राज्य
टेस्टिंग बढ़ने से मामले बढ़े, रोजाना हो रहे 40 हजार तक कोरोना टेस्ट: केजरीवाल
By Deshwani | Publish Date: 5/9/2020 8:25:48 PM
टेस्टिंग बढ़ने से मामले बढ़े, रोजाना हो रहे 40 हजार तक कोरोना टेस्ट: केजरीवाल

नई दिल्ली। दिल्ली में कोविड-19 के मामलों में वृद्धि की पृष्ठभूमि में मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि घबराने की कोई बात नहीं है, हालात काबू में हैं। उन्होंने कहा कि हमारा प्रयास रहा है कि कोरोना के कारण मृत्यु नहीं होनी चाहिए। कल मौत का आंकड़ा गिरकर 13 पर आ गया है जो कुल केसेस के 0.4 प्रतिशत है। ये देश में सबसे कम है। टेस्टिंग बढऩे से दिल्ली में कोरोना के मामलें बढ़ रहे हैं। 

 
केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में ज्यादा कोरोना केस आने की वजह ज्यादा टेस्टिंग है। अगर हम टेस्टिंग कम कर देते तो केस कम हो जाते। लेकिन हमें आकड़ो की चिंता नहीं है। हमने टेस्टिंग बढ़ा कर कोरोना पर हमला कर दिया है। दिल्ली में रोजाना 40 हजार तक कोरोना टेस्ट हो रहे हैं। उन्होंने कहा कि आकडों से घबराने जरूरत नहीं है। केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली के अस्पतालों में बेड की भी कमी नहीं है। कुल 14 हजार बेड कोरोना मरीजों के लिए हैं, जिनमें से केवल 5000 बेड अभी भरे हैं। इसमें से भी 1700 बेड दिल्ली के बाहर से आए मरीजों के लिए हैं। वहीं दिल्ली के अपने कोरोना मरीज फिलहाल 3300 ही हैं।

जांच बढ़ी तो पॉजिटिव मामले बढ़े 
राजधानी दिल्ली में कोरोना के टेस्ट अधिक संख्या में हो रहे हैं और पॉजिटिव केस भी तेजी से सामने आ रहे हैं। एक महीने के दौरान 10-12 हजार से 18-19 हजार और अब 36,000 के साथ 40,000 टेस्ट प्रतिदिन की ओर दिल्ली बढ़ रही है। जुलाई के अंत और अगस्त शुरुआत में जांच और पॉजिटिव मामलों के हिसाब से जो संक्रमण दर थी, इस समय किसी-किसी दिन उसमें 1.5 से 3 प्रतिशत की बढ़ोतरी भी देखी गई। संक्रमण के पीछे लोगों द्वारा बरती जा रही लापरवाही बड़ा कारण है। बीच में जहां कोरोना के मामले एक हजार से नीचे चले गए थे।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS