ब्रेकिंग न्यूज़
रक्सौल के मुकेश कुमार को मिला ग्लोबल पीस अवार्डडीएफओ प्रभाकर झा ने भारत- नेपाल सीमा पर बने जांच चौकी का किया निरीक्षण, पेड़ों को लेकर दिए निर्देशहिन्दू जागरण मंच बेतिया ने वीर गौरव बब्लू बारी को दी श्रद्धाजंलि, उनके विस्मरणीय योगदानों को किया यादट्रैक्टर में बैठकर नगर विकास मंत्री के घर कूड़ा फेंकने जा रहे थे पप्पू यादव, पुलिस ने काटा चालानभारत-बांग्लादेश मैच में शामिल होने के लिए प्रधानमंत्री मोदी और हसीना को दिया गया न्योताकश्मीर देश का आंतरिक मुद्दा, इसे अंतरराष्ट्रीय क्यों बना रही है कांग्रेस: राजनाथ सिंहनिवेश के लिए भारत से अच्छी कोई जगह नहीं, सरकार सुधार लाने के लिए उठा रही कदम: वित्‍त मंत्री सीतारमणजन्मदिन: बेमिसाल अदाकारा और बहुमुखी प्रतिभा की धनी थी स्मिता पाटिल
राज्य
कुशीनगर का चढा़ पारा 43 डिग्री, गर्मी की मार जारी
By Deshwani | Publish Date: 16/6/2019 9:58:48 PM
कुशीनगर का चढा़ पारा 43 डिग्री, गर्मी की मार जारी

कुशीनगर। भानु तिवारी। जिले में मौसम कहर बरपा रहा है। इसकी बेरूखी से हाय तौबा मची है। पारा चढ़कर 43 डिग्री के पार पहुंचने से आम जनजीवन पर खासा प्रभाव पड़ रहा है। चिलचिलाती धूप से दोपहर में सड़कें सूनी हो जा रही हैं। मौसम को देखते हुए स्कूलों को खोलना ठीक नहीं है। पूरे दिन गुलजार रहने वाले हाट-बाजार में भीड़ नाम मात्र की दिख रही है। हर कोई अपना कार्य दोपहर की बजाय सुबह-शाम करने में जुट गया है। 

 
धूप की तीव्रता बढ़ जाने से बचाव के जतन किए जा रहे हैं। घर से बाहर खेलने पर पाबंदी लगा दी गई है। बच्चों व बुजुर्गों को घर से बाहर जाने पर पाबंदी लगाई दी गई है। धान के लिए मौसम प्रतिकूल है, लेकिन गन्ने के लिए आफत बना है। गन्ना फसल की सिचाई करने से किसान परेशान है। कोई उपाय नहीं सूझ रहा है। बकुलहा  निवासी प्रगतिशील किसान जोगिन्दर कहते हैं बीते वर्षों में जून माह के अंतिम  सप्ताह तक बर्षा होती थी लेकिन   इस बर्ष नहीं हुई। जिससे खेत में गन्ना सुख रहा है। सभी कोई परेशान है। आग उगलते मौसम से बचने के लिए स्कूली छात्राएं, महिलाएं, गृहणियां मुंह पर कपड़ा लपेटकर घर से बाहर निकल रही हैं। बाजार में छाता की बिक्री दो गुनी हो गई है। लेडीज छाता की मांग तेजी से बढ़ी है। कारोबारी गोदाम में रखे छाता को झाड़ पोछकर काउंटर पर लगाने लगे हैं।
 
इसी तरह पान बिक्रेता प्रदीप राय निवासी रविन्द्र नगर का कहना है कि इस बर्ष गर्म मौसम की तरह कभी भी मैंने अपने जीवन में नहीं देखा है।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS