ब्रेकिंग न्यूज़
झारखंड में बिहार सहित अन्य राज्यों से आनेवाली बस की एंट्री नहीं, निजी वाहनों को भी लेना होगा ई-पासमोतिहारी के कोटवा में ट्रक व कार में भीषण टक्कर, एक की मौत चार अन्य घायल, दो की स्थित गंभीरबिहार में सोमवार से लॉकडाउन का पांचवा चरण शुरू, निजी वाहन को पास की जरूरत नहीं, बसों व अन्य वाहनों का किराया नहीं बढ़ाने का निर्देशपाकिस्तानी उच्चायोग के दो ऑफिसर कर रहे थे जासूसी, भारत ने 24 घंटे के भीतर दोनों को देश छोड़ने को कहाप्रवासियों कामगारों से भरी बस मोतिहारी के चकिया में ट्रेक्टर से टकराई, ट्रेक्टर चालक घायल, कई मजदूर चोटिल, जा रही थी सहरसासाजिद-वाजिद जोड़ी के वाजिद खान अब नहीं रहे, कोरोना की वजह से गई जानबिहार में लॉकडाउन के पांचवें चरण की हुई घोषणा, 30 जून तक बढ़ा, कोरोना संक्रमण की संख्या 6,692 हुईजमात उल मुजाहिद्दीन का आतंकी अब्दुल करीम को कोलकता एसटीएफ ने पकड़ा, गया ब्लास्ट मामले में हो रही थी खोज
राज्य
वियतनाम के राजदूत ने कहा- भारत से वियतनाम के बीच शीघ्र शुरू होगी बस सेवा
By Deshwani | Publish Date: 9/10/2019 3:54:58 PM
वियतनाम के राजदूत ने कहा- भारत से वियतनाम के बीच शीघ्र शुरू होगी बस सेवा

कुशीनगर। कुशीनगर पहुंचे वियतनाम के राजदूत फाम सन्ह चौ ने कहा कि इंडो-वियतनाम के मध्य पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए दोनों देश साझा प्रयास कर रहे हैं। इसी के तहत हनोई-कोलकाता के बीच सीधी वायु सेवा शुरू हुई है। जल्द ही दोनों देशों के बीच बस सेवा शुरू करने की योजना पर तेजी से कार्य चल रहा है।

राजदूत नवोदित वायु सेवा की पहली फ्लाइट से एक शिष्टमंडल के साथ राजधानी हनोई से कोलकाता पहुंचे। इसके बाद वह कोलकाता से राजदूत शिष्टमंडल के साथ ही आज सुबह कुशीनगर पहुंचे। मीडिया से बातचीत के दौरान राजदूत ने बताया कि अक्टूबर के अंत तक दिल्ली और वियतनाम के हो ची मिन्ह सिटी के बीच हवाई सेवा शुरू हो जाएगी। भविष्य में योजना है कि दोनों देश सड़क मार्ग से भी जुड़ जाएं। भारत के पूर्वोत्तर राज्य से म्यांमार होते हुए थाईलैंड तक सड़क मार्ग से जोड़ने की योजना पर कार्य चल रहा है। भविष्य में यह परियोजना को लाओस के रास्ते वियतनाम तक ले जाने की योजना बनी है।

राजदूत ने उम्मीद जताई कि हवाई सेवा शुरू होने से दोनों देशों के मध्य परस्पर आवागमन बढ़ेगा जिससे पर्यटन के साथ साथ उद्योग-व्यापार के क्षेत्र में क्रांति आयेगी। साहित्य कला, संस्कृति, धर्म को भी दोनों देशों के लोग जानने के साथ समझ सकेंगे।

image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS