ब्रेकिंग न्यूज़
अत्याधुनिक हथियार बरामदगी मामले में कोटवा निवासी कुख्यात कुणाल को आजीवन कारावास, 42 हजार रुपये का अर्थदंड भी मिलाइस बार का चुनाव मेरे लिए चुनाव है चुनौती नहीं: राधा मोहन सिंहMotihati: सांसद राधामोहन सिंह ने नामांकन दाखिल किया, कहा-मैं तो मोदी के मंदिर का पुजारीमोतिहारी के केसरिया से दो गिरफ्तार, लोकलमेड कट्टा व कारतूस जब्तभारतीय तट रक्षक जहाज समुद्र पहरेदार ब्रुनेई के मुआरा बंदरगाह पर पहुंचामोतिहारी निवासी तीन लाख के इनामी राहुल को दिल्ली स्पेशल ब्रांच की पुलिस ने मुठभेड़ करके दबोचापूर्व केन्द्रीय कृषि कल्याणमंत्री राधामोहन सिंह का बीजेपी से पूर्वी चम्पारण से टिकट कंफर्मपूर्व केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री सांसद राधामोहन सिंह विभिन्न योजनाओं का उद्घाटन व शिलान्यास करेंगे
झारखंड
इसरो ने 23 जून के मिशन से कमाये 61 लाख यूरो
By Deshwani | Publish Date: 19/7/2017 7:25:04 PM
इसरो ने 23 जून के मिशन से कमाये 61 लाख यूरो

 नई दिल्ली, (हि.स.)। इसरो की व्यावसायिक इकाई एंट्रिक्स कॉरपोरेशन लिमिटेड (एसीएल) ने 23 जून को पीएसएलवी सी 38 मिशन के माध्यम से 29 विदेशी नेनो सेटलाइट अंतरिक्ष में भेजकर करीब 61 लाख यूरो कमाये हैं। 

प्रधानमंत्री कार्यालय के अंतर्गत अंतरिक्ष विभाग के राज्यमंत्री जितेंद्र सिंह ने लिखित उत्तर में बताया कि 30 नैनोसेलेटियों में से 29 एंट्रिक्स कॉरपोरेशन लिमिटेड (एन्ट्रिक्स) और विदेशी ग्राहक के बीच वाणिज्यिक व्यवस्था के तहत लॉन्च किए गए थे। वहीं एक नैनो सैटेलाइट नूरुल इस्लाम विश्वविद्यालय (तमिलनाडु) का था। उन्होंने यह बयान सांसद सताव राजीव और पी.आर. सुंदरम के पूछे गए एक प्रश्न के जवाब दिया। 
यह 29 सेटलाइट ऑस्ट्रिया, बेल्जियम, चिली, चेक गणराज्य, फ्रांस, फिनलैंड, जर्मनी, इटली, जापान, लाटविया, लिथुआनिया, स्लोवाकिया, ब्रिटेन और अमेरिका के थे। परिणामस्वरूप एंटीट्रिक्स ने लगभग 6.1 मिलियन डॉलर की विदेशी मुद्रा अर्जित की जो यह लगभग 45.2 करोड़ रुपये है।
1990 और 2014 के बीच इसरो ने विदेशी ग्राहकों के 40 उपग्रहों को लॉच कर 484 करोड़ रुपये कमाए। 2015 में, अंतरिक्ष विभाग द्वारा जारी किए गए एक बयान के मुताबिक व्यावसायिक प्रक्षेपण सेवाओं के माध्यम से एंटरिक्स ने 230 करोड़ रुपये कमाए। तब से एक महत्वपूर्ण बदलाव यह रहा है कि अमेरिका सबसे बड़ा ग्राहक बन गया है जिसका पहला सेटलाइट 2015 में लॉच किया गया था। 
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS