ब्रेकिंग न्यूज़
मोतिहारी में बलआ के राज मार्केट स्थित दवा दुकानदार की अपराधियों ने रात्रि में गोली मार हत्या कीरक्सौल के ई. कुंदन श्रीवास्तव ने आर्थिक मदद कर सत्याग्रह ट्रेन से आये यात्रियों को दिया भोजन का पैकेटझारखंड में बिहार सहित अन्य राज्यों से आनेवाली बस की एंट्री नहीं, निजी वाहनों को भी लेना होगा ई-पासमोतिहारी के कोटवा में ट्रक व कार में भीषण टक्कर, एक की मौत चार अन्य घायल, दो की स्थित गंभीरबिहार में सोमवार से लॉकडाउन का पांचवा चरण शुरू, निजी वाहन को पास की जरूरत नहीं, बसों व अन्य वाहनों का किराया नहीं बढ़ाने का निर्देशपाकिस्तानी उच्चायोग के दो ऑफिसर कर रहे थे जासूसी, भारत ने 24 घंटे के भीतर दोनों को देश छोड़ने को कहाप्रवासियों कामगारों से भरी बस मोतिहारी के चकिया में ट्रेक्टर से टकराई, ट्रेक्टर चालक घायल, कई मजदूर चोटिल, जा रही थी सहरसासाजिद-वाजिद जोड़ी के वाजिद खान अब नहीं रहे, कोरोना की वजह से गई जान
रांची
मनी लॉन्ड्रिंग में पूर्व मंत्री कमलेश सिंह व उनकी पत्नी के खिलाफ चार्जफ्रेम
By Deshwani | Publish Date: 26/2/2018 6:26:09 PM
मनी लॉन्ड्रिंग में पूर्व मंत्री कमलेश सिंह व उनकी पत्नी के खिलाफ चार्जफ्रेम

रांची। मनी लॉन्ड्रिंग में पूर्व मंत्री कमलेश सिंह व उनकी पत्नी मधु सिंह के खिलाफ ईडी के विशेष न्यायाधीश एके मिश्रा की अदालत में चार्जफ्रेम किया गया। इन पर पांच करोड़ 83 लाख 64हजार 197 रुपये मनी लॉन्ड्रिंग का आरोप है। इस मामले में कमलेश सिंह के पुत्र सूर्य सोनल सिंह, बेटी अंकिता सिंह और दामाद नरेंद्र मोहन सिंह के खिलाफ चार्जफ्रेम के बिंदु पर सुनवाई के लिए 12 मार्च की तिथि अदालत ने निर्धारित की है। 

पूर्व मंत्री कमलेश सिंह सहित पांच के खिलाफ 12 अगस्त, 2013 को पूरक आरोप पत्र दाखिल किया गया था। ईडी टीम द्वारा विशेष न्यायाधीश की अदालत में दाखिल चार्जशीट में कमलेश सिंह, उनकी पत्नी मधु सिंह, बेटा सूर्य सोनल सिंह, बेटी अंकिता व दामाद नरेंद्र मोहन सिंह का नाम शामिल है। इस आरोप पत्र में कमलेश के खिलाफ पांच करोड़ 83 लाख रुपये मनी लांड्रिंग करने का आरोप लगाया गया है। इसमें अलग-अलग जगहों पर चालिस लाख रुपये की जमीन में लगाने का आरोप हैं। साथ ही, एक करोड़ रुपये ब्लैक मनी को ह्वाइट करने का प्रयास बताया गया है।

इसमें कहा गया है कि कमलेश के दामाद नरेंद्र मोहन के एकाउंट में एक ही दिन 83 लाख रुपये जमा हुए। इसके बाद नरेंद्र ने अपनी पत्नी सह कमलेश की बेटी अंकिता के एकाउंट में एक करोड़ रुपये चेक के माध्यम से लोन के रुप में दिया। अंकिता ने उस पैसे को अपने भाई व कमलेश सिंह के पुत्र सूर्य सोनल को दिया। सूर्य सोनल ने अपने पिता कमलेश के एकाउंट में उस रुपये को स्थानांतरित किया। इस तरह से बताया गया है कि ब्लैक मनी को ह्वाइट करने के लिए एक ही पैसे को कई प्रक्रियाओं में घुमाया गया है।

image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS