ब्रेकिंग न्यूज़
चाकू से घायल मोतिहारी, चांदमारी के युवक की मौत, मझौलिया निवासी आरोपित हमलावर को लोगों ने दबोचाबिहार के शिक्षा मंत्री विजय चौधरी ने कहा- सातवें चरण की शिक्षक भर्ती अगले महीने होगी शुरूरक्सौल: आईसीपी लिंक रोड का उच्चाधिकारियों ने किया निरीक्षणबिहार: राज्य के आधे जिलों में बिजली गिरने के साथ भारी बारिश की संभावना, अगले 24 घंटे का अलर्टप्रधानमंत्री ने विद्युत क्षेत्र की पुनर्विकसित वितरण क्षेत्र योजना का शुभारम्भ कियातेजी से फैल रहा मंकीपॉक्स वायरसआयकर विभाग ने मुंबई में तलाशी अभियान चलाया64 प्रतिशत वोटों के साथ द्रौपदी मुर्मू भारत की 15वीं, अब तक की सबसे कम उम्र व पहली जनजातीय महिला राष्‍ट्रपति चुनी गईं
राज्य
कुशीनगर में पकड़ा गया विशालकाय मगरमच्छ, वन विभाग ने छोड़ा नारायणी नदी में
By Deshwani | Publish Date: 14/9/2019 5:01:01 PM
कुशीनगर में पकड़ा गया विशालकाय  मगरमच्छ, वन विभाग ने छोड़ा नारायणी नदी में

कुशीनगर। जिले के खड्डा ब्लाक के ग्रामसभा बरवारतनपुर में स्थित एक ताल में दस दिनों से दिखाई दे रहे एक विशालकाय मगरमच्छ को ग्रामीणों ने मशक्कत के बाद मछुआरों के सहयोग से पकड़ उसे वनविभाग के हवाले कर दिया। वनविभाग ने मगरमच्छ को नारायणी नदी में छोड़ दिया।
 
ग्राम बरवारतनपुर निवासी पवन राव का गांव के ही बगल में लगभग 22 एकड़ का ताल है। उस ताल में गांव के ही दीनदयाल राव ने मछली पालन किया है। दस दिन पूर्व इसी ताल में नेपाल से मुख्य पश्चिमी गंडक नहर में छोडे़ गये पानी के साथ एक विशालकाय मगरमच्छ पहुंच गया, जो ताल में पाली गयी मछलियों को अपना शिकार बनाने लगा। ताल के तरफ बकरी चराने गये गांव के कुछ बच्चे भी मगरमच्छ का आहार बनने से बाल बाल बच गये। इसके बाद बच्चे ताल की तरफ जाने से डरने लगे। इसकी जानकारी होने पर गांव वालों ने इसकी सूचना वनविभाग को देते हुए दस दिनों  से ताल में दिखाई दे रहे मगरमच्छ को पकड़ने की मांग की। 
 
दो दिन तक अथक प्रयास के बाद मगरमच्छ पकड़ा नहीं गया तो ग्रामीणों ने मछुआरों से उसे पकड़ने के लिए सहयोग मांगा। शनिवार को मछुआरों ने ग्रामीणों के सहयोग से करीब दो घंटे के अथक प्रयास के बाद मगरमच्छ को पकड़ लिया और इसकी सूचना वन विभाग के लोगों को दी। मगरमच्छ के पकडे़ जाने की खबर फैलते ही उसे देखने के लिए मौके पर लोगों की भीड़ जमा हो गयी। इसी दौरान वन विभाग के कर्मचारी भी मौके पर पहुंच गये, जिन्हें ग्रामीणों ने उस मगरमच्छ को सौंप दिया। वन क्षेत्राधिकारी बीके यादव ने कहा कि पकडे़ गये मगरमच्छ को भैसहां स्थित नारायणी नदी में सही सलामत छोड़ दिया गया है।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS