ब्रेकिंग न्यूज़
मार्केटिंग कंपनी ग्लेज ट्रेडिंग इंडिया प्राईवेट लिमिटेड कंपनी से तीन युवक गिरफ्तारअधूरे टीकाकरण में इंद्रधनुष भरेगा रंग, चार चरणों में होगा टीकाकरणधारा 370 संपर्क अभियान के तहत पांच बुद्धिजीवी एवं प्रबुद्ध नागरिकों से मिलकर प्रतिनिधिमंडल ने इन विषय में दी जानकारीचिदंबरम ने सुप्रीम कोर्ट से कहा- अपमानित करने के लिए जेल में रखना चाहती है सीबीआई, सुनवाई कलडबल इंजन के कारण झारखंड में विकास की गति हुई दोगुनी: सुधांशु त्रिवेदीअगला युद्ध स्वदेशी शस्त्र प्रणालियों के साथ लड़ेंगे और जीतेंगे: बिपिन रावतश्रीनगर में अनुच्छेद 370 को हटाये जाने के खिलाफ महिलाओं का प्रदर्शन, हिरासत में ली गई फारुक अब्दुल्ला की बहन और बेटीजम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 खत्म करना आतंक के खात्मे की दिशा में एक बड़ा कदम: अमित शाह
राज्य
मुंबई: भीषण बारिश में अटकी महालक्ष्मी एक्सप्रेस, ट्रेन में फंसे 500 यात्रियों को बचाया गया
By Deshwani | Publish Date: 27/7/2019 2:03:29 PM
मुंबई: भीषण बारिश में अटकी महालक्ष्मी एक्सप्रेस, ट्रेन में फंसे 500 यात्रियों को बचाया गया

मुंबई। बदलापुर के तालकोड़ी गांव में आई बाढ़ के बीच दस घंटे से फंसी महालक्ष्मी एक्सप्रेस में अटके 2000 यात्रियों को 9 घंटे बाद राष्ट्रीय आपदा राहत टीम की मदद मिलनी शुरू हो गई है। एनडीआरएफ के 120 जवानों ने अब तक 500 से अधिक यात्रियों को ट्रेन से बाहर सुरक्षित जगह पर निकाल लिया है। टीम के जवानों को ठाणे आपदा राहत टीम तथा भारतीय नौसेना के जवान भी मदद कर रहे हैं। नौसेना के 3 हेलीकाफ्टरों से भी राहत पहुंचाई जा रही है। 

 
महालक्ष्मी एक्सप्रेस शुक्रवार को रात 8 बजकर 20 मिनट पर छत्रपति शिवाजी टर्मिनस से कोल्हापुर के लिए  रवाना हुई थी। रात में हुई मूसलाधार बारिश की वजह से कल्याण की उल्हास नदी व बालधुनी नदी बेकाबू हो गई। इसी तरह बदलापुर में बारवी जलाशय भी ओवर फ्लो हो गया। इस वजह से ठाकुर्ली से लेकर कल्याण, विठ्ठलवाड़ी, अंबरनाथ, बदलापुर, बांगनी तक का पूरा इलाका जलमग्र हो गया। इस बीच रात 3 बजे महालक्ष्मी एक्सप्रेस बदलापुर व वांगनी स्टेशन के बीच मुंबई से 55 किमी. दूर तालकोड़ी गांव के पास पहुंची और इसी जगह पर बाढ़ के पानी में अटक गई। चारों तरफ जलभराव की वजह से ट्रेन के पिछले डिब्बे में भी पानी आ गया। 
 
मध्य रेलवे के प्रवक्ता एके जैन ने बताया कि ट्रेन में सफर कर रहे यात्रियों की सुरक्षा रेलवे की सबसे बड़ी जिम्मेदारी है। बहुत जल्द सभी यात्रियों को ट्रेन से सुरक्षित निकाल लिया जाएगा। ट्रेन में 9 गर्भवती महिलायें भी थीं जिन्हें सुरक्षित निकाल लिया गया है। ट्रेन में फंसे यात्रियों के इलाज के लिए 37 डाक्टरों की टीम मौके पर पहुंच गई है। बचाए गए यात्रियों को मुंबई तक पहुंचाने के लिए 14 बसों का इंतजाम किया गया है। 
 
ठाणे जिले के पालकमंत्री एकनाथ शिंदे ने बताया कि यहां राहत व बचाव कार्य तेजी से चल रहा है। यात्रियों को सुरक्षित उनके गंतव्य स्थल तक पहुंचाया जाएगा। शिंदे ने बताया कि बाढ़ के पानी में महालक्ष्मी एक्सप्रेस के फंसने की जानकारी मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस को भी दे दी गई है। मुख्यमंत्री ने राहत व बचाव कार्य करने के निर्देश दिए हैं। ट्रेन में फंसे यात्रियों को बचाने के लिए नौसेना की 7 टीमों, भारतीय वायु सेना के 2 हेलीकॉप्टरों, सेना की 2 टुकड़ियों को स्थानीय प्रशासन के साथ तैनात किया गया है। महाराष्ट्र के सीएम देवेंद्र फडणवीस ने मुख्य सचिव को व्यक्तिगत रूप से बचाव अभियान की निगरानी करने के निर्देश दिए हैं।
 
कल्याण व आसपास के इलाके जलमग्र होने की वजह से यहां मध्य रेलवे की सेवा पूरी तरह से ठप हो गई है।मध्य रेलवे के मुताबिक अब तक 13 ट्रेनों को डायवर्ट किया गया, 6 को रोका गया है और 2 ट्रेनों को रद्द कर दिया गया है। उल्हास नदी का जलस्तर बढ़ने के कारण अंबरनाथ में जल जमाव हो गया है। मुंबई में भारी बारिश की वजह से शनिवार को 11 उड़ानों को रद् कर दिया गया है। साथ ही आने वाले नौ विमानों को पास के हवाई अड्डों पर डायवर्ट कर दिया गया है। 
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS