ब्रेकिंग न्यूज़
भाजपा नेता रवि किशन ने शाहीनबाग़ के विरोध को बताया विपक्ष की साजिश, कहा - 500 रुपये लेकर महिलाएं कर रहीं प्रदर्शनपरीक्षा में अच्‍छे अंक ही सबकुछ नहीं - मोदी, परीक्षा पे चर्चा-2020 कार्यक्रम में देश भर के दो हजार से अधिक विद्यार्थी ले रहे भागजम्‍मू कश्‍मीर के शोपियां जिले में 3 आतंकवादी ढेर, सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ जारीतहकीकात बाद दें किराया, मोतिहारी के अंबिकानगर लॉज से पटना से अपहृत छात्र मुक्त, प्रिंस पाण्डेय समेत 5 गिरफ्तारमोतिहारी की सांस्कृतिक भूमि को उर्वरा बनानेवाले पूर्व वीसी डॉ वीरेन्द्रनाथ पाण्डेय का पटना में निधनकेन्द्र सरकार के गृह राज्यंत्री, बिहार के भाजपा अध्यक्ष व विधायक साथ रक्सौल में 47 वी बटालियन आउट पोस्ट का जायजा लियाबेतिया में नाजायज संबंध के विरोध पर पति ने पत्नी को दिया तलाकमोतिहारी के सुगौली में परिज सुबह जगे तो देखा पति व गर्भवती पत्नी की गला रेत कर हत्या, फौरेंसिक टीम पहुंची, खून से सना चाकू बरामद, एसआईटी गठित
राज्य
यूपी सरकार विरोध प्रदर्शनों के दौरान सार्वजनिक संपत्ति को हुए नुकसान की भरपाई उपद्रवियों से जुर्माना वसूलकर करेगी
By Deshwani | Publish Date: 23/12/2019 3:45:51 PM
यूपी सरकार विरोध प्रदर्शनों के दौरान सार्वजनिक संपत्ति को हुए नुकसान की भरपाई उपद्रवियों से जुर्माना वसूलकर करेगी

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में हाल के विरोध प्रदर्शनों के दौरान सार्वजनिक संपत्ति को हुए नुकसान की लागत दंगाइयों से वसूल की जाएगी। प्रदेश के उप-मुख्‍यमंत्री दिनेश शर्मा ने रविवार को लखनऊ में संवाददाता सम्‍मेलन में कहा कि इस सिलसिले में प्रक्रिया शुरू हो चुकी है।
 
जो लोग जुर्माना अदा करने की स्थिति में नहीं होंगे उनकी सम्‍पत्ति जब्‍त कर ली जाएगी। उन्‍होंने कहा कि उच्‍चतम न्‍यायालय ने अपने आदेश में कहा है कि सार्वजनिक संपत्ति को नुकसान पहुंचाने वालों से इसकी वसूली की जाए। उन्‍होंने कहा कि विभिन्‍न जिलों में हिंसक प्रदर्शनों में पॉप्‍युलर फ्रंट ऑफ इंडिया और प्रतिबंधित स्‍टूडेंट्स इस्‍लॉमिक मूवमेंट ऑफ इंडिया-सिमी की भूमिका सामने आई है।

उपमुख्‍यमंत्री ने बताया कि विपक्षी दलों के कार्यकर्ताओं के भी हिंसा में शामिल होने के सबूत हैं। कानपुर में पुलिस ने एक विधायक को भी गिरफ्तार किया है। संभल में एक मौजूदा विधायक लोगों को आगजनी और पत्‍थरबाजी के लिए उकसा रहे थे।

उन्‍होंने आरोप लगाया कि विपक्षी दल केवल अल्‍पसंख्‍यकों के वोट के लिए राज्‍य में हिंसा भड़का रहे हैं।
इस बीच, प्रदेश भाजपा अध्‍यक्ष स्‍वतंत्र देवसिंह ने कहा कि पार्टी 26 दिसम्‍बर से 25 जनवरी तक नागरिकता संशोधन अधिनियम को लेकर एक महीने का जागरूकता अभियान चलाएगी।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS