ब्रेकिंग न्यूज़
'दंगल' फेम सुहानी भटनागर की प्रेयर मीट में पहुंचीं बबीता फोगाटबिहार:10 जोड़ी ट्रेनें 25 फरवरी तक रद्द,नरकटियागंज-मुजफ्फरपुर रेलखंड की ट्रेनें रहेंगी प्रभावितप्रधानमंत्री ने मिजोरम के निवासियों को राज्‍य के स्‍थापना दिवस पर शुभकामनाएं दीउपराष्ट्रपति ने कहा- भारत सुषुप्‍त अवस्‍था से जागृत अवस्‍था में प्रवेश कर चुका हैमोतीहारी: गांधी कुष्ठ कॉलोनी में मरीजों के बीच खाद्य सामग्री व सफाई सामग्री के साथ-साथ कंबल का भी वितरण किया गयामहागठबंधन छोड़ नीतीश शामिल हुए एनडीए में, बिहार में बनी एनडीए की सरकारमोतीहारी: राष्ट्रीय मतदाता दिवस पर महात्मा गांधी ऑडिटोरियम में नव मतदाता सम्मेलन का आयोजनउपराष्ट्रपति ने श्री हरिशंकर भाभड़ा के निधन पर शोक व्यक्त किया
झारखंड
झारखंड में धड़ल्ले से हो रही पशु तस्करी : योगी अश्विनी
By Deshwani | Publish Date: 25/8/2017 7:52:01 PM
झारखंड में धड़ल्ले से हो रही पशु तस्करी : योगी अश्विनी

रांची, (हि.स.)। झारखंड में पशु तस्करी धड़ल्ले से हो रही है। यहां बाहर से लाकर गौ हत्या की जा रही है। हालांकि पुलिस प्रशासन इसे रोकने के लिए लगातार कदम उठा रहा है। राज्य सरकार के आदेश के बाद भी झारखंड में गौ हत्या नहीं रूक रही है। यह बातें भारतीय पशु कल्याण बोर्ड की अधिकारी निरू गुप्ता और योग गुरू योगी अश्विनी ने शुक्रवार हो पत्रकारों से कही। योग गुरू योगी अश्विनी ने कहा कि झारखंड के बगोदर, बरकट्ठा में गौ तस्करी जोर-शोर से हो रही है। यहां बाहर से उंट और गाय लाया जा रहा है।

उन्होंने कहा कि गुरूवार की रात उनकी टीम ने डोरंडा के कुसई कॉलोनी से 350 पशुओं को पुलिस प्रशासन की मदद से उन्होंने मुक्त कराया है। उन्होंने कहा कि कुसई कालोनी की स्थिति बहुत ही दयनीय है। राज्य सरकार के रोक के बाद भी यहां गौ हत्या हो रही है। इसे रोकने के लिए प्रशासन को अभियान चलाना होगा, ताकि गौ हत्या नहीं हो। उन्होंने कहा कि आज बगोदर और बरकट्ठा में बाहर से जंगलों के रास्तों से राजस्थान से उंटों को लाया जा रहा है। बगोदर में भी हमारी टीम ने पुलिस प्रशासन की मदद से 130 उंटों को छुड़वाया है। झारखंड में गौ तस्करी के खिलाफ पुलिस अच्छा काम कर रही है। यहां की पुलिस काफी सहयोग कर रही है। यह पूछे जाने पर कि कुसई कॉलोनी से जब्त पशुओं को अब कहां रखेंगे, इस पर उन्होंने कहा कि प्रशासन ने एक मैदान उपलब्ध करवाया है, अगर यहां के गौशाला में गायों को रखा गया, तो ठी है, नहीं तो वह सभी गायों को रखेंगे। उन्होंने बताया कि पूरे भारत में उनकी 35 गौशाला हैं। प्रेसवार्ता में शिवन सहित अन्य लोग उपस्थित थे। 

 
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS