ब्रेकिंग न्यूज़
पीडीपी से गठबंधन तोड़ने के बाद जम्मू में गरजे अमित शाह, कश्मीर को नहीं होने देंगे अलगअधूरी पड़ी योजनाओं को जल्द पूरा करने का सुशील कुमार मोदी ने दिए निर्देशसर्च अॅापरेशन में पुलिस को मिली बड़ी सफलता, लातेहार से भारी मात्रा में हथियार बरामदकबाड़ी वाले ने किया कबूल, 8500 में खरीदी थी मैट्रिक परीक्षा की गायब हुई कॉपियांसरकारी जमीन पर लालू के कन्हैया ने बनवाया मंदिर, प्रशासन ने नहीं की कोई कार्रवाईस्वतंत्र विदेश नीति के तहत भारत और चीन से करीबी संबंध बनाए रखेगा नेपालसैफुदीन सोज ने फिर दिया विवादित बयान: पटेल तो कश्मीर पाकिस्तान को देना चाहते थे पर नेहरू नहीं मानेउत्पाद विभाग की टीम ने जब्त की 201 कार्टन नेपाली शराब
बिहार
किसानों की आय दोगुनी करने में मशरुम होगा सहायक: डॉ.एसके वाएणेर्य
By Deshwani | Publish Date: 24/3/2017 4:38:08 PM
किसानों की आय दोगुनी करने में मशरुम होगा सहायक: डॉ.एसके वाएणेर्य

समस्तीपुर, (हि.स.)। डॉ. राजेंद्र प्रसाद केंद्रीय विश्वविद्यालय के बेसिक साइंस सभागार में उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश सहित राज्य के बांका,जमुई, मधुबनी, मुजफ्फरपुर,समस्तीपुर,वैशाली जिले से अाए प्रशिक्षणार्थियों को सम्बोधित करते विश्वविद्यालय के डीन डॉ एसके वाएणेर्य ने कहा कि किसानों की आमदनी दोगुना करने में मशरूम का उत्पादन का व्यवसाय बेहतर विकल्प है ।

 इस मौके पर डीआर डॉ.जेपी उपाध्याय ने कहा कि मशरूम पौष्टिक आहार के साथ ही कुपोषण दूर कर ब्लड प्रेशर ,ह्रदय रोग जैसी बीमारी पर नियंत्रण करती है । इस अवसर पर एडीआर डॉ. मिथिलेश कुमार ,विभागाध्यक्ष डॉ.एमरान झा ,मसरूम वैज्ञानिक डॉ. दया राम के अतिरिक्त कई अन्य लोग भी उपस्थित थे। भारतीय कृषि अनुसंधान क्षेत्रीय स्टेशन पूसा के अध्यक्ष डॉ. आशीष कुमार ने बदलते मौसम के परिवेश में फसल एंव बीज उत्पादन विषय के सात दिवसीय प्रशिक्षण को संबोधित करते हुए कहा कि गुणवक्तायुक्त बीज का उपयोग महत्वपूर्ण कड़ी है । उन्होंने किसानों का आह्वान किया कि वे बीज उत्पादन में सहभागी बने ।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS