ब्रेकिंग न्यूज़
बेतिया-चनपटिया सड़क मार्ग पर बस दुर्घटनाग्रस्त, दर्जनों यात्री घायलश्रीमद्भागवत कथा ज्ञान महायज्ञ के पहले दिन निकली गई भव्य कलश शोभा यात्रा, सैकड़ों महिला पुरुष हुए शामिलयूपी सुन्नी वक्फ बोर्ड के चैयरमैन को सुरक्षा मुहैया कराने का सुप्रीम कोर्ट ने दिया निर्देशभारतीय मूल के अभिजीत और उनकी पत्नी एस्थर डफ्लो को मिला वर्ष 2019 के लिए अर्थशास्त्र का नोबेल पुरस्कारछौड़ादानों से रक्सौल तक जर्जर नहर रोड का आखिरकार खुला टेंडर, जांच प्रक्रिया के बाद शुरू होगा कामडायरिया से बचाव को लेकर स्वास्थ्य विभाग अलर्ट, सीएस ने किया मेडिकल टीम का गठननागा रोड में हुआ डिजिटल सेवा केन्द्र का उदघाट्न, लोगों को मिलेगी काफी सहूलियत47वीं वाहिनी के द्वारा रक्सौल में 22 दिवसीय मोटर ड्राइविंग कोर्स का उद्घाटन, पीएम मोदी के स्वरोजगार बनाने के सपनों को करेगा साकार
राज्य
राजधानी एक्‍सप्रेस की चपेट में आने से 4 लोगों की मौत, कई यात्री घायल
By Deshwani | Publish Date: 10/6/2019 11:35:42 AM
राजधानी एक्‍सप्रेस की चपेट में आने से 4 लोगों की मौत, कई यात्री घायल

इटावा। इटावा के बलरई रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म पर आज सुबह खड़े अवध एक्सप्रेस के 4 यात्रियों की राजधानी एक्‍सप्रेस की चपेट में आने से मौत हो गई। इसके अलावा हादसे में 10 से अधिक लोग घायल हो गए। उन्‍हें इलाज के लिए सैफई और टूंडला के अस्‍पतालों में भर्ती कराया जा रहा है।

 
जानकारी के अनुसार अवध एक्सप्रेस ट्रेन मुजफ्फरपुर से बांद्रा टर्मिनल जा रही थी। बलरई स्टेशन के प्लेटफॉर्म पर अवध को लूप लाइन पर खड़ा करके कानपुर की ओर से दिल्ली जा रही राजधानी एक्सप्रेस ट्रेन को पास कराया जा रहा था। उधर गर्मी के चक्कर में अवध एक्सप्रेस ट्रेन के कई यात्री प्लेटफॉर्म व प्लेटफार्म के उलटी साइड में खड़े हो गए। तभी तेज रफ्तार से आई राजधानी की चपेट में उलटी साइड में खड़े यात्री आ गए। इससे 4 लोगों की मौके पर मौत हो गई जबकि कई घायल हो गए।
 
हादसे में मरने वाले यात्रियों की शिनाख्त हो गयी है चारों यात्री जीतू 21, सुरेन्द्र 20 लालचंद्र 21 और पिंटू 21 वर्ष जिला कौशाम्बी के रहने वाले है और चारों एक ही परिवार के है।
 
इस घटना के बाद से अफरातफरी मच गई। घायलों को सैफई और टूण्डला भेजा गया। वहीं रेलवे के आलाधिकारी मौके पर पहुंच रहे है। अब जांच के बाद ही सामने आयेगा कि क्या स्टेशन पर ट्रेन के आने की सूचना यात्रियों को नहीं दी गई। या फिर रेलवे प्रशासन की लापरवाही के साथ यात्री उल्टी दिशा में खड़े थे।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS