ब्रेकिंग न्यूज़
कार और ट्रक की भीषण टक्कर में मुजफ्फरपुर के चार लोगों की मौत, एक अन्य घायलअमेरिकी विदेश मंत्री माइक पॉम्पियो ने की प्रधानमंत्री मोदी और विदेश मंत्री से की मुलाकातखुला विश्व प्रसिद्ध शक्तिपीठ कामाख्या मंदिर का कपाट, श्रद्धालुओं ने किए मां के दर्शनअगस्ता वेस्टलैंड केस: राजीव सक्सेना को सुप्रीम कोर्ट से झटका, विदेश जाने पर लगा रोकऔषधीय गुणों से युक्त कालमेघ का करें खेती, आय के साथ रोगों के लिए नहीं जाना पड़ेगा अस्पतालबाॅलीवुड अभिनेत्री करिश्मा कपूर ने शेयर की ऐसी फोटो, इंटरनेट पर मचा धमालहाईटेंशन की चपेट में आयी बस, चार यात्रियों की मौत, 27 झुलसे, परिजनों ने की सरकार से मुआवजा की मांगगृहमंत्री शाह आज से दो दिवसीय कश्मीर दौरे पर, अमरनाथ यात्रा की सुरक्षा व्यवस्था का लेंगे जायजा
झारखंड
रांची: हटिया के ठेकेदार से लेवी वसूलने पहुंचे थे उग्रवादी, तुपुदाना में मुठभेड़, एक अरेस्ट
By Deshwani | Publish Date: 3/9/2018 12:24:30 PM
रांची: हटिया के ठेकेदार से लेवी वसूलने पहुंचे थे उग्रवादी, तुपुदाना में मुठभेड़, एक अरेस्ट

रांची। ठेकेदार से लेवी वसूलने आये पीएलएफआइ उग्रवादियों और पुलिस के बीच रविवार दोपहर करीब 1।30 बजे तुपुदाना ओपी क्षेत्र के तुपुदाना-कर्रा रोड में मुठभेड़ हो गयी। पहले उग्रवादियों ने पुलिस पर फायरिंग शुरू कर दी। पुलिस ने भी जवाब में फायरिंग की। पुलिस को भारी पड़ता देख दो उग्रवादी बाइक से भाग निकले। कुछ पैदल ही भागने लगे। 
 
पुलिस ने पीछा कर एक को गिरफ्तार कर लिया। उसका नाम कृष्णा मुंडा बताया जा रहा है। वह पीएलएफआइ का उग्रवादी है या  समर्थक पुलिस सत्यापन कर रही है। हालांकि पुलिस अधिकारियों ने किसी उग्रवादी की गिरफ्तारी की पुष्टि अधिकारिक रूप से नहीं की है। इलाके में सर्च अभियान चलाया जा रहा है। 
 
जानकारी के अनुसार, हटिया के एक ठेकेदार से पीएलएफआइ उग्रवादियों के नाम पर पांच लाख रुपये लेवी मांगी गयी थी। इसके लिए ठेकेदार को परचा भी दिया गया था। पुलिस सूत्रों के अनुसार, ठेकेदार को धमकी दी गयी थी कि पांच लाख रुपये का भुगतान कर दो, नहीं तो अंजाम बुरा होगा। शनिवार की रात भी ठेकेदार से उग्रवादियों ने लेवी की राशि वसूलने का प्रयास किया था। लेकिन इसमें वे सफल नहीं हो पाये थे। 
 
रविवार को उग्रवादियों ने ठेकेदार को पैसा लेकर तुपुदाना-कर्रा रोड स्थित एक निर्धारित स्थान पर दिन में ही बुलाया था। पूरे मामले की जानकारी मिलने के बाद एसएसपी अनीश गुप्ता ने इसे गंभीरता से लिया। उन्होंने  क्यूआरटी की टीम को उग्रवादियों को ट्रैप करने के लिए भेजा। पुलिस के जवान ठेकेदार से थोड़ी दूर पर खड़े हो गयी। इसी बीच लेवी वसूलने आये उग्रवादियों  ने पुलिस को देख लिया और फायरिंग शुरू कर दी।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS