ब्रेकिंग न्यूज़
लोकसभा चुनाव-2019: कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच कल 8 बजे शुरू होगी मतगणना, तैयारियां पूरीभाजपा उम्मीदवार अर्जुन सिंह को सुप्रीम कोर्ट से मिली राहत, 28 मई तक गिरफ्तारी पर लगी रोकसुनीता लाकरा ने पूरे किये 150 अंतरराष्ट्रीय मैच, हॉकी इंडिया ने दी बधाईसलमान की 'भारत' का चौथा गाना 'तुरपेया' हुआ रिलीज, नोरा फतेही का ठुमका हुआ वायरललोकसभा चुनाव: मतगणना कल सुबह आठ बजे से, वीवीपैट की गिनती के कारण परिणाम आने में होगी देरी'साहो' का फर्स्ट लुक पोस्टर जारी, इस 15 अगस्त पर छाएंगे प्रभासअमेरिका युद्ध के बजाय, ईरान के खतरे को रोकना चाहता है: पेंटागन प्रमुखनतीजों से पहले राहुल की कार्यकर्ताओं को नसीहत, मेहनत नहीं जाएगी बेकार, फर्जी एग्जिट पोल से न हों निराश
बिहार
मोतिहारी केविवि के लिए भूअर्जन फर्जीवाड़ा की जांच अब निगरानी विभाग करेगा, तत्कालीन सीओ समेत 13 के विरूद्ध आरोप-पत्र समर्पित
By Deshwani | Publish Date: 20/4/2019 11:18:27 PM
मोतिहारी केविवि के लिए भूअर्जन फर्जीवाड़ा की जांच अब निगरानी विभाग करेगा, तत्कालीन सीओ समेत 13 के विरूद्ध आरोप-पत्र समर्पित

 मोतिहारी। देशवाणी न्यूज नेटवर्क।

बिहार के मोतिहारी में भूअर्जन फर्जीवाड़ा मामले की जांच अब निगरानी विभाग करेगा। इस संबंध में एसपी उपेन्द्र कुमार शर्मा ने एक पत्र लिखा है। केविवि निर्माण के लिए जमीन अधीग्रहण को लेकर हाल के दिनों में मोतिहारी काफी चर्चे में रहा है। इसको लेकर चार लोग जेल भी भेजे जा चुके है। जबकि मोतिहारी के तत्कालीन सीओ चौधरी बसंत सिंह सहित 13 पर आरोप पत्र भी पुलिस ने कोर्ट को समर्पित कर दिया है। जिसमें पुलिस ने जांच कर तत्कालीन सीओ, नाजीर, कार्यालयकर्मी व अमीन पर आरोप को सत्य भी करार दिया है।

पुलिस ने इनके विरूद्ध समर्पित किया आरोप पत्र-

1. चौधरी बसंत सिंह- तत्कालीन सीओ मोतिहारी

2. नाजीर- सुधीर कुमार

3. अमीन- जटाशंकर सिंह

4. कार्यालयकर्मी- शारदा प्रसाद

5. कार्यालयकर्मी- उमेश सिंह

6. जयकिशुन तिवारी

7. अरविन्द सिंह

8. प्रमोद मिश्रा

9. मिक्की तिवारी

10. राजेन्द्र साह

11. ललन पटेल

12. गुलशन तिवारी

13 उमेश

जिसमें चार आरोपी पहले ही जेल जा चुके हैं-

1. शारदा प्रसाद

2. जयकिशुन तिवारी

3. गुलशन तिवारी

4. उमेश   

 
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS