ब्रेकिंग न्यूज़
भाजपा प्रदेश अध्यक्ष सह सांसद डॉ. जायसवाल ने रक्सौल में एसआरपी मेमोरियल हॉस्पिटल का किया उदघाट्नराफेल पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले को लेकर अमित शाह ने कहा- राष्ट्र से माफी मांगें कांग्रेस नेताINDvsBAN: पहले दिन का खेल समाप्‍त, भारत का स्‍कोर 1 विकेट पर 86 रनशादी की पहली सालगिरह पर त‍िरुपति पहुंचे रणवीर-दीपिका, देखें PHOTOबाल दिवस पर चाचा नेहरू को किया याद, बच्चों के बीच बांटी गई पठन-पाठन की सामग्रीविश्व मधुमेह दिवस पर सभी सरकारी अस्पतालों लगा जांच शिविर, स्वास्थ्यकर्मियों ने निकाली जागरूकता रैलीबेतिया के गन्ना किसानों के 150599.37 लाख रूपये का भुगतान हुआ: डॉ देवरेचम्पारण प्रक्षेत्र के डीआईजी व बेतिया एसपी ने शिकारपुर थाना का किया निरीक्षण
राज्य
राजधानी दिल्ली में लागू हुई ऑड-ईवन स्कीम, एक्यूआई बेहद खतरनाक स्तर पर बरकरार
By Deshwani | Publish Date: 4/11/2019 11:15:37 AM
राजधानी दिल्ली में लागू हुई ऑड-ईवन स्कीम, एक्यूआई बेहद खतरनाक स्तर पर बरकरार

नई दिल्ली। राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में गंभीर वायु प्रदूषण के मद्देनजर सम-विषम योजना आज (चार नवम्बर) सुबह आठ बजे से शुरू हो गई। पहले दिन दिल्ली की सड़कों पर केवल ऐसे निजी वाहन चल सकेंगे जिनके नंबर प्लेट का अंतिम अंक सम संख्या हो।
 
मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने लोगों से अपील की कि वे अपने बच्चों और शहर के लिए इस नियम का पालन करें। उन्होंने सरकारी मशीनरी से भी यह सुनिश्चत करने को कहा कि पाबंदी के चलते किसी को बेकार में कोई परेशानी ना हो। केजरीवाल ने दिल्लीवासियों से इस स्कीम को सफल बनाने के लिए सहयोग की अपील की है। उन्होंने कहा कि राजधानीवासी इसका पालन करेंगे तो प्रदूषण में कमी  जरूर आएगी।
 
मुख्यमंत्री ने ट्वीट में लिखा है कि 'नमस्ते दिल्ली! प्रदूषण कम करने  के लिए आज से राजधानी दिल्ली में ऑड-ईवन स्कीम शुरू हो रहा है। खुद के लिए, अपने बच्चों की सेहत और अपने दोस्त व परिवार की सांसों के लिए सड़कों पर निकलते समय ऑड-ईवन का जरूर पालन करें। कार शेयर करें। इससे दोस्ती बढ़ेगी, रिश्ते बनेंगे, पेट्रोल बचेगा और प्रदूषण भी कम होगा।' 
 
पहले पंजाब और हरियाणा में पराली जलने से और बाद में दिवाली के समय के दिल्ली-एनसीआर में हुए आतिशबाजी ने शहर की आबोहवा को बेहद खतरनाक स्थिति में पहुंचा दिया है। इसकी वजह से दिल्लीवासियों के साथ-साथ हरियाणा, नोएडा, ग्रेटर नोएडा, गाजियाबाद और मेरठवासियों को सांस लेने में काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है।
 
हालात यहां तक पहुंच गए हैं कि जब लोग अपने घरों से बाहर निकल रहे हैं तो उनकी आंखों जलन और सांस फूलने लगी है। सिस्टम ऑफ एयर क्वालिटी एंड वेदर फोरकास्टिंग एंड रिसर्च (सफर) इंडिया के अनुसार सोमवार को दिल्ली में वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) पीएम 2.5 का स्तर 438 व पीएम 10 का स्तर 571 पर दर्ज किया गया है जो दोनों के स्तर को बेहद खतरनाक श्रेणी का दर्शाता है।
 
उधर, शहर में बढ़ते प्रदूषण के चलते दिल्ली सरकार ने कहा है कि लोग बेवजह घरों से न निकलें। राज्य के स्वास्थ्य मंत्री सत्येन्द्र जैन कहा कि बाहर रह रहे लोग अपना विशेष ध्यान रखें। दिल्ली में प्रदूषण की रोकथाम के लिए आज यानी सोमवार से लेकर 15 नवम्बर तक ऑड-ईवन स्कीम लागू कर दी गई है।
 
इस स्कीम के तहत ऑड वाले दिन यानी जिसकी गाड़ी के आखिरी में ऑड नम्बर 1,3,5,7,9 लिखा हो वह उस दिन चलेगी। इसी तरह ईवन यानी (सम) नम्बर 0, 2, 4, 6, 8 आखिरी में लिखा होगा वह उस दिन चलेगी। इस निमय का उल्लंघन करने पर सरकार ने चार हजार रुपये जुर्माने का प्रवाधान रखा है। हालांकि इस स्कीम से महिलाओं और दो पहिया वाहनों को दूर रखा गया है। यह स्कीम सोमवार से लेकर शनिवार तक लागू होगी। रविवार को इससे छूट मिलेगी। आज से दिल्ली में शुरु हुए ऑड-ईवन स्कीम सुबह 8 बजे से शाम 8 बजे तक ही लागू रहेगी।
 
5 नवम्बर तक दिल्ली-एनसीआर के स्कूल बंद
बढ़ते प्रदूषण में बच्चों की सेहत को ध्यान में रखते हुए राज्य सरकार ने दिल्ली-एनसीआर के सभी सरकारी, गैरसरकारी और मान्यता प्राप्त स्कूलों  को 5 नवम्बर तक बंद करने  का निर्णय लिया है।
 
इन लोगों को मिलेगी इस नियम से राहत
ऑड-ईवन स्कीम में दिल्ली सरकार ने आपातकालीन सेवाओं संबंधित गाड़ियों को राहत प्रदान की गई है। राष्ट्रपति, उपराष्ट्रपति, प्रधानमंत्री, दूसरे राज्यों के मुख्यमंत्रियों और जजों की गाड़ियों को इससे बाहर रखा गया है। इसके अलावा दिव्यांगों को भी नियम से छूट देने का फैसला किया गया है। लेकिन दिल्ली सरकार ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और दिल्ली सरकार के मंत्रियों की गाड़ियों को छूट नहीं देने का फैसला किया है।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS