एसआईटी गठित की गई है। निर्माण कंपनी को डरने की जरूरत नहीं है। डीएम सतीश कुमार सिंह ने कहा कि विकास कार्य में बाधा डालने वालों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। यदि जरूरत पड़ी तो निर्माण कंपनी को सुरक्षा मुहैया करायी जाएगी।

image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS