ब्रेकिंग न्यूज़
जम्मू कश्मीर, हिमाचल प्रदेश और उत्तराखंड के अनेक भागों में भारी बर्फबारी, उत्तर भारत में भी शीतलहर का प्रकोपपटना गैंगरेप के आरोपित विपुल कुमार और मनीष कुमार ने कोर्ट में किया सरेंडर, अभी भी दो फरारनागरिकता संशोधन विधायक किसी भी हालत में पश्चिम बंगाल में लागू नहीं होगा: ममता बनर्जीस्ट्रीट डांसर 3d में ऐसा होगा श्रद्धा कपूर का लुक, वरुण धवन ने शेयर किया पहला पोस्टरसमस्तीपुर के दलसिंहसराय में महिला से दुष्कर्म के बाद हत्या, गेहूं के खेत में मिला शवराजधानी दिल्ली सहित उत्तर भारत के कई इलाकों में भारी वर्षा, उत्तराखंड के कुछ हिस्सों में रेड अलर्ट जारीपीएम मोदी ने संसद भवन पर आतंकी हमले में शहीदों को दी श्रद्धांजलिनागरिकता संशोधन विधेयक 2019 को राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने दी मंजूरी
राज्य
मायावती ने लिया ये बड़ा फैसला, उत्तर प्रदेश में अब बसपा के तीन होंगे को-ऑर्डिनेटर
By Deshwani | Publish Date: 5/9/2019 6:12:47 PM
मायावती ने लिया ये बड़ा फैसला, उत्तर प्रदेश में अब बसपा के तीन होंगे को-ऑर्डिनेटर

लखनऊ। लोकसभा चुनाव 2019 में समाजवादी पार्टी के साथ गठबंधन के बाद भी अपेक्षित परिणाम न मिलने पर बहुजन समाज पार्टी अब उत्तर प्रदेश में अकेले ही सभी चुनाव लड़ेगी। प्रदेश में 13 सीट पर होने वाले विधानसभा उप चुनाव के लिए अपने प्रत्याशी घोषित करने के साथ ही बसपा प्रचार में भी लगी है।

 
राजधानी लखनऊ में बहुजन समाज पार्टी की सुप्रीमो मायावती ने आज समीक्षा बैठक की। बैठक में जनाधार बढ़ाने को चर्चा के साथ विधानसभा उपचुनाव को लेकर भी चर्चा हुई। मायावती की तरफ से समर्थकों से उपचुनाव में बीएसपी कैंडिडेट को जीताने की अपील की गई। इस बैठक में पार्टी पदाधिकारी मौजूद रहे। 
 
बैठक में मायावती ने बड़ा फैसला लेते हुए कहा कि राष्ट्रीय स्तर की तरह राज्य स्तर पर तीन मुख्य कोऑर्डिनेटर बनाए जाएंगे। यही नहीं, पार्टी में तीन-तीन मंडल पर मुख्य जोन इंचार्ज की व्यवस्था भी समाप्त कर दी गई है। अब हर मंडल पर कोऑर्डिनेटर की व्यवस्था होगी। पार्टी ने बहुजन वालेंटियर फोर्स का मंडल अध्यक्ष का पद भी खत्म कर दिया है। 
 
इस मौके पर मायावती ने बीजेपी सरकार पर जमकर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि देश के अर्थव्यवस्था की दुर्दशा बड़ी चर्चाओं में है। उन्होंने सवाल उठाते हुए कहा कि ये नोटबंदी और जीएसटी का कुप्रभाव तो नहीं। बसपा सुप्रीमो ने कहा कि देश मे फैली गरीबी और बेरोजगारी पर सरकार को पहले ध्यान देना चाहिए। 
 
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS