ब्रेकिंग न्यूज़
चीन से कच्चे माल की आपूर्ति में व्यवधान के संबंध में वित्त मंत्री ने उच्च स्तरीय बैठक बुलाईजम्मू-कश्मीर में पंचायत उपचुनाव सुरक्षा मुद्दों और क्षेत्रीय राजनीतिक दलों की अनिच्छा के कारण स्थगितअशरफ गनी अफगानिस्तान के नए राष्ट्रपति चुने गएबिहार के गया में कोरोना वायरस के एक संदिग्ध मरीज को देखरेख के लिए अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में कराया गया भर्तीऔरंगाबाद में रफीगंज-शिवगंज पथ पर तेज रफ्तार ट्रक ने ऑटो में मारी टक्कर, दो मासूमों सहित 10 लोगों की मौतनफरत को खत्म करने, संविधान को बचाने, एन आर सी, सी ए ए जैसे काले कानून के खिलाफ भारत के गंगा-जमुनी तहजीब का नमूना है शाहीन बाग: पप्पू यादवधार्मिक कार्यक्रम में जा रहे हजारों भारतीयों को नेपाल ने करोना वायरस की आशंका से गुरुवार की रात्रि रोका, वार्ता के बाद आज मिली एन्ट्रीपुलवामा हमले के शहीदों को राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री ने दी श्रद्धांजलि
राज्य
उन्नाव दुष्कर्म कांड: रायबरेली जेल में बंद चाचा को मिली पैरोल, पीड़िता की हालत गंभीर
By Deshwani | Publish Date: 30/7/2019 4:07:26 PM
उन्नाव दुष्कर्म कांड: रायबरेली जेल में बंद चाचा को मिली पैरोल, पीड़िता की हालत गंभीर

लखनऊ। उन्नाव कांड के मामले में पीड़ित युवती के चाचा को हाईकोर्ट से पैरोल मिल गई है। वे आज जेल से बाहर निकलकर रायबरेली हादसे मारे गए परिजनों के अंतिम संस्कार में शामिल होंगे। इधर, रायबरेली सड़क दुर्घटना में घायल दुष्कर्म पीड़ित युवती की हालत में अभी तक कुछ भी सुधार नहीं है बल्कि डाक्टरों के मुताबिक उसकी हालत काफी गंभीर है। 

 
लखनऊ के ट्रामा सेंटर में भर्ती युवती की हालत में अभी तक कोई भी सुधार नहीं है। डॉक्टरों ने बताया कि अभी वह वेंटीलेटर पर है। उसके सिर, सीने व पैर में कई फ्रैक्चर हैं। ब्लड प्रेशर को नियंत्रित करने के लिए लाइफ सपोर्ट का सहारा लिया जा रहा है। फेफड़ों से ब्लीडिंग हो रही है। हादसे के बाद से ही पिछले करीब 40 घंटे से बेहोश है। परिजन पीड़िता के चाचा को पैरोल न मिलने तक हादसे में मारी पीड़िता की मौसी व चाची का अंतिम संस्कार नहीं करने का फैसला लेकर ट्रामा सेंटर के बाहर धरने पर बैठ गए थे। 
 
मंगलवार को इलाहाबाद हाईकोर्ट की लखनऊ बेंच में पीड़ित युवती के चाचा की पैरोल पर सुनवाई हुई। जस्टिस फेज अहमद ने पीड़िता के चाचा महेश सिंह को एक दिन की शार्ट टर्म बेल मंजूर कर ली है। वह कल (बुधवार) को रायबरेली जिला जेल से पैरोल पर बाहर आयेंगे और पत्नी का अंतिम संस्कार करने के बाद कल ही वापस रायबरेली जेल वापस लौटेंगे।
 
गौरतलब है कि पीड़ित युवती के चाचा महेश सिंह के पैरोल को लेकर परिवार आज लखनऊ के ट्रामा सेंटर के बाहर धरने पर बैठा। परिजनों ने कहा कि घर में अब कोई नहीं बचा है। इसलिए उन्हें पैरोल पर बाहर निकाला जाए, ताकि वह अपनी पत्नी के शव को अंतिम संस्कार कर सकें। परिवार ने आरोपित विधायक कुलदीप सिंह सेंगर पर सख्त कार्रवाई की मांग की है। 
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS