ब्रेकिंग न्यूज़
चीन से कच्चे माल की आपूर्ति में व्यवधान के संबंध में वित्त मंत्री ने उच्च स्तरीय बैठक बुलाईजम्मू-कश्मीर में पंचायत उपचुनाव सुरक्षा मुद्दों और क्षेत्रीय राजनीतिक दलों की अनिच्छा के कारण स्थगितअशरफ गनी अफगानिस्तान के नए राष्ट्रपति चुने गएबिहार के गया में कोरोना वायरस के एक संदिग्ध मरीज को देखरेख के लिए अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में कराया गया भर्तीऔरंगाबाद में रफीगंज-शिवगंज पथ पर तेज रफ्तार ट्रक ने ऑटो में मारी टक्कर, दो मासूमों सहित 10 लोगों की मौतनफरत को खत्म करने, संविधान को बचाने, एन आर सी, सी ए ए जैसे काले कानून के खिलाफ भारत के गंगा-जमुनी तहजीब का नमूना है शाहीन बाग: पप्पू यादवधार्मिक कार्यक्रम में जा रहे हजारों भारतीयों को नेपाल ने करोना वायरस की आशंका से गुरुवार की रात्रि रोका, वार्ता के बाद आज मिली एन्ट्रीपुलवामा हमले के शहीदों को राष्ट्रपति और प्रधानमंत्री ने दी श्रद्धांजलि
राज्य
प्रधानमंत्री मोदी ने दी ग्रामीण विकास को प्राथमिकता: योगी आदित्यनाथ
By Deshwani | Publish Date: 6/5/2019 4:26:49 PM
प्रधानमंत्री मोदी ने दी ग्रामीण विकास को प्राथमिकता: योगी आदित्यनाथ

गोरखपुर। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि भारत की आत्मा गांवों में बसती है। बिना गांव के विकास के भारत के समग्र विकास की कल्पना नहीं की जा सकती। इसके लिए ग्राम प्रधानों को लोकतंत्र की नींव का पत्थर बनना होगा। 

 
मुख्यमंत्री आज महानगर के रानीडीहा के इंद्रप्रस्थ लॉन में प्रधान सम्मेलन को संबोधित कर रहे ​थे। उन्होंने कहा कि ग्राम स्वराज और पंचायती राज व्यवस्था को प्रधानमंत्री मोदी ने देश में पहली बार ईमानदारी से लागू किया और महात्मा गांधी के सपने को धरातल पर उतारा। 2014 के पहले तक प्रधानों को सीमित निधि मिलती थी लेकिन अब 10000 की आबादी वाले गांव को भी कम से कम एक करोड़ रुपये प्रति वर्ष दिए जा रहे हैं। 
 
मुख्यमंत्री ने कहा कि हर ग्राम सभा आदर्श ग्राम सभा बन सकती है। कुछ ग्राम प्रधानों ने ऐसा करके दिखाया भी है। प्रधानमंत्री मोदी महात्मा गांधी के ग्राम स्वराज पूरी तरह से लागू कर रहे हैं। हर घर को शौचालय, हर सिर को छत, बिजली कनेक्शन और रसोई गैस देने जैसे बड़े-बड़े कार्य पिछले 5 सालों में धरातल पर उतरे हैं। ग्राम सभा को धुरी बनाकर विकास का कार्य करने का श्रेय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को ही है। अब इस विकास की धारा थमने नहीं देना है। 
 
उन्होंने कहा कि सरकार ने ग्राम पंचायतों को सीधे धन भेजकर भ्र्ष्टाचार पर प्रभावी अंकुश लगाया है। गांव में सरकारी और गैर सरकारी सभी प्रकार के लेनदेन डिजिटल माध्यम से हों, इसके लिए कॉमन सर्विस सेंटर और पब्लिक ऐड्रेस सेंटर बनाए जा रहे हैं। ग्राम पंचायतों की सभी छोटी-बड़ी समस्याओं का समाधान सुनिश्चित किया जा रहा है।  सम्मेलन में सिंचाई मंत्री धर्मपाल सिंह, विधायक विपिन सिंह, शीतल पांडेय आदि मौजूद रहे।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS