ब्रेकिंग न्यूज़
मोतिहारी में बलआ के राज मार्केट स्थित दवा दुकानदार की अपराधियों ने रात्रि में गोली मार हत्या कीरक्सौल के ई. कुंदन श्रीवास्तव ने आर्थिक मदद कर सत्याग्रह ट्रेन से आये यात्रियों को दिया भोजन का पैकेटझारखंड में बिहार सहित अन्य राज्यों से आनेवाली बस की एंट्री नहीं, निजी वाहनों को भी लेना होगा ई-पासमोतिहारी के कोटवा में ट्रक व कार में भीषण टक्कर, एक की मौत चार अन्य घायल, दो की स्थित गंभीरबिहार में सोमवार से लॉकडाउन का पांचवा चरण शुरू, निजी वाहन को पास की जरूरत नहीं, बसों व अन्य वाहनों का किराया नहीं बढ़ाने का निर्देशपाकिस्तानी उच्चायोग के दो ऑफिसर कर रहे थे जासूसी, भारत ने 24 घंटे के भीतर दोनों को देश छोड़ने को कहाप्रवासियों कामगारों से भरी बस मोतिहारी के चकिया में ट्रेक्टर से टकराई, ट्रेक्टर चालक घायल, कई मजदूर चोटिल, जा रही थी सहरसासाजिद-वाजिद जोड़ी के वाजिद खान अब नहीं रहे, कोरोना की वजह से गई जान
बिहार
2019 के चुनाव में एनडीए के साथ ही रहेंगे : मांझी
By Deshwani | Publish Date: 4/2/2018 3:29:39 PM
2019 के चुनाव में एनडीए के साथ ही रहेंगे : मांझी

समस्तीपुर। बिहार में समस्तीपुर के ताजपुर हाई स्कूल के परिसर में आज आयोजित संत रविदास जयंती समारोह का आयोजन किया गया। इस समारोह का विधिवत उद्घाटन बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी ने दीप प्रज्वलित कर किया। इस मौके पर पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी ने संत रविदास के बताये मार्गों को जीवन में आत्मसात करने की बात कही।आयोजित सभा को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा की देश में आरक्षण की समीक्षा की आवश्यकता है। साथ ही उन्होंने साफ किया की 2019 के चुनाव में एनडीए के साथ ही रहेंगे।

 
पूर्व सीएम मांझी ने राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के प्रमुख मोहन राव भागवत के उस बयान का समर्थन किया जिसमें उन्होंने देश में आरक्षण की समीक्षा की बात कही थी। जिसके बाद देशभर में आरक्षण को लेकर बहस छिड़ गया था। जीतन राम मांझी ने कहा की आरक्षण के मुद्दा को जानबूझ कर बनाया गया है, अगर कॉमन स्कूलीग सिस्टम की व्यवस्था कर दिया जाय तो इसकी कोई आवश्यकता नहीं रहेगी।
 
वहीं, पूर्व मुख्यमंत्री ने केंद्र सरकार के द्वारा प्रस्तुत आम बजट की प्रशंसा करते हुए कहा की प्रधानमंत्री मुद्रा योजना में तीन लाख कड़ोर खर्च की योजना है जिसमें एक लाख करोड़ सिड्यूल कास्ट पर खर्च किया जायेगा ये काबीले तारीफ है। उन्होंने बजट के सभी निर्णय की सराहना की। साथ ही उन्होंने एनडीए से अलग होने की अटकलों पर पूछे गए सवाल के जवाब में कहा की जहां भी रहते है धर्य के साथ रहते है, उन्होंने NDA में दरार की बात को खारिज किया। 
 
अल्पसंख्यक के साथ अन्याय और विधानसभा में 50 सीट मांगे जाने के विषय पर पूछे सवाल पर जवाब देते हुए कहा की उनके मुख्यमंत्रित्व काल में 34 निर्णय लिये गये थे जो सभी के हित में था, उन्होंने कहा की मुसलमानों के हित में जो निर्णय लिया गया था उसका अनुपालन वर्त्तमान में सही ढंग से नहीं हो रहा है और उसको अमल में आने के लिए बार बार दबाव देते रहेंगे।
 
 
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS