ब्रेकिंग न्यूज़
अत्याधुनिक हथियार बरामदगी मामले में कोटवा निवासी कुख्यात कुणाल को आजीवन कारावास, 42 हजार रुपये का अर्थदंड भी मिलाइस बार का चुनाव मेरे लिए चुनाव है चुनौती नहीं: राधा मोहन सिंहMotihati: सांसद राधामोहन सिंह ने नामांकन दाखिल किया, कहा-मैं तो मोदी के मंदिर का पुजारीमोतिहारी के केसरिया से दो गिरफ्तार, लोकलमेड कट्टा व कारतूस जब्तभारतीय तट रक्षक जहाज समुद्र पहरेदार ब्रुनेई के मुआरा बंदरगाह पर पहुंचामोतिहारी निवासी तीन लाख के इनामी राहुल को दिल्ली स्पेशल ब्रांच की पुलिस ने मुठभेड़ करके दबोचापूर्व केन्द्रीय कृषि कल्याणमंत्री राधामोहन सिंह का बीजेपी से पूर्वी चम्पारण से टिकट कंफर्मपूर्व केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री सांसद राधामोहन सिंह विभिन्न योजनाओं का उद्घाटन व शिलान्यास करेंगे
झारखंड
मंत्री से रंगदारी मांगने के आरोपी बच्चे पकड़े गये, चोरी की मोबाइल से भेजा था एसएमएस
By Deshwani | Publish Date: 2/8/2017 7:49:46 PM
मंत्री से रंगदारी मांगने के आरोपी बच्चे पकड़े गये, चोरी की मोबाइल से भेजा था एसएमएस

रांची, (हि.स.)। झारखंड के श्रम नियोजन एवं प्रशिक्षण मंत्री राज पलिवार से एसएमएस के जरिये रंगदारी मांगने के आरोप में तीन बच्चों को पकड़ा गया है, जबकि एक बच्चे का पिता मदन राय फरार है। बताया जाता है कि सुल्तानगंज से देवघर कांवर यात्रा के दौरान कानपुर के एक कांवरिये की मोबाइल चोरी हो गयी थी। चोरी की मोबाइल से ही नाबालिग लड़कों ने मंत्री को एसएमएस किया था। एसपी ए विजयालक्ष्मी ने बुधवार को बताया कि इस मामले का तार मारगोमुंडा से जुड़ा मिला और सारे मामले साफ हो गये। मंत्री से रंगदारी के साथ-साथ धमकी देने की ये साजिश किसी दुश्मनी या अपराध की नीयत से नहीं बल्कि सनसनी फैलाने और जिले की पुलिस कितनी एक्टिव है, यह जांचने के लिए की गयी थी । पुलिस प्रशासन को टेस्ट करने की इस सोच की उत्पति तीन नाबालिगों की है, जिसने श्रम मंत्री के नंबर पर धमकी भरे एसएमएस भेज सनसनी फैला दी। पूरे मामले का उद्भेदन तब हुआ जब पुलिस ने मारगोमुंडा थाना के कदरो में छापेमारी की। छापेमारी मदन राय के घर में की गयी, जहां से एसएमएस के लिए इस्तेमाल किया गया सिम और मोबाइल मदन राय के घर और बाड़ी से बरामद किया गया। एसपी ने बताया कि तीन नाबालिग बच्चों ने यह काम किया है, जिन्हें पकड़ लिया गया है। इनमें से एक बच्चे के पिता मदन राय पाॅकेटमारी में शामिल हैं। चोरी किये गये मोबाइल को ही नाबालिग लड़कों ने एसएमएस भेजने के लिए इस्तेमाल किया था।

गौरतलब है कि शनिवार की रात नौ बजकर आठ मिनट पर मंत्री के निजी मोबाइल नंबर पर एक अज्ञात नंबर से अपशब्दों के साथ एक करोड़ की रंगदारी मांगी गयी थी। पैसे नहीं दिये जाने पर पूरे परिवार को खत्म करने की धमकी भी एसएमएस में लिखी गयी थी।
 
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS