ब्रेकिंग न्यूज़
बेतिया-चनपटिया सड़क मार्ग पर बस दुर्घटनाग्रस्त, दर्जनों यात्री घायलश्रीमद्भागवत कथा ज्ञान महायज्ञ के पहले दिन निकली गई भव्य कलश शोभा यात्रा, सैकड़ों महिला पुरुष हुए शामिलयूपी सुन्नी वक्फ बोर्ड के चैयरमैन को सुरक्षा मुहैया कराने का सुप्रीम कोर्ट ने दिया निर्देशभारतीय मूल के अभिजीत और उनकी पत्नी एस्थर डफ्लो को मिला वर्ष 2019 के लिए अर्थशास्त्र का नोबेल पुरस्कारछौड़ादानों से रक्सौल तक जर्जर नहर रोड का आखिरकार खुला टेंडर, जांच प्रक्रिया के बाद शुरू होगा कामडायरिया से बचाव को लेकर स्वास्थ्य विभाग अलर्ट, सीएस ने किया मेडिकल टीम का गठननागा रोड में हुआ डिजिटल सेवा केन्द्र का उदघाट्न, लोगों को मिलेगी काफी सहूलियत47वीं वाहिनी के द्वारा रक्सौल में 22 दिवसीय मोटर ड्राइविंग कोर्स का उद्घाटन, पीएम मोदी के स्वरोजगार बनाने के सपनों को करेगा साकार
राज्य
कर्नाटक में गठबंधन सरकार गंभीर संकट में, 11 विधायक इस्तीफ़ा देने स्पीकर के कार्यालय पहुंचे
By Deshwani | Publish Date: 6/7/2019 2:40:49 PM
कर्नाटक में गठबंधन सरकार गंभीर संकट में, 11 विधायक इस्तीफ़ा देने स्पीकर के कार्यालय पहुंचे

बेंगलुरु। जेडीएस-कांग्रेस गठबंधन के 11 विधायकों के विधानसभा अध्‍यक्ष रमेश कुमार को इस्तीफा सौंपने के लिए उनके कार्यालय पहुंचने के बाद गठबंधन सरकार गंभीर संकट में दिख रही है। इनमें आठ कांग्रेस और तीन जेडीएस के हैं। 

 
इस्‍तीफा देने पहुंचे विधायकों में रामलिंगा रेड्डी और उनकी पुत्री सौम्‍या रेड्डी, बीसी पाटिल का नाम भी है। लेकिन उनके यहां आने से कुछ मिनट पहले ही रमेश कुमार ने अपना कार्यालय छोड़ दिया था और वह शहर के जयदेवा अस्पताल जा चुके थे। इन विधायकों के फोन बंद हैं। 
 
इस संकट को देखते हुए कांग्रेस के संकटमोचक डीके शिवकुमार बेंगलुरु पहुंच गए हैं। इस बीच, कांग्रेस के कार्यकारी अध्‍यक्ष ईश्‍वर खंडरे विधायक रामलिंगा रेड्डी से मिले हैं। यह घटनाक्रम ऐसे समय में हुआ है जब मुख्‍यमंत्री एचडी कुमारस्‍वामी निजी यात्रा पर अमेरिका गए हुए हैं। जिनके इस्तीफे की उम्मीद जताई जा रही है उनमें रामलिंगा रेड्डी, एसटी सोमशेखर, सौम्या रेड्डी, शिवराम हेब्बार, ब्यराठी बसवराज, बीसी पाटिल, मुनिरत्ना, एच विश्वनाथ, सुब्बा रेड्डी, महेश कुमटल्ली, नारायण गौड़ा शामिल बताए जाते हैं। 
 
224 सदस्यों वाली कर्नाटक विधानसभा में बहुमत के लिए 113 विधायकों का समर्थन होना जरूरी है। अभी कांग्रेस-जेडीएस के कुल 116 और भाजपा के 105 सदस्य हैं। बसपा के एक विधायक का सरकार को समर्थन हासिल है। निर्दलीय विधायक आर शंकर और एच नागेश दोनों को हाल ही में मंत्री बनाया गया था।
 
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS