ब्रेकिंग न्यूज़
बिहार में मोतिहारी की आदापुर पुलिस ने पाच करोड़ की चरस के साथ पांच नेपाली नागरिक को पकड़ाजिला प्रशासन ने अंतरजातीय विवाह करने वाले 10 दंपत्तियों को बतौर प्रोत्साहन 7.75 लाख की राशि प्रदान कियादैवीय आपदा, बेघर और कच्चे घरों में रहने वाले गरीब परिवारों को मुख्यमंत्री आवास योजना के तहत निःशुल्क आवास उपलब्धदिनेशलाल यादव निरहुआ ने की बिहार में 500 थियेटर के साथ एजुकेशन को जोड़ने की पहलविभिन्न समस्याओं के समाधान की मांग को लेकर स्वच्छ रक्सौल संस्था द्वारा धरना आज तीसरा दिन भी जारी रहाशराब कारोबारी और पुलिस की कथित चूहा बिल्ली के खेल में हुई दुर्घटना में एक तेज रफ्तार होण्डा कार ने तीन लोगों को रौंदा, एक की मौतदूरदर्शन की मशहूर एंकर नीलम शर्मा का निधन, कैंसर से थीं पीड़ितकुशीनगर में एक व्यक्ति की गोली मारकर हत्या, क्षेत्र में फैली सनसनी
राज्य
फिल्म आर्टिकल-15 के विरोध में सिनेमाघरों पर हंगामा, रोक लगाने की मांग उठाई
By Deshwani | Publish Date: 28/6/2019 5:10:02 PM
फिल्म आर्टिकल-15 के विरोध में सिनेमाघरों पर हंगामा, रोक लगाने की मांग उठाई

कानपुर। बदांयू रेपकांड पर आधारित फिल्म आर्टिकल-15 आज जैसे ही सिनेमाघरों में रिलीज हुई, उसका जमकर विरोध शुरु हो गया। ब्राह्मण समाज के लोगों ने जनपद के सिनेमा घरों पर विरोध प्रदर्शन करते हुए बैनर-पोस्टर फाड़ दिये। इस दौरान कई सिनेमा घरों में फिल्म देखने पहुंचे लोगों की टिकटों का पैसा लौटाना पड़ा। प्रदर्शन व हंगामे को देखते हुए शहरभर की कई सिनेमा घरों पर पुलिस बल तैनात करते हुए फिल्म दिखाने पर रोक लगा दी गई है। 

 
अभिनेता आयुष्मान खुराना की फिल्म आर्टिकल-15 रिलीज होते ही विवादों के घेरे में आ गयी है। उत्तर प्रदेश के बदांयू रेपकांड पर आधारित फिल्म का विरोध करने ब्राह्मण समाज, हिन्दू संगठनों व सामाजिक लोगों द्वारा किया जाना लगा। शहर के गुरुदेव टाकीज में पहुंची भीड़ ने फिल्म के बैनर पोस्टर फाड़ते हुए तोड़फोड़ की। ब्राह्मण समाज के लोग बड़ा चौराहे पर स्थित जेड स्क्वायर मॉल पहुंचे, जंहा पर अंदर जाने को लेकर पुलिस कर्मियों से झड़प और धक्का मुक्की हो गयी। इस बीच विरोध बढ़ने पर विरोध करने आये भीड़ सिनेमा हॉल के बाहर गेट पर धरने के लिए बैठ गये। माल रोड स्थित सपना पैलेस में पहुंची भीड़ ने हंगामा काटते हुए फिल्म न दिखाये जाने की मांग करते हुए धरना दिया। 
 
ब्राह्मण समाज के अध्यक्ष नरेंद्र द्विवेदी का कहना है कि इस फिल्म के रिलीज होने से ब्राह्मण समाज की भावनायें आहत हो रही है। इसमें ब्राह्मण समाज को बिल्कुल गलत तरीके से दिखाया गया है। जब तक यह फिल्म रिलीज से नहीं रोकी जाती है तब तक यहां प्रदर्शन होगा। सिनेमा घरों पर फिल्म का विरोध व हंगामे के साथ बवाल की आशंका को लेकर सभी सिनेमाघरों में भारी पुलिस बल के साथ जिला प्रशासन के अफसर पहुंचे और विरोध करने वालों को शांत कराया। 
 
सिटी मजिस्ट्रेट रवि प्रकाश ने बताया कि हालात को देखते हुए शहर की सभी सिनेमाघरों में फिल्म को दिखाने पर रोक लगा दी गई है। टाकिजों में पुलिस बल तैनात कर दिया गया है। 
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS