ब्रेकिंग न्यूज़
अत्याधुनिक हथियार बरामदगी मामले में कोटवा निवासी कुख्यात कुणाल को आजीवन कारावास, 42 हजार रुपये का अर्थदंड भी मिलाइस बार का चुनाव मेरे लिए चुनाव है चुनौती नहीं: राधा मोहन सिंहMotihati: सांसद राधामोहन सिंह ने नामांकन दाखिल किया, कहा-मैं तो मोदी के मंदिर का पुजारीमोतिहारी के केसरिया से दो गिरफ्तार, लोकलमेड कट्टा व कारतूस जब्तभारतीय तट रक्षक जहाज समुद्र पहरेदार ब्रुनेई के मुआरा बंदरगाह पर पहुंचामोतिहारी निवासी तीन लाख के इनामी राहुल को दिल्ली स्पेशल ब्रांच की पुलिस ने मुठभेड़ करके दबोचापूर्व केन्द्रीय कृषि कल्याणमंत्री राधामोहन सिंह का बीजेपी से पूर्वी चम्पारण से टिकट कंफर्मपूर्व केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री सांसद राधामोहन सिंह विभिन्न योजनाओं का उद्घाटन व शिलान्यास करेंगे
सुपौल
स्वामी विवेकानंद के जीवन दर्शन को अपनाये युवा:डा.राजकुमार
By Deshwani | Publish Date: 13/1/2017 3:43:44 PM
स्वामी विवेकानंद के जीवन दर्शन को अपनाये युवा:डा.राजकुमार

सुपौल, (हि.स.)। युवा दिवस के मौके पर आज अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने बी एसएस कॉलेज के प्रांगण में स्वामी विवेकानंद की जयंती धूमधाम से मनाई। सर्वप्रथम डॉ. राजकुमार ने अपने विचार रखते हुए कहा कि स्वामी विवेकानंद के जीवन दर्शन को अपनाने की जरूरत है।

युवा शक्ति ही राष्ट्र निर्माण के संकल्प को पूरा कर सकती है। मंच की अध्यक्षता कर रहे डॉ. राजेंद्र झा ने कहा कि आज की युवा पीढ़ी को अपने दायित्वों का ध्यान होना चाहिए। आज की शिक्षा बहुआयामी, स्वाबलंबी बनाने वाली, सही चरित्रनिर्माण में सहायक व उद्देश्य संकल्प एवं लक्ष्य को प्रेरित करने वाली होनी चाहिए। प्रो. डॉ. देवप्रसाद ने कहा कि आज के भ्रमित समाज को आगे बढ़ाने में विवेकानंद जी के विचार उपयोगी साबित हो सकते हैं। युवाओं को अपने कर्तव्य और कर्म पथ पर ध्यान देना चाहिए। प्रो. शशिभूषण सिंह ने अपने विचार व्यक्त करते हुए कहा कि आज शिक्षा मानवतावादी होनी चाहिए। मानव सेवा, सर्वधर्म समन्वय जैसे स्वामी जी के विचारों को अपनाने की आवश्यकता है। प्रो. अरुण सिंह ने मैकाले की शिक्षा पद्धति को त्याग कर भारतीय शिक्षा को ग्रहण करने के लिए प्रेरित किया। कार्यक्रम में प्रो. मितेश सिंह, प्रो कुंदन शर्मा, प्रो डॉ सुधीर सिंहआदि मौजूद रहे। 

image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS