ब्रेकिंग न्यूज़
केंद्रीय गृह मंत्री श्री अमित शाह ने कर्नाटक के बेंगलुरु में तीन अलग-अलग प्रकल्पों का लोकार्पण कियाभारतीय अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव में दिग्गज अभिनेता और निर्देशक बिस्वजीत चटर्जी को 51वें भारतीय व्यक्तित्व पुरस्कार से किया गया सम्मानितभारी सुरक्षा व्यवस्था के बीच रक्सौल के दो केन्द्रों पर कोविड वैक्सीनेशन अभियान हुआ प्रारंभरक्सौल: सिमुलतला विद्यालय में ईशान ने मारी बाजीउत्तर प्रदेश विधान परिषद चुनावों के लिए भाजपा ने चार उम्मीदवारों के नामों की सूची जारी कीIGIMS से शुरू होगा बिहार में कोरोना टीकाकरण अभियान, सबसे पहला टीका IGIMS के सफाईकर्मी रामबाबू को लगेगाझारखंड: चतरा में 15 लाख के इनामी उग्रवादी मुकेश गंझू ने किया आत्मसमर्पणपूर्वी चम्पारण के डीएम शीर्षत कपिल अशोक ने डंकन अस्पताल में लगाए गए सिटी स्केन सेन्टर का किया उद्घाटन
समस्तीपुर
अनुकूल राय को बचपन से ही क्रिकेट से लगाव
By Deshwani | Publish Date: 4/2/2018 5:28:34 PM
अनुकूल राय को बचपन से ही क्रिकेट से लगाव

समस्तीपुर । अंडर-19 क्रिकेट वर्ल्ड कप की विजेता टीम का अनमोल सितारा, अनुकूल राय को बचपन से ही क्रिकेट से लगाव था। 

जिले के रोसड़ा प्रखंड में बिरहा गॉव केअधिवक्ता सुधाकर राय तथा माता रंजू देवी के पुत्र अनुकूल की शिक्षा समस्तीपुर के डीएवी और टेक्नो मिशन स्कूल में हुई 1 भाजपा के पूर्व जिलाध्यक्ष प्रो• रामविलास राय का पौत्र और चार भाई बहनों में सबसे छोटा अनुकूल बचपन से ही क्रिकेट के प्रति समर्पित था। बारह पत्थर में रह कर अनुकूल अपनी बड़ी बहन पूजा व स्मृति शांडिल्य एवं बड़े भाई सिविल इंजीनियर अभिषेक शांडिल्य के सहयोग से समस्तीपुर के पटेल मैदान में समस्तीपुर क्रिकेट अकैडमी में क्रिकेट का नियमित रूप से अभ्यास किया करता था 
अपने प्रदर्शन से बिहार की ख्याति बढाने वाले अनुकूल राय का जन्म 1999 में समस्तीपुर में हुआ जहां उसने क्रिकेट का ककहरा सीखा। अनुकूल की बचपन से ही क्रिकेट के प्रति गजब की दीवानगी थी। अनुकूल के पिता सुधाकर राय ने बताया कि परिवार का सबसे छोटा बच्चा, अनुकूल पढ़ाई छोड़कर अक्सर क्रिकेट खेलने में व्यस्त रहता था। अनुकूल की इस आदत से परिवार वाले उसके भविष्य को लेकर काफी चिंतित रहते थे। 
सुधाकर राय ने बताया कि 7 साल की उम्र में क्रिकेट खेलना शुरू करने के बाद अनुकूल ने समस्तीपुर के आरआईसीसी से खेलना प्रारम्भ किया। स्कूल प्रतियोगिता वीनू मारकंडे टूर्नामेंट के लिए समस्तीपुर में चयनित होने के बाद उनसे कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा। वर्ष 2009-2010 में उसने बिहार के अंडर-14 टीम में जगह बनायी और 2014 में अंडर-16में बिहार का प्रतिनिधित्व किया। श्री राय ने बताया कि क्रिकेट में अपना भविष्य सवारने के लिए अनुकूल झारखंड चला गया । झारखण्ड में क्रिकेट एसोसिएशन के जेनेरल सेक्रेटरी असीम कुमार सिंह की देखरेख में उसकी ट्रेनिंग शुरू हुई। अनुकूल के पिता मानते हैं कि असीम कुमार सिंह ने उसकी प्रतिभा को तराशने में अहम भूमिका निभायी। जमशेदपुर के ट्रेनिंग कैंप में रहते हुए अनुकूल चाईबासा से खेलता रहा है।
अनुकूल के पिता ने बताया कि अनुकूल के प्रदर्शन से प्रभावित हो कर समस्तीपुर के तत्कालीन डीएम कुंदन कुमार ने उसे और आगे बढाने की सलाह दी थी । उन्होंने कहा कि अनुकूल को प्रोत्साहित करते हुए कुंदन कुमार ने उसे क्रिकेट खेलने से कभी नहीं रोकने को कहा था 1 सुधाकर राय ने बताया कि कुंदन कुमार ने अनुकूल के खेल की तारीफ़ करते हुए कहा था कि यह बालक आगे चल कर पिता का नाम रोशन करेगा , जो आज सच साबित हुआ ।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS