ब्रेकिंग न्यूज़
बेतिया-चनपटिया सड़क मार्ग पर बस दुर्घटनाग्रस्त, दर्जनों यात्री घायलश्रीमद्भागवत कथा ज्ञान महायज्ञ के पहले दिन निकली गई भव्य कलश शोभा यात्रा, सैकड़ों महिला पुरुष हुए शामिलयूपी सुन्नी वक्फ बोर्ड के चैयरमैन को सुरक्षा मुहैया कराने का सुप्रीम कोर्ट ने दिया निर्देशभारतीय मूल के अभिजीत और उनकी पत्नी एस्थर डफ्लो को मिला वर्ष 2019 के लिए अर्थशास्त्र का नोबेल पुरस्कारछौड़ादानों से रक्सौल तक जर्जर नहर रोड का आखिरकार खुला टेंडर, जांच प्रक्रिया के बाद शुरू होगा कामडायरिया से बचाव को लेकर स्वास्थ्य विभाग अलर्ट, सीएस ने किया मेडिकल टीम का गठननागा रोड में हुआ डिजिटल सेवा केन्द्र का उदघाट्न, लोगों को मिलेगी काफी सहूलियत47वीं वाहिनी के द्वारा रक्सौल में 22 दिवसीय मोटर ड्राइविंग कोर्स का उद्घाटन, पीएम मोदी के स्वरोजगार बनाने के सपनों को करेगा साकार
राज्य
प्रधानमंत्री मोदी ने दी ग्रामीण विकास को प्राथमिकता: योगी आदित्यनाथ
By Deshwani | Publish Date: 6/5/2019 4:26:49 PM
प्रधानमंत्री मोदी ने दी ग्रामीण विकास को प्राथमिकता: योगी आदित्यनाथ

गोरखपुर। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि भारत की आत्मा गांवों में बसती है। बिना गांव के विकास के भारत के समग्र विकास की कल्पना नहीं की जा सकती। इसके लिए ग्राम प्रधानों को लोकतंत्र की नींव का पत्थर बनना होगा। 

 
मुख्यमंत्री आज महानगर के रानीडीहा के इंद्रप्रस्थ लॉन में प्रधान सम्मेलन को संबोधित कर रहे ​थे। उन्होंने कहा कि ग्राम स्वराज और पंचायती राज व्यवस्था को प्रधानमंत्री मोदी ने देश में पहली बार ईमानदारी से लागू किया और महात्मा गांधी के सपने को धरातल पर उतारा। 2014 के पहले तक प्रधानों को सीमित निधि मिलती थी लेकिन अब 10000 की आबादी वाले गांव को भी कम से कम एक करोड़ रुपये प्रति वर्ष दिए जा रहे हैं। 
 
मुख्यमंत्री ने कहा कि हर ग्राम सभा आदर्श ग्राम सभा बन सकती है। कुछ ग्राम प्रधानों ने ऐसा करके दिखाया भी है। प्रधानमंत्री मोदी महात्मा गांधी के ग्राम स्वराज पूरी तरह से लागू कर रहे हैं। हर घर को शौचालय, हर सिर को छत, बिजली कनेक्शन और रसोई गैस देने जैसे बड़े-बड़े कार्य पिछले 5 सालों में धरातल पर उतरे हैं। ग्राम सभा को धुरी बनाकर विकास का कार्य करने का श्रेय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को ही है। अब इस विकास की धारा थमने नहीं देना है। 
 
उन्होंने कहा कि सरकार ने ग्राम पंचायतों को सीधे धन भेजकर भ्र्ष्टाचार पर प्रभावी अंकुश लगाया है। गांव में सरकारी और गैर सरकारी सभी प्रकार के लेनदेन डिजिटल माध्यम से हों, इसके लिए कॉमन सर्विस सेंटर और पब्लिक ऐड्रेस सेंटर बनाए जा रहे हैं। ग्राम पंचायतों की सभी छोटी-बड़ी समस्याओं का समाधान सुनिश्चित किया जा रहा है।  सम्मेलन में सिंचाई मंत्री धर्मपाल सिंह, विधायक विपिन सिंह, शीतल पांडेय आदि मौजूद रहे।
image
COPYRIGHT @ 2016 DESHWANI. ALL RIGHT RESERVED.DESIGN & DEVELOPED BY: 4C PLUS