ब्रेकिंग न्यूज़
चीन से कच्चे माल की आपूर्ति में व्यवधान के संबंध में वित्त मंत्री ने उच्च स्तरीय बैठक बुलाईजम्मू-कश्मीर में पंचायत उपचुनाव सुरक्षा मुद्दों और क्षेत्रीय राजनीतिक दलों की अनिच्छा के कारण स्थगितअशरफ गनी अफगानिस्तान के नए राष्ट्रपति चुने गएबिहार के गया में कोरोना वायरस के एक संदिग्ध मरीज को देखरेख के लिए अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में कराया गया भर्तीऔरंगाबाद में रफीगंज-शिवगंज पथ पर तेज रफ्तार ट्रक ने ऑटो में मारी टक्कर, दो मासूमों सहित 10 लोगों की मौतनफरत को खत्म करने, संविधान को बचाने, एन आर सी, सी ए ए जैसे काले कानून के खिलाफ भारत के गंगा-जमुनी तहजीब का नमूना है शाहीन बाग: पप्पू यादवधार्मिक कार्यक्रम में जा रहे हजारों भारतीयों को नेपाल ने करोना वायरस की आशंका से गुरुवार की रात्रि रोका, वार्ता के बाद आज मिली एन्ट्रीपुलवामा हमले के शहीदों को राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री ने दी श्रद्धांजलि
राज्य
ऋषिकेश के लक्ष्मण झूला पुल की मियाद खत्म, सरकार ने लिया वैकल्पिक पुल बनाए जाने का निर्णय
By Deshwani | Publish Date: 13/7/2019 4:04:47 PM
ऋषिकेश के लक्ष्मण झूला पुल की मियाद खत्म, सरकार ने लिया वैकल्पिक पुल बनाए जाने का निर्णय

देहरादून। ऋषिकेश के 90 साल पुराने लक्ष्मण झूला पुल की मियाद खत्म हो गई है। प्रदेश सरकार ने ऋषिकेश के लक्ष्मण झूला पुल का विकल्प जल्द ही तैयार कर लेने का दावा किया है। इसके लिए एक वैकल्पिक पुल बनाए जाने का निर्णय लिया गया है। लक्ष्मण झूला के संबंध में भेंट करने आई विधायक यमकेश्वर ऋतु खण्डूड़ी को मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने आज यह जानकारी दी। 

 
मुख्यमंत्री ने कहा कि छह माह पूर्व आईआईटी रुड़की के विशेषज्ञों से लक्ष्मण झूला की फिजीबिलिटी पर अध्ययन करने को कहा गया था। उनसे प्राप्त रिपोर्ट के अनुसार पुल की स्थिति ऐसी नहीं है कि इस पर अधिक आवाजाही खासतौर पर चार पहिया या दुपहिया वाहनों को अनुमति दी जा सके। 
 
मुख्यमंत्री ने कहा कि कांवड़ मेले में भारी भीड़ को देखते हुए लक्ष्मण झूला पर आवाजाही को जारी रखना उचित नहीं रहेगा। जन सुरक्षा सरकार के लिए सर्वोपरि है। इसलिए लक्ष्मण झूला पर दो पहिया वाहनों की आवाजाही को तुरंत रोकने का निर्णय किया गया है। साथ ही इसका विकल्प भी जल्द से जल्द तैयार करने के लिए अधिकारियों को निर्देशित किया गया है। 
 
मुख्यमंत्री ने कहा कि लक्ष्मण झूला उत्तराखंड की एक सांस्कृतिक धरोहर है। ऋषिकेश के प्रमुख आकर्षण केन्द्र के रूप में देश-विदेश में इसकी पहचान है। यहां तक कि अनेक फिल्मों में यहां का फिल्मांकन प्रमुखता से किया गया है। लक्ष्मण झूला का समुचित रखरखाव करते हुए किस तरह से हेरिटेज के तौर पर संरक्षित किया जा सकता है, इसके लिए भी विशेषज्ञों की राय से कार्य योजना बनाई जाएगी।
 
उल्लेखनीय है कि अपर मुख्य सचिव ओम प्रकाश ने इस संबंध में शुक्रवार को प्रमुख अभियंता लोनिवि की ओर से शासन को भेजी गई आख्या का हवाला देते हुए पु​ल से आवागमन पर रोक लगा दी। कहा, सेतु काफी जीर्ण-शीर्ण अवस्था में है। सेतु एक ओर झुका हुआ प्रतीत हो रहा है। हलांकि स्थानीय लोगों के विरोध के बाद पैदल यात्रियों का आवागमन जारी है। 
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS