ब्रेकिंग न्यूज़
मैट्रिक में समस्तीपुर के दुर्गेश ने बिहार में द्वितीय स्थान हासिल किया, टॉप टेन में समस्तीपुर के हैं पांच छात्रसमस्तीपुर में ट्रेन रोकने पर प्रवासियों ने काटा बवालसीबीएसई की बाकी परीक्षाएं 1 से 15 जुलाई तक आयोजित, 3 की जगह 15 हजार बनाए गए परीक्षा केन्द्र, अपने ही स्कूल में होगी परीक्षामैट्रिक परीक्षा का परिणाम मंगलवार दोपहर साढ़े 12 बजे सेसमस्तीपुर में एक युवक की गिरफ्तारी के विरोध में सड़क जाम, किया आगजनीमोतिहारी की महिला का समस्तीपुर प्लेटफार्म पर हुआ प्रसवसमस्तीपुर में बाइक लूटने के दौरान दंपति को मारी गोली, पति जख्मीमोतिहारी के राजू ऑटिकल्स Whatsapp से ले रहे चश्मों का आर्डर, लॉकडाउन में मिल रही सुविधा, फ्री होम डिलेवरी
राज्य
जहरीली धुंध की चादर में लिपटी दिल्ली, EPCA ने घोषित की पब्लिक हेल्थ इमर्जेंसी, 5 नवंबर तक सभी स्कूल बंद
By Deshwani | Publish Date: 1/11/2019 3:03:52 PM
जहरीली धुंध की चादर में लिपटी दिल्ली, EPCA ने घोषित की पब्लिक हेल्थ इमर्जेंसी, 5 नवंबर तक सभी स्कूल बंद

नयी दिल्ली। देश की राजधानी पर छायी जहरीली धुंध की चादर आज सुबह और गहरी हो गयी। रात भर में प्रदूषण का स्तर लगभग 50 अंक बढ़ गया और समग्र वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) 459 पर पहुंच गया। सुप्रीम कोर्ट द्वारा गठित एजेंसी ने गैस चैंबर जैसे हालात पर संज्ञान लेते हुए इसे पब्लिक हेल्थ इमर्जेंसी घोषित किया है। प्रदूषण को देखते हुए दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली के सारे स्कूल पांच नवंबर तक बंद रहेंगे। 
 
पर्यावरण प्रदूषण नियंत्रण प्राधिकरण (ईपीसीए) ने पलूशन पर रोक लगाने के लिए 5 नवंबर तक दिल्ली-एनसीआर में निर्माण कार्य पर पूरी तरह से बैन लगा दिया है। बता दें कि यह बैन पहले सिर्फ शाम 6 से सुबह 6 बजे तक लगाया गया था। केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) के एक अधिकारी ने बताया कि इस वर्ष जनवरी के बाद से गुरुवार की रात पहली बार एक्यूआई ‘बेहद गंभीर' और ‘आपात' श्रेणी में पहुंच गया।
 
देश के सर्वाधिक प्रदूषित शहर गाजियाबाद में पीएम 2.5 का स्तर 493 रहा। ग्रेटर नोएडा (480), नोएडा (477) और फरीदाबाद (432) में भी हवा में प्रदूषण का स्तर काफी अधिक रहा। एक्यूआई जब 0-50 होता है तो इसे  अच्छी श्रेणी का माना जाता है। 51-100 को ‘संतोषजनक', 101-200 को ‘मध्यम', 201-300 को ‘खराब', 301-400 को ‘अत्यंत खराब', 401-500 को ‘गंभीर' और 500 से ऊपर एक्यूआई को ‘बेहद गंभीर और आपात' श्रेणी का माना जाता है।
 
कई अभिभावकों ने ट्विटर के माध्यम से दिल्ली सरकार से स्कूलों को बंद करने का अनुरोध किया है। दिल्ली सरकार ने शुक्रवार को सुबह दिल्ली में स्कूली छात्रों के बीच 50 लाख एन-95 मास्क का वितरण शुरू कर दिया है।
 
इस बीच बीसीसीआई ने कहा है कि वह रविवार को फिरोज शाह कोटला मैदान में भारत-बांग्लादेश टी-20 मैच आयोजित करेगा। उल्लेखनीय है कि पर्यावरणविदों ने खिलाड़ियों और दर्शकों के स्वास्थ्य को लेकर चिंता जतायी थी।  
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS