ब्रेकिंग न्यूज़
भारत सरकार की ओर से हर घर तिरंगा कार्यक्रम का आयोजनप्रधानमंत्री ने पारसी नव वर्ष पर लोगों को बधाई दीडाकघरों के माध्यम से दस दिन की अवधि में एक करोड़ से अधिक राष्ट्रीय ध्वज खरीदे गयेमोतिहारी कस्टम के दो हवलदारों को केन्द्रीय जांच ब्यूरो ने पकड़ा, 20 हजार रुपये घूस लेने का आरोपप्रधानमंत्री ने राष्ट्रमंडल खेल 2022 के भारतीय दल का अभिवादन कियाएनएमडीसी और फिक्की भारतीय खनिज एवं धातु उद्योग पर सम्मेलन का आयोजन करेंगेबिहार: आज बादल गरजने के साथ ठनका गिरने की आशंका, तीन जिलों में भारी बारिश का अलर्टमोतिहारी, हरसिद्धि के जागापाकड़ में महावीरी झंडा के दौरान आर्केस्ट्रा में फायरिंग, दो घायल, प्राथमिकी दर्ज
राज्य
सामूहिक रूप से रोजा इफ्तार बिल्कुल न करें, अपने घरों में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए करें रोजा इफ्तार: जिला प्रशासन
By Deshwani | Publish Date: 22/4/2020 11:01:25 PM
सामूहिक रूप से रोजा इफ्तार बिल्कुल न करें, अपने घरों में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए करें रोजा इफ्तार: जिला प्रशासन

कुशीनगर पवित्र रमजान का महीना शुरू होने वाला है। मुस्लिम सम्प्रदाय के लोग चन्द्र दर्शन के अनुसार अपने पवित्र रमजान माह की शुरूआत करते है। अनेक मुस्लिम धर्मगुरूओं द्वारा रमजान के इस पवित्र महीनें में प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग के दिशा निर्देश एवं जारी एडवाईजरी का पालन करते हुये सोशल डिस्टेंसिंग बनाते हुये अपने घरों में रहकर रोजा, शहरी, इफ्तार तथा नमाज किये जाने की अपील की जा रही है।

उपरोक्त जानकारी देते हुए जिलाधिकारी भूपेंद्र एस चौधरी ने भी सभी मुस्लिम धर्मगुरूओं एवं मुस्लिम संप्रदाय के लोगों से अपील की है कि वे इस पवित्र माह में रोजे के दौरान समाज की, प्रदेश की एवं देश की भलाई के लिए कोरोना वायरस से सभी की सुरक्षा के लिए प्रातः काल की सहरी तथा सायंकाल प्रतिदिन रोजा इफ्तार अपने अपने घरों पर ही करें। सामूहिक रूप से रोजा इफ्तार बिल्कुल न करें। इसके साथ ही नमाज भी घर पर ही अदा करें। जिलाधिकारी ने बताया कि इस समय पूरा देश प्रदेश शहर लॉक डाउन की स्थिति से गुजर रहा है और हर प्रदेश की सरकार, शासन एवं प्रशासन अपने लोगों को इस संक्रमण से बचाने में लगा है क्योंकि कोरोना वायरस ऐसा वायरस है जो एक दूसरे के संपर्क से फैलता है। 
 
 
 
इसलिये मस्जिदों में भीड़ से संक्रमण फैल सकता है। एक ही संक्रमित व्यक्ति हजारों व्यक्तियो को संक्रमित कर सकता है तथा परिवार का एक ही सदस्य संक्रमित होने पर पूरे परिवार को  संक्रमित कर सकता  है। ऐसी स्थिति में यह आवश्यक है कि हम अपने घरों में ही रह कर पांचो टाइम की नमाज अदा करने के साथ सायं काल परिवार के सदस्यों के साथ ही रोजा इफ्तार करें। सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें तथा जिला प्रशासन का हर तरह से सहयोग करें साथ ही अन्य लोगो को घरों में रहने के लिए जागरूक करें।उन्होंने धर्मगुरूओं से अपील की है कि हर अजान के बाद लोगो से घरों में रहने, गलियों में न निकलने, सोशल डिस्टेंसिंग बनाये रखने, हाथो को साबुन से धोते रहने, साफ सफाई बनाये रखनें आदि की अपील अवश्य करें जिससे लोग अधिक से अधिक जागरूक हो सकें। जो व्यवस्था वर्तमान में चल रही है उसका पालन करने की भी अपील जिलाधिकारी ने की है। उन्होंने कहा कि हम-आप, हमारा परिवार तथा हमारे समाज के लोग सभी सुरक्षित रहें, स्वस्थ रहें, इसके लिए शासन ने लॉक डाउन लगाया है। पवित्र रमजान माह त्याग एवं आपसी भाईचारे का महीना है। 
 
 
वर्तमान परिस्थितियों को देखते हुए लोगों से अपील है कि वह गलियों में न निकले। लोगों को जागरूक करें। जिलाधिकारी द्वारा यह भी कहा गया है कि कुशीनगर में लाॅक डाउन व सोशल डिस्टेसिंग के पालन हेतु जो सहयोग जनपद वासियों ने दिया है यह उसी के कारण अभी तक जनपद में कोई भी कोरोना पाजिटिव केस नही है। लेकिन खतरा अभी टला नही है। इसीलिए आप सभी से अपील है कि स्वयं, परिवार, मुहल्ला, जनपद, प्रदेश व देश वासियों के व्यापक हित व स्वास्थ्य को देखते हुए लाॅक डाउन व सोशल डिस्टेसिंग का पालन अवश्य करें। जिला प्रशासन, पुलिस प्रशासन सदैव आपके साथ हैं।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS