ब्रेकिंग न्यूज़
केंद्रीय गृह मंत्री श्री अमित शाह ने कर्नाटक के बेंगलुरु में तीन अलग-अलग प्रकल्पों का लोकार्पण कियाभारतीय अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव में दिग्गज अभिनेता और निर्देशक बिस्वजीत चटर्जी को 51वें भारतीय व्यक्तित्व पुरस्कार से किया गया सम्मानितभारी सुरक्षा व्यवस्था के बीच रक्सौल के दो केन्द्रों पर कोविड वैक्सीनेशन अभियान हुआ प्रारंभरक्सौल: सिमुलतला विद्यालय में ईशान ने मारी बाजीउत्तर प्रदेश विधान परिषद चुनावों के लिए भाजपा ने चार उम्मीदवारों के नामों की सूची जारी कीIGIMS से शुरू होगा बिहार में कोरोना टीकाकरण अभियान, सबसे पहला टीका IGIMS के सफाईकर्मी रामबाबू को लगेगाझारखंड: चतरा में 15 लाख के इनामी उग्रवादी मुकेश गंझू ने किया आत्मसमर्पणपूर्वी चम्पारण के डीएम शीर्षत कपिल अशोक ने डंकन अस्पताल में लगाए गए सिटी स्केन सेन्टर का किया उद्घाटन
समस्तीपुर
ट्रक के चपेट में आने से दो महिलाओं की मौत, कई घायल
By Deshwani | Publish Date: 13/4/2019 4:15:12 PM
ट्रक के चपेट में आने से दो महिलाओं की मौत, कई घायल

समस्तीपुर। जिले के इंद्रवारा के 'केवल स्थान' राजकीय मेले में ट्रक के नीचे दबने से दो महिलाओं की मौत हो गयी। घटना के बाद उग्र हुए लोगों ने पुलिसकर्मियों को निशाना बनाया। उग्र लोगों ने ट्रक को फूंक डाला। साथ ही सीओ और पुलिस की गाड़ी को क्षतिग्रस्त कर दिया।

 
जानकारी के मुताबिक, जिले के हलई ओपी क्षेत्र के इंद्रवारा के राजकीय मेले केवल स्थान में शुक्रवार की रात को एक ट्रक की चपेट में आने दो लोगों की मौत हो गयी। वहीं, स्थानीय लोग चार लोगों के मारे जाने की बात बता रहे हैं, जबकि पुलिस दो लोगों के मरने की बात स्वीकार कर रही है। 
 
घटना के संबंध में बताया जाता है कि पुलिस के तमाम उपायों को धता बताते हुए एक ट्रक मंदिर के नजदीक सामुदायिक भवन के पास पहुंच गया। जगह कम होने के कारण घुमाने के दौरान उसका स्टेयरिंग फेल हो गया और उसकी चपेट में आने से मुजफ्फरपुर के मीनापुर थाना क्षेत्र के कुर्माबन्न निवासी 22 वर्षीया शैल देवी और कांटी मधुबन मुजफ्फरपुर के टुनटुन सहनी की 24 वर्षीया पत्नी रीना देवी की मौत घटनास्थल पर ही मौत हो गयी. जबकि, कई अन्य लोगों के घायल होने की सूचना है। 
 
घटना के बाद मेले में जुटे लोग आक्रोशित हो गये और ट्रक को आग के हवाले कर दिया। साथ ही हलई ओपी की गाड़ी को भी क्षतिग्रस्त कर दिया। घटना के बाद निशाने पर रहे पुलिसकर्मी एएसआई अवधेश यादव, होमगार्ड मनोज सिंह समेत कई पुलिसकर्मियों की पिटाई लोगों ने कर दी। 
 
प्रशासन पर नाकामी का आरोप लगाते हुए लोगों ने काफी देर तक शव लेकर प्रदर्शन करते रहे। बाद में समझाने-बुझाने के बाद ओपी अध्यक्ष संदीप पाल ने शवों को पोस्टमॉर्टम के लिए भेजा। घटना के बाद मेले में अफरातफरी का माहौल है।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS