ब्रेकिंग न्यूज़
पूर्वी चंपारण के कई इलाकों में बेमौसम बारिश और बर्फबारी होने से बढ़ी ठंड, दिखा शिमला जैसा नजाराबेतिया में मूर्छितावस्था में अधमरी महिला मिली, ग्रामीणों ने मझौलिया पीएचसी में कराया भर्ती करायासाबरमती आश्रम में राष्ट्रपति ट्रंप ने पत्नी मेलानिया के साथ चरखा चलाकर महात्मा गांधी को श्रद्धांजलि अर्पित कीचीन से कच्चे माल की आपूर्ति में व्यवधान के संबंध में वित्त मंत्री ने उच्च स्तरीय बैठक बुलाईजम्मू-कश्मीर में पंचायत उपचुनाव सुरक्षा मुद्दों और क्षेत्रीय राजनीतिक दलों की अनिच्छा के कारण स्थगितअशरफ गनी अफगानिस्तान के नए राष्ट्रपति चुने गएबिहार के गया में कोरोना वायरस के एक संदिग्ध मरीज को देखरेख के लिए अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में कराया गया भर्तीऔरंगाबाद में रफीगंज-शिवगंज पथ पर तेज रफ्तार ट्रक ने ऑटो में मारी टक्कर, दो मासूमों सहित 10 लोगों की मौत
राज्य
कुशीनगर नगर जिले के बुद्ध महाविद्यालय को यूनिवर्सिटी बनाने की मांग उठीं
By Deshwani | Publish Date: 17/8/2019 4:47:47 PM
कुशीनगर नगर जिले के बुद्ध महाविद्यालय को यूनिवर्सिटी बनाने की मांग उठीं

कुशीनगर। जिले में एक विश्वविद्यालय स्थापना की मांग पुनः दूसरी बार फिर उठी है। इससे पहले वर्ष 2016 में बुद्ध  महाविद्यालय को यूनिवर्सिटी बनाने की मांग उठी थी। इस मांग को महिला शिक्षिका व भाजपा नेत्री और अखिल भारतीय वर्षीय जनसेवक परिषद की संसथापिका सुनीता सिंह गौड़ ने प्रधानमंत्री को पत्र लिखकर कुशीनगर नगर जिले के बुद्ध महाविद्यालय को यूनिवर्सिटी बनाने की मांग की है।

 
उन्होंने पत्र सपष्ट रुप से लिखा है कि कुशीनगर मैत्रेय परियोजना हेतु लगभग 250 एकड़ भूमि का अधिगृहीत किया गया है। यह परियोजना की सालों से धरातल पर नहीं उतर सकी है। जिससे अधिकृत भूमि बेकार पड़ी है। उसका उपयोग यूनिवर्सिटी बनाने के लिए कर लिया जाए तो यह कुशीनगर जनता के लिए बहुत बड़ी बात होगी। जिससे जिले के छात्रों एवं अभिभावकों को दूरस्थ नहीं जाना पडेगा।
 
यद्पि कुशीनगर एक विश्व स्तर पर पर्यटन स्थल है जहां पर एक भी विश्वविद्यालय नहीं है। एवं विश्वविद्यालय की आवश्यकता सभी छात्र-छात्राओं को पड़ रही है। उन्होंने पत्र में लिखा है कि वर्ष 2016 में विश्वविद्यालय अनुदान आयोग को एक मांग पत्र प्रसतुत किया गया था। जिस पर आयोग की टीम ने मौके पर सथलीय निरीक्षण भी किया। लेकिन भूमि कमी दिखाई गयी थी। इस पत्र के माध्यम से एक बार पुन:  विस्तृत विश्वविद्यालय कुशीनगर में सथापित करने की मांग की है। उन्होंने यह ज्ञापन राज्यपाल एवं मुख्यमंत्री को सौंपा जायेगा।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS