ब्रेकिंग न्यूज़
कार और ट्रक की भीषण टक्कर में मुजफ्फरपुर के चार लोगों की मौत, एक अन्य घायलअमेरिकी विदेश मंत्री माइक पॉम्पियो ने की प्रधानमंत्री मोदी और विदेश मंत्री से की मुलाकातखुला विश्व प्रसिद्ध शक्तिपीठ कामाख्या मंदिर का कपाट, श्रद्धालुओं ने किए मां के दर्शनअगस्ता वेस्टलैंड केस: राजीव सक्सेना को सुप्रीम कोर्ट से झटका, विदेश जाने पर लगा रोकऔषधीय गुणों से युक्त कालमेघ का करें खेती, आय के साथ रोगों के लिए नहीं जाना पड़ेगा अस्पतालबाॅलीवुड अभिनेत्री करिश्मा कपूर ने शेयर की ऐसी फोटो, इंटरनेट पर मचा धमालहाईटेंशन की चपेट में आयी बस, चार यात्रियों की मौत, 27 झुलसे, परिजनों ने की सरकार से मुआवजा की मांगगृहमंत्री शाह आज से दो दिवसीय कश्मीर दौरे पर, अमरनाथ यात्रा की सुरक्षा व्यवस्था का लेंगे जायजा
रांची
कुरमी को अनुसूचित जनजाति में शामिल करने को लेकर महारैली 28 को
By Deshwani | Publish Date: 27/1/2018 7:19:11 PM
कुरमी को अनुसूचित जनजाति में शामिल करने को लेकर महारैली 28 को

रांची (हि.स.)। कुरमी जाति को अनुसूचित जनजाति की सूची में शामिल करने की मांग को लेकर कुरमी विकास मोर्चा का महारैली 28 जनवरी को मोरहाबादी मैदान में आयोजित किया गया है, जिसमें कुरमी समाज के हजारों लोग शामिल होंगे और अपनी आवाज सरकार तक पहुंचाएंगे। यह जानकारी शनिवार को मोरहाबादी मैदान में आयोजित प्रेसवार्ता में मोर्चा के अध्यक्ष शीतल ओहदार ने दी।
शीतल ओहदार ने कहा कि यह महारैली ऐतिहासिक होगी। मोर्चा कुरमी जाति को अनुसूचित जनजाति की सूची में शामिल करने की मांग को लेकर बीते कई दिनों से आंदोलन कर रहा है लेकिन अभी तक सरकार ने इस दिशा में कोई पहल नहीं की है। इसी को लेकर इस महारैली का आयोजन किया गया है।
शीतल ओहदार ने कहा कि महारैली को विफल करने के लिए राज्य सरकार की ओर से तरह तरह के हथकंडे अपनाए जा रहे हैं लेकिन मोर्चा इससे डरने वाली नहीं है। उन्होंने कहा कि महारैली के बाद भी यदि सरकार कुरमी जाति को अनुसूचित जनजाति की सूची में शामिल करने का पहल नहीं करती है, तो आने वाले दिनों में अनिश्चितकालीन आर्थिक नाकेबंदी की जाएगी। प्रेसवार्ता में रूपेश महथा, रूपलाल महतो, राजकुमार महतो आदि उपस्थित रहे।
 

image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS