ब्रेकिंग न्यूज़
चाकू से घायल मोतिहारी, चांदमारी के युवक की मौत, मझौलिया निवासी आरोपित हमलावर को लोगों ने दबोचाबिहार के शिक्षा मंत्री विजय चौधरी ने कहा- सातवें चरण की शिक्षक भर्ती अगले महीने होगी शुरूरक्सौल: आईसीपी लिंक रोड का उच्चाधिकारियों ने किया निरीक्षणबिहार: राज्य के आधे जिलों में बिजली गिरने के साथ भारी बारिश की संभावना, अगले 24 घंटे का अलर्टप्रधानमंत्री ने विद्युत क्षेत्र की पुनर्विकसित वितरण क्षेत्र योजना का शुभारम्भ कियातेजी से फैल रहा मंकीपॉक्स वायरसआयकर विभाग ने मुंबई में तलाशी अभियान चलाया64 प्रतिशत वोटों के साथ द्रौपदी मुर्मू भारत की 15वीं, अब तक की सबसे कम उम्र व पहली जनजातीय महिला राष्‍ट्रपति चुनी गईं
राज्य
उत्तर प्रदेश में हम बनाएंगे देश की सबसे उम्दा फिल्म सिटी: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ
By Deshwani | Publish Date: 19/9/2020 9:05:17 AM
उत्तर प्रदेश में हम बनाएंगे देश की सबसे उम्दा फिल्म सिटी: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ

लखनऊ: देश- विदेशों में सबसे बड़े हिंदी फिल्मोद्योग के रूप में प्रसिद्ध मुंबई से यह  खिताब भविष्य में छिन सकता है। उत्तर प्रदेश सरकार ने अब देश की सबसे बड़ी और खूबसूरत फिल्म सिटी बनाने की घोषणा की है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि देश को एक अच्छी फिल्म सिटी की जरूरत है।  यह जिम्मेदारी लेने के लिए तैयार है। हम एक उम्दा फिल्म सिटी तैयार करेंगे। फ़िल्म सिटी के लिए नोएडा, ग्रेटर नोएडा और यमुना एक्सप्रेसवे का क्षेत्र बेहतर होगा। यह फ़िल्म सिटी फ़िल्म निर्माताओं को एक बेहतर विकल्प उपलब्ध कराएगी। साथ ही, रोजगार सृजन की दृष्टि से भी अत्यंत उपयोगी प्रयास होगा। इस दिशा में भूमि के विकल्पों के साथ यथाशीघ्र कार्ययोजना तैयार की जाए।

 

मुख्यमंत्री शुक्रवार को अपने आवास पर वीडियो कान्फ्रेंसिंग के जरिये मेरठ मंडल के जिलों मेरठ, हापुड़, बागपत, गौतमबुद्ध नगर, गाजियाबाद, बुलन्दशहर के विकास कार्यों की समीक्षा कर रहे थे। वीडियो कान्फ्रेंसिंग में जनप्रतिनिधिगण और मंडल के वरिष्ठ अधिकारी सम्मिलित थे। इस अवसर पर मुख्यमंत्री योगी ने जनप्रतिनिधियों से फीडबैक प्राप्त करते हुए अधिकारियों को दिशा-निर्देश दिए।

 

मुख्यमंत्री  ने गाजियाबाद में जनप्रतिनिधियों के प्रशिक्षण के लिए प्रस्तावित केंद्र के निर्माण कार्य को शीघ्र प्रारंभ करने के निर्देश दिए। मेरठ के हस्तिनापुर ब्लॉक में सोती नदी के पुनरुद्धार के लिए किए जा रहे प्रयासों का उल्लेख करते हुए मुख्यमंत्री ने नदी और तालाब पुनर्जीवन के लिए मनरेगा को माध्यम बनाने की ज़रूरत बताई। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गाजियाबाद और मेरठ स्मार्ट सिटी योजना के कार्यों में तेजी लाने के लिए कहा। मंडल के सभी जिलों में अमृत योजना के कार्यों को समयबद्ध ढंग से पूरा करने पर जोर दिया।

 

योगी ने मण्डलायुक्त को स्मार्ट सिटी और अमृत योजना के कार्यों की साप्ताहिक समीक्षा करने का निर्देश दिया। इन योजनाओं की जिला स्तर पर भी नियमित समीक्षा के निर्देश दिए। मेरठ के ग्राम दादरी में राजकीय महिला महाविद्यालय के निर्माण कार्यों में तेजी लाने के लिए कहा। मुख्यमंत्री ने नोएडा में सफाई कर्मियों तथा बिल्डर्स-बायर्स की समस्याओं के प्रभावी समाधान के निर्देश दिए। बुलंदशहर और गौतमबुद्ध नगर के जिलाधिकारियों को समन्वय के जरिये लंबित परियोजनाओं को आगे बढ़ाने की हिदायत दी।

 

उन्होंने  शासन स्तर पर लंबित मेरठ मंडल के प्रकरणों पर शीघ्र निर्णय लेकर निस्तारण के निर्देश दिए। विकास कार्यों में गति लाने के लिए प्रत्येक परियोजना के लिए एक नोडल अधिकारी तैनात करने को कहा। बरसात के बाद सड़कों को तेजी से गड्ढामुक्त बनाने पर बल दिया। कोविड-19 के मद्देनजर अस्पतालों में ऑक्सीजन और दवाओं की उपलब्धता सुनिश्चित कराने के निर्देश दिए। पंचायत भवनों के लिए भूमि चयन के निर्देश देते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि इस बारे में जनप्रतिनिधियों के साथ संवाद बनाकर कार्यवाही की जाए। ग्रामीण स्तर संचालित निर्माण योजनाओं की जियो टैगिंग कराने के लिए कहा। 

 

मुख्यमंत्री ने कोविड-19 के संक्रमण को नियंत्रित करने के लिए फील्ड स्तर पर किए जा रहे प्रयासों पर सन्तोष व्यक्त करते हुए कहा कि जब तक इस रोग की कोई कारगर दवा अथवा वैक्सीन विकसित नहीं हो जाती, तब तक बचाव ही सबसे अच्छा उपाय है। 

 

गन्ना किसानों को हुए भुगतान की स्थिति की समीक्षा करते हुए योगी ने कहा कि यह सुनिश्चित किया जाए कि नया पेराई सत्र प्रारंभ होने से पूर्व पिछला सारा बकाया भुगतान हो जाए। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार राज्य में एक्सप्रेस-वे का जाल बना रही है। दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस-वे की प्रगति की समीक्षा करते हुए निर्देश दिए कि यह कार्य दिसम्बर 2020 तक पूरा कर लिया जाए।

image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS