ब्रेकिंग न्यूज़
हाजीपुर में पुलिस ने एक शराब माफिया को एनकाउंटर में मार गिराया, हथियार के साथ एक गिरफ्तारबिहार के औरंगाबाद में झंडातोलन करने जा रहे मुखिया पुत्र पर अपराधियों ने किया सरेआम फायरिंगपटना के मगध महिला कॉलेज में एक लफंगे ने राजनीति शास्त्र की छात्रा से सरेआम की छेड़खानीहाजीपुर में बदमाशों और पुलिस के बीच मुठभेड़, एक की मौत, बाल-बाल बचे डीएसपीसिवान के मैरवा में प्रसिद्ध होम्योपैथिक डॉक्टर की बाइक सवार अपराधियों ने हत्या कर दीजम्मू-कश्मीर के निलंबित पुलिस उपाधीक्षक दविंदर सिंह और चार अन्य अभियुक्तों को 15 दिन की हिरासत में भेजा गयामोतिहारी के बंजरिया में दवा दुकानदार की हत्या के मामले में पुत्रवधू सहित 4 गिरफ्तार, एक कृष्णनगर निवासी, कारतूस व आर्म्स जब्तबेतिया में अज्ञात महिला की ट्रेन की चपेट में आने से मौत, शिनाख्त में जुटी पुलिस
राज्य
कुशीनगर में ढाई हजार से अधिक शौचालयों के लिए जारी तीन करोड़ से अधिक की धनराशि का बंदरबाट, मामला दर्ज
By Deshwani | Publish Date: 16/8/2019 4:07:46 PM
कुशीनगर में ढाई हजार से अधिक शौचालयों के लिए जारी तीन करोड़ से अधिक की धनराशि का बंदरबाट, मामला दर्ज

कुशीनगर। जिले के दुदही ब्लाक में शौचालय निर्माण के लिए जारी धनराशि में बड़ी गड़बड़ी पाई गई है। आधा दर्जन ग्राम पंचायतों में ढाई हजार से अधिक शौचालयों के लिए जारी तीन करोड़ से अधिक की धनराशि के बंदरबाट किए जाने की तहरीर एडीओ पंचायत ने बुधवार को विशुनपुरा पुलिस को दी। तहरीर के आधार पर पुलिस ने प्रधानों एवं सचिव के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया है।

 
दुदही ब्लाक के एडीओ पंचायत रामविलास प्रसाद ने विशुनपुरा पुलिस को दिए तहरीर में बताया है कि जिला पंचायत राज अधिकारी के पत्र के मुताबिक स्वछ भारत मिशन के अंतर्गत ग्राम पंचायतों में शौचालय निर्माण के लिए धन जारी किया गया था। ग्राम पंचायत सचिव प्रमोद कुमार तथा अमवाखास, बैकुंठपुर, विशुनपुर बरियापट्टी, चाफ, गौरी श्रीराम तथा जंगल लाला छपरा के ग्राम प्रधानों ने मिलीभगत कर कुल 2571 शौचालयों की करीब 3.08 करोड़ की धनराशि का गबन कर लिया है। तहरीर के आधार पर विशुनपुरा पुलिस ने सभी आरोपी ग्राम प्रधान तथा सचिव पर सरकारी धन के गबन का मामला पंजीकृत कर लिया है। 
 
शौचालय निर्माण के साथ ही फोटो अपलोड करने के बाद ही धनराशि की निकासी किये जाने का गाइड लाइन है। लेकिन इन ग्राम सभाओं में बगैर फोटो अपलोड किए ही धनराशि की निकासी कर ली गयी है जो गाइड लाइन के विरुद्ध है। जिला पंचायत राज अधिकारी के निर्देश पर संबंधित थाने को प्राथमिकी दर्ज करने के लिए तहरीर दे दी गयी है। 
 
इस संबंध में थानाध्यक्ष का कहना है कि एडीओ पंचायत की तहरीर पर छह गांवों के प्रधान एवं एक ग्राम पंचायत सचिव के खिलाफ गबन का मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। मामले की विवेचना शुरू कर दी गयी है।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS