ब्रेकिंग न्यूज़
झारखंड में बिहार सहित अन्य राज्यों से आनेवाली बस की एंट्री नहीं, निजी वाहनों को भी लेना होगा ई-पासमोतिहारी के कोटवा में ट्रक व कार में भीषण टक्कर, एक की मौत चार अन्य घायल, दो की स्थित गंभीरबिहार में सोमवार से लॉकडाउन का पांचवा चरण शुरू, निजी वाहन को पास की जरूरत नहीं, बसों व अन्य वाहनों का किराया नहीं बढ़ाने का निर्देशपाकिस्तानी उच्चायोग के दो ऑफिसर कर रहे थे जासूसी, भारत ने 24 घंटे के भीतर दोनों को देश छोड़ने को कहाप्रवासियों कामगारों से भरी बस मोतिहारी के चकिया में ट्रेक्टर से टकराई, ट्रेक्टर चालक घायल, कई मजदूर चोटिल, जा रही थी सहरसासाजिद-वाजिद जोड़ी के वाजिद खान अब नहीं रहे, कोरोना की वजह से गई जानबिहार में लॉकडाउन के पांचवें चरण की हुई घोषणा, 30 जून तक बढ़ा, कोरोना संक्रमण की संख्या 6,692 हुईजमात उल मुजाहिद्दीन का आतंकी अब्दुल करीम को कोलकता एसटीएफ ने पकड़ा, गया ब्लास्ट मामले में हो रही थी खोज
खेल
चार साल बाद झेलनी पड़ी भारत को इस तरह की हार
By Deshwani | Publish Date: 14/8/2018 1:18:13 PM
चार साल बाद झेलनी पड़ी भारत को इस तरह की हार

नई दिल्ली। लाॅर्ड्स मैदान पर इंग्लैंड और भारत के बीच खेले गए दूसरे टेस्ट मैच में इंग्लैंड ने भारत को पारी और 159 रनों से हराया। इस मैच में भारतीय बल्लेबाज पूरी तरह से फ्लॉप रहे। पहली पारी में 107 और दूसरी में 130 में सिमट जाने के बाद भारत का हारना तय हो गया था। इंग्लिश गेंदबाजों खासतौर से जेम्स एंडरसन ने भारतीय बल्लेबाज की कमर तोड़ने में अहम भूमिका निभाई। रही सही कसर क्रिस वोक्स ने पूरी कर दी जिन्होंने न सिर्फ बैट से बल्कि गेंद से भी खूब कमाल किया और प्लेयर ऑफ द मैच बने।

भारतीय टीम को हार का सामना करना पड़ा जो लगभग चार साल बाद उसकी पहली पारी की हार है। भारत ने 2014 के इंग्लैंड दौरे में अगस्त महीने में मैनचेस्टर टेस्ट में पारी और 54 रन से और उसके बाद ओवल टेस्ट में पारी और 244 रन से हार झेली थी। ओवल टेस्ट की हार भारत की आखिरी पारी की हार थी। 

लाॅर्ड्स मैदान में दूसरे टेस्ट में पहला दिन बारिश से धुल जाने के बावजूद इंग्लैंड ने तीन दिन के अंदर भारत को पारी से शिकस्त दे दी। टीम इंडिया की पारी और 159 रन की हार उसकी 11वीं सबसे बड़ी हार है। यह 30वां मौका है जब भारत ने कोई टेस्ट पारी से गंवाया है। इन 30 अवसरों में इंग्लैंड ने भारत को 11 बार पारी से हराया है। भारत की सबसे बड़ी हार दिसंबर 1958 में वेस्टइंडीज के खिलाफ कोलकाता में थी जब वह पारी और 336 रन से हार गया था। 

भारत ने इस साल के शुरू में दक्षिण अफ्रीका से तीन मैचों की सीरीका 1-2 से गंवायी थी लेकिन उससे पहले भारत ने नौ सीरीज लगातार जीती थीं जिसमें अपनी घरेलू जमीन पर इंग्लैंड के खिलाफ 2016-17 में पांच मैचों की सीरीज में 4-0 की जीत शामिल थी। 

image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS