ब्रेकिंग न्यूज़
चीन से कच्चे माल की आपूर्ति में व्यवधान के संबंध में वित्त मंत्री ने उच्च स्तरीय बैठक बुलाईजम्मू-कश्मीर में पंचायत उपचुनाव सुरक्षा मुद्दों और क्षेत्रीय राजनीतिक दलों की अनिच्छा के कारण स्थगितअशरफ गनी अफगानिस्तान के नए राष्ट्रपति चुने गएबिहार के गया में कोरोना वायरस के एक संदिग्ध मरीज को देखरेख के लिए अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में कराया गया भर्तीऔरंगाबाद में रफीगंज-शिवगंज पथ पर तेज रफ्तार ट्रक ने ऑटो में मारी टक्कर, दो मासूमों सहित 10 लोगों की मौतनफरत को खत्म करने, संविधान को बचाने, एन आर सी, सी ए ए जैसे काले कानून के खिलाफ भारत के गंगा-जमुनी तहजीब का नमूना है शाहीन बाग: पप्पू यादवधार्मिक कार्यक्रम में जा रहे हजारों भारतीयों को नेपाल ने करोना वायरस की आशंका से गुरुवार की रात्रि रोका, वार्ता के बाद आज मिली एन्ट्रीपुलवामा हमले के शहीदों को राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री ने दी श्रद्धांजलि
राज्य
बेतहाशा बढ़ रही जनसंख्या को नियत्रंण करना जरुरी: जिलाधिकारी
By Deshwani | Publish Date: 9/7/2019 11:17:08 PM
बेतहाशा बढ़ रही जनसंख्या को  नियत्रंण करना जरुरी: जिलाधिकारी

कुशीनगर। भानु तिवारी। आगामी 11 जुलाई को पड़ने वाले विश्व जनसंख्या दिवस के अवसर पर जनसंख्या के स्थिरता हेतुु जिले में जागरूकता कार्यक्रम चलाये जायेगें, जो 24 जुलाई तक चलेगें। इसके लिए अभी से सभी तैयारियां पूरी कर लिया जाय  तथा जिले के सभी प्रभारी चिकित्साधिकारीगण,आशा, ए0एन0एम0, आगंनवाडी कार्यकत्रियों के साथ बैठक करके जनसंख्या स्थिरता हेतु सभी कार्य योजना बना लें। ताकि बेतहाशा बढ़ रही जनसंख्या को जनसंख्या नियत्रंण हेतु जागरूक किया जा सके।

 
उक्त विचार जिलाधिकारी डॉ0 अनिल कुमार सिंह ने विकास भवन सभागार में जनसंख्या स्थिरता पखवाड़ा मनाये जाने से सम्बन्धित अन्र्तर विभागीय बैठक की अध्यक्षता करते हुए व्यक्त किये। उन्होने कहा कि  जनसंख्या को नियंत्रित करना आज की आवश्यकता है। इसके लिए लोगों को परिवार नियोजन के साधन सहित नसबंदी हेतु आम जन को प्रेरित किया जाय। उन्होंने इस कार्य के सफल क्रियान्वयन हेतु विकास खंड स्तर पर खंड विकास अधिकारी की अध्यक्षता में बैठक कर समुचित कार्यवाही किये जाने हेतु निर्देशित किया गया।
 
 जिलाधिकारी ने यह भी कहा कि  बाल विवाह भी जनसंख्या बढ़ने का एक कारक है। इसके लिए हम लोगों को विशेष प्रयास करके लोगों को जागरूक करना होगा ताकि वे अपने बेटा , बेटियों का बाल विवाह न करें और बालिग होने पर ही निर्धारित उम्र में ही उनका विवाह करें। इससे निश्चित ही जनसंख्या स्थिर होगी।   
 
     इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी  रामसूरत पाण्डेय,अपर जिलाधिकारी विंध्यवासिनी राय, उप मुख्य चिकित्साधिकारी , जिला पंचायत राज अधिकारी राघवेंद्र दिवेदी, जिला वेसिक शिक्षा अधिकारी अरुण कुमार ,प्रभारी चिकित्साधिकारीगण सहित अन्य सम्बन्धित अधिकारीगण उपस्थित रहे।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS