ब्रेकिंग न्यूज़
चीन से कच्चे माल की आपूर्ति में व्यवधान के संबंध में वित्त मंत्री ने उच्च स्तरीय बैठक बुलाईजम्मू-कश्मीर में पंचायत उपचुनाव सुरक्षा मुद्दों और क्षेत्रीय राजनीतिक दलों की अनिच्छा के कारण स्थगितअशरफ गनी अफगानिस्तान के नए राष्ट्रपति चुने गएबिहार के गया में कोरोना वायरस के एक संदिग्ध मरीज को देखरेख के लिए अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में कराया गया भर्तीऔरंगाबाद में रफीगंज-शिवगंज पथ पर तेज रफ्तार ट्रक ने ऑटो में मारी टक्कर, दो मासूमों सहित 10 लोगों की मौतनफरत को खत्म करने, संविधान को बचाने, एन आर सी, सी ए ए जैसे काले कानून के खिलाफ भारत के गंगा-जमुनी तहजीब का नमूना है शाहीन बाग: पप्पू यादवधार्मिक कार्यक्रम में जा रहे हजारों भारतीयों को नेपाल ने करोना वायरस की आशंका से गुरुवार की रात्रि रोका, वार्ता के बाद आज मिली एन्ट्रीपुलवामा हमले के शहीदों को राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री ने दी श्रद्धांजलि
राज्य
लद्दाख के सांसद ने फिर जीता दिल, हाथ में तिरंगा लेकर लेह के बाजार में लोगों संग नाचे
By Deshwani | Publish Date: 12/8/2019 12:03:05 PM
लद्दाख के सांसद ने फिर जीता दिल, हाथ में तिरंगा लेकर लेह के बाजार में लोगों संग नाचे

नई दिल्‍ली। जम्‍मू-कश्‍मीर से मोदी सरकार द्वारा अनुच्‍छेद 370 हटाने के बाद लद्दाख को अलग केंद्र शासित प्रदेश का दर्जा दिया गया। इस पर लद्दाख के सांसद जामयांग सेरिंग नामग्‍याल ने लोकसभा में दिलचस्‍प भाषण देकर पूरे देश का दिल जीता था। अब उन्‍होंने अपने ट्विटर अकाउंट पर एक वीडियो शेयर किया है। वीडियो में वह हाथ में तिरंगा लेकर लोगों के साथ खुशी में डांस करते दिख रहे हैं।

 
लद्दाख सांसद जामयांग सेरिंग नामग्‍याल की ओर से जारी किए गए इस वीडियो में दिख रहा है कि वह अनुच्‍छेद 370 हटने के बाद लेह पहुंचे हुए हैं। इस दौरान लेह-लद्दाख के लोग उनका स्‍वागत कर रहे हैं। वीडियो में दिख रहा है कि लद्दाख को जम्‍मू-कश्‍मीर से अलग करके केंद्र शासित प्रदेश बनाए जाने पर वह भी लोगों के साथ खुशी से फूले नही समा रहे हैं। उनके हाथ में तिरंगा है और वह लोगों के साथ संगीत की धुन पर डांस कर रहे हैं। ट्विटर पर उनका यह वीडियो भी लोग खूब पसंद कर रहे हैं।
 
बता दें कि जामयांग ने लोकसभा में अपने 17 मिनट के भाषण में कश्मीर पर सरकार के फैसले का स्वागत किया था और कहा था कि लद्दाख के लोगों की दलील आखिरकार स्वीकार कर ली गई। उन्होंने कहा, "मोदी है, तो मुमकिन है।" जामयांग ने कहा था, "अनुच्छेद-370 के खत्म होने के बाद कश्मीर के माननीय सदस्य कह रहे थे कि हम हार जाएंगे। वैसे मैं कहूंगा कि अब दो परिवार अपनी आजीविका खो देंगे।"
 
 
उन्होंने कहा था, "कश्मीर में अब एक उज्‍जवल भविष्य होगा। लद्दाख सांसद ने कहा कि कारगिल के लोगों ने 2014 के संसदीय चुनाव में केंद्र शासित प्रदेश के लिए मतदान किया और 2019 के चुनाव में भी यह मुद्दा शीर्ष पर रहा।" उन्होंने कहा, "आप किसी भी युद्ध को याद कर लीजिए, लद्दाखियों ने हमेशा देश के प्यार के लिए अपना बलिदान दिया है।"
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS