ब्रेकिंग न्यूज़
नेपाल पुलिस ने एक भारतीय नागरिक को कई देशों के विदेशी रूपयो के साथ किया गिरफ्ताररक्सौल में गणेश महोत्सव के अवसर पर भव्य कलश यात्रा का आयोजनभारत-नेपाल सीमा पर एक संदिग्ध बगलादेशी गिरफ्तारमोतिहारी: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जन्मदिन के अवसर पर 17 से शुरू होगी पीएम विश्वकर्मा सम्मान योजना, 140 जातियों को मिलेगा लाभमोतिहारी: ईस्ट चंपारण लायंस ने ब्लड डोनेशन कैंप का किया आयोजनविश्व हिन्दू परिषद व बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने निकाला विरोध मार्चयूजीसी ने कहा- डिग्री व प्रोविजनल प्रमाणपत्रों पर आधार नम्बर छापने की अनुमति नहींविकास वैभव और चिराग पासवान को मानव अधिकार रक्षक की महिला टीम ने बांधी राखी
रांची
सावन के तीसरे सोमवार पर जयकारों से गूंजते रहे शिवालय
By Deshwani | Publish Date: 24/7/2017 11:01:48 AM
सावन के तीसरे सोमवार पर जयकारों से गूंजते रहे शिवालय

रांची, (हि.स.)। सावन माह की तीसरे सोमवार को हजारों श्रद्धालुओं ने शिवालयों में जलाभिषेक किया। शहर के विभिन्न इलाकों में स्थित शिव मंदिरों में खूब धूम रही। महिला, पुरुष, बच्चों और बुजुर्गों ने शिवलिंग पर जल अर्पण किया। कई स्थानों पर धार्मिक अनुष्ठान एवं महारुद्राभिषेक हुआ। 
रविवार की आधी रात से लेकर सोमवार की भोर तक नामकुम के स्वर्णरेखा नदी से लेकर पहाड़ी बाबा तक यही नजारा था। सुबह तीन बजे से ही कावंड़ियों का विशाल जत्था पहाड़ी मंदिर के मुख्य द्वार पर पहुंच गया था। सीढ़ियां और नीचे तक कांवड़ियों की लंबी कतार लगी गयी थी। मंदिर के गर्भगृह तक जाने वाले मार्ग पर भक्तों की भीड़ हाथ में जल लेकर चढ़ाने को आतुर थी। मंदिर में आरती के बाद पट खुलते ही भक्तों का रेला टूटा पड़ा। अरघे में जल डालकर बाबा का जयकारा लगाते हुए भक्त मंदिर से बाहर निकल जाते। यह क्रम सुबह आठ बजे तक चलता रहा। सुबह आठ बजे के बाद आप-पास गली-मोहल्लों से समूह में महिलाएं और युवतियों ने पहाड़ी बाबा की पूजा-अर्चना की। 
पहाड़ी मंदिर के नीचे मेला का दृश्य है। बाहर से संपेरे भी आये हुए हैं। वे सांप से आशीर्वाद दिला रहे हैं। वहीं पास के दुकानों में दूध, बेल पत्र, धतूरा, फूल की खूब बिक्री हो रही है। बच्चों के लिए खिलौने, तो सावन में हरी-हरी कांच की चूड़ियां महिलाओं को आकर्षित कर रही हैं। इधर, सोमवार पर उमड़ने वाली अत्यधिक भीड़ को देखते हुए प्रशासन ने विशेष इंतजाम किये हैं। पुलिस के जवान चप्पे-चप्पे पर नजर रखे हुए हैं।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS